फेमिना ने वर्किंग मिलेनियल मदर पर एक रिसर्च रिपोर्ट जारी की

नई दिल्ली, भारत में महिलाओं के प्रमुख ब्रांड को हमेशा से से लेडीज की सभी जरूरतों को पूरा करने के लिए फाइनल डेस्टिनेशन के रूप में जाना जाता है। विशेषज्ञों ने  भारतीय महिलाओं पर “ऑल अबाउट वीमन” शीर्षक से रिपोर्ट जारी की है जिसमें मिलेनियल मदर्स पर फोकस किया गया है। फेमिना द्वारा जारी की गई इस रिसर्च रिपोर्ट में आधुनिक कामकाजी माताओं की जिंदगी का गहराई से विश्लेषण किया गया है। रिपोर्ट में आधुनिक नौकरीपेशा माताओं के जीवन के कई पहलुओं, जैसे उपभोक्ता व्यवहार, जीवनशैली, आदतों, नया सामान खरीदने की ताकत और आपसी संबंधों समेत कई पक्षों की झलक पेश की गई है।

लीड कैंप वेंचर्स द्वार संचालित रिसर्च स्टडी और उसके नतीजे गहन मात्रात्मक और गुणात्मक शोध का नतीजा है। यह शोध कई महीनों तक देश के 10 बड़े शहरों या मेट्रो और छोटे शहरों में रहने वाली 1500 से ज्यादा शहरी महिलाओं पर किया गया। शोध के नतीजों ने भारतीय घरों में मातृत्व और अभिभावकों के बच्चों के पालन पोषण के बदलते तरीकों की झलक पेश की। इन विषयों को परिवार के प्रकार के आधार पर विभाजित किया गया। इसके बाद इन विषयों को कई अन्य तरीकों से वर्गीकृत किया गया। इस वर्गीकरण में कामकाजी और निजी जीवन में संतुलन बनाना, बच्चों को प्राथमिकता देना, पति–पत्नी के बीच संबंध, खुद की देखभाल और डिजिटल कॉन्टेंट की खपत जैसे विषयों को शामिल किया गया।

मिलेनियल वर्किंग मदर्स की जीवन शैली आधुनिक नौकरीपेशा कामकाजी महिलाओं की लाइफस्टाइल के दिलचस्प उदाहरण पेश करते हुए रिपोर्ट में खुद की देखभाल के प्रति महिलाओं की बढ़ती दिलचस्पी को भी उभारा गया है। रिपोर्ट में मुख्य रूप से यह बताया गया है कि टाइम की कमी, बिजी शेड्यूल और थकाने वाले डेली रूटीन के बावजूद इन महिलाओं ने स्वस्थ खान-पान की आदतों से कोई समझौता नहीं किया। रिपोर्ट के अनुसार कामकाजी माताएं अपने और अपने परिवार की सेहत के प्रति काफी जागरूक हैं। कामकाजी और निजी जीवन में संतुलन दफ्तर की जिंदगी और व्यक्तिगत जीवन में तालमेल के सवाल पर शोध में शामिल महिलाओं ने बताया कि वह अपने परिवार और सहयोगियों की सक्रिय मदद से नौकरीपेशा और निजी जिंदगी में संतुलन बनाने में कामयाब हो पाई हैं। बच्चे सबसे पहले हैं इसके अलावा मिलेनियल नौकरीपेशा माताओं के लिए उनके बच्चे पहली प्राथमिकता है। अपनी व्यस्तता में से समय निकालकर आधुनिक दौर के माता-पिता यह सुनिश्चित करते हैं कि कोई एक अभिभावक बच्चों की निगरानी के लिए उनके साथ हर समय मौजूद रहे।

वर्ल्ड वाइड मीडिया के सीईओ श्री दीपक लांबा ने ऑल अबाउट वीमन रिपोर्ट के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा, “फेमिना ने एक ब्रांड के तौर पर हमेशा से भारतीय महिलाओं की नब्ज पहचानी है। यह रिसर्च रिपोर्ट इसका एक और सबूत है। “ऑल अबाउट वीमन” ब्रांड के सफर में नया अध्याय है, जहां हमने महिलाओं की जिंदगी के कई पहलुओं का गहराई से विश्लेषण करते हुए ट्रेंड्स की भविष्यवाणी के साथ रिपोर्ट तैयार की है। रिपोर्ट को तैयार करने में आधुनिक कामकाजी महिलाओं की जिंदगी से जुड़ाव बढ़ाने का अनुकूल नजरिया अपनाया गया है।”

फेमिना की संपादक और चीफ कम्युनिटी ऑफीसर तान्या चैतन्य ने कहा, “60 वर्षों की समृद्ध विरासत के साथ फेमिना नामक महिलाओं की पत्रिका दशकों से अपने पाठकों को लीक से हटकर बोल्ड पाठ्य सामग्री देने के मामले में पथप्रदर्शक रही है। रिपोर्ट के नतीजों ने महिलाओं को पढ़ने के लिए दशकों से प्रदान की जा
रही पाठ्य सामग्री के चयन की हमारी रणनीति की पुष्टि की है और उसे सही ठहराया है। इस रिपोर्ट ने एक बार फिर यह साबित कर दिया है कि भारतीय महिलाओं को जितनी अच्छी तरह से हम जानते हैं, उतनी अच्छी तरह से कोई भी नहीं जानता।”

फेमिना के जनवरी के अंक में शोध के नतीजों का गहराई से विश्लेषण और आकलन किया जाएगा। इससे आधुनिक कामकाजी माताओं के लिए तैयार हमारी पाठ्य सामग्री की भी पुष्टि होगी। यह अंक महिलाओं की जरूरतों को समझते हुए उनकी आवश्यकता अनुसार पाठ्य सामग्री चुनने पर केंद्रित हमारी रणनीति पर भी
प्रकाश डालेगा।

वर्ल्‍डवाइड मीडिया के विषय में: 
वर्ल्‍डवाइड मीडिया भारत के सबसे बड़े मीडिया एवं एंटरटेनमेन्‍ट समूह, टाइम्‍स ग्रुप का एक अंग है और यह भारत की नंबर वन मनोरंजन मैग्‍जीन फिल्‍मफेयर का प्रकाशन करता है। भारत की सबसे बड़ी महिला मैग्‍जीन, फेमिना, बीबीसी टॉपगीयर, हैलो!, गुडहोम्‍स, ग्रेजिया, लोनली प्‍लैनेट मैग्‍जीन इंडिया, ट्रेंड्स और बीबीसी नॉलेज वर्ल्‍डवाइड मीडिया के अन्‍य आकर्षक टाइटल्‍स हैं।

फेमिना के विषय में
फेमिना का पहली बार प्रकाशन जुलाई 1959 में हुआ था और अब इसे 60 साल हो चुके हैं। फेमिना, भारत की पहली और सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली अंग्रेजी मैगजीन है। यह लंबे समय से आज के जमाने की महिलाओं के लिये स्पष्ट रूप से लाइफ और लाइफस्टाइल गाइड रही है। इसका स्वामित्व वर्ल्‍डवाइड मीडिया के पास है, जोकि टाइम्स ग्रुप की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी है। फेमिना का प्रकाशन पाक्षिक होता है, इसमें महिला अचीवर्स, रिश्तों, ब्यूटी और फैशन, ट्रैवल, खान-पान और हेल्थ व फिटनेस पर फीचर आर्टिकल्स होते हैं। हाल के वर्षों में, अन्‍य डिजिटल मार्गों सहित सभी प्रासंगिक सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म्‍स पर अपनी व्‍यापक पहुंच के माध्‍यम से, ब्रांड ने 4.3 मिलियन से अधिक पाठकों से जुड़ने में कामयाबी हासिल की है। फेमिना नाइका फेमिना ब्‍यूटी अवार्ड्स, फेमिना सुपर डॉटर अवार्ड्सऔर फेमिना स्‍टाइलिस्‍टा जैसे सबसे भागीदारी वाले आइपी का भी घर है। इसके अलावा, फेमिना ने देशभर में सौंदर्य पेशेवरों से जुड़ाव बनाने के लिए एक लक्षित दृष्टिकोण को अपनाया है और यह फेमिना सैलून एंड स्‍पा का प्रकाशन करती है।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com