Breaking News

फूलनदेवी हत्याकांड आरोपी व राजपूत महासभा पदाधिकारियों पर भीम आर्मी कार्यकर्ता की हत्या का केस दर्ज

सहारनपुर,  भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष कमल वालिया के भाई सचिन वालिया की गोली लगने से हुई मौत के मामले में पुलिस ने फूलनदेवी हत्याकांड के आरोपी सहित  राजपूत महासभा के पदाधिकारियों पर हत्या का केस दर्ज किया है। सचिन वालिया की मां की तहरीर पर पुलिस ने राजपूत महासभा के अध्यक्ष सहित चार को नामजद करते हुए कई अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है।

योगी के मंत्री ने मायावती के बयान का किया समर्थन, कहा बीजेपी आरक्षण खत्म कर रही है….

राहुल गांधी पर अटैक करने के चक्कर मे, प्रधानमंत्री मोदी ने खोल दी अपनी सरकार की पोल

मृतक सचिन वालिया की मां ने पुलिस को दी तहरीर में आरोप लगाया है कि कार्यक्रम में 400-500 लोग नारेबाजी करते हुए आ रहे थे। इन्हीं में से बाइक सवार कुछ युवकों ने उसके बेटे की रामनगर चौक पर गोली मारकर हत्या कर दी। कांति देवी ने राजपूत महासभा के पदाधिकारी और फूलनदेवी हत्याकांड के आरोपी शेर सिंह राणा, कान्हा राणा उर्फ दीपक रायपुर, नागेंद्र राणा और उपदेश राणा पर हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया। पुलिस ने चारों के खिलाफ हत्या व एससी-एसटी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

यूपी में पीसीएस अफसरों के हुए बंपर तबादले, देखें पूरी लिस्ट..

नहीं रहे मुलायम सिंह यादव के बचपन के दोस्त…..

 साथ ही एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह के अलावा महाराणा जयंती की अनुमति देने वाले अधिकारी को गिरफ्तार कर हत्या का मुकदमा दर्ज कराने की मांग की गई। शेर सिंह राणा,  कान्हा राणा दीपक रायपुर, नागेंद्र राणा और उपदेश राणा पर भड़काऊ भाषण देने और घटना को अंजाम देने का आरोप लगाया गया है। महाराणा प्रताप के नवनिर्मित भवन को सीज करने, मृतक के परिजनों को 50 लाख का मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की गई है।

लालू यादव अपने बेटे की शादी मे होंगे शामिल, पांच दिन की मिली पैरोल

AMU विवाद पर धर्मेंद्र यादव ने दिया ये बयान…

सूत्रों के अनुसार, भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष कमल वालिया के भाई सचिन वालिया की गोली लगने से हुई मौत के बाद, सहारनपुर के कमिश्नर चन्द्र प्रकाश त्रिपाठी की तरफ से यह कहने की जानकारी भीड़ के बीच पहुंची कि सचिन की मौत खुद तमंचा साफ करते हुए गोली लगने से हुई है, इसकी जांच की जा रही है। इससे दलित भड़क गए। इस दौरान डीएम-एसएसपी और दूसरे पुलिस वालों से उनकी नोक-झोंक हुई। कई बार धक्का-मुक्की के हालात बने। भीड़ ने इस दौरान रामनगर रोड पर जाम लगा दिया।

57 संगठन मोदी सरकार के खिलाफ चलाएंगे, ‘पोल खोल-हल्ला बोल’ अभियान

 SC-STअत्याचार निवारण अधिनियम क्या है ? आर्थिक सहायता का भी है प्राविधान..

इस वारदात के बाद,  कानून व्यवस्था को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस और सुरक्षा बलों को जिले में तैनात कर दिया गया है। सहारनपुर जिले की इंटरनेट सेवा को भी बंद कर दिया गया है।  साथ ही मैजिस्ट्रेट को प्रभावित क्षेत्र में गश्त लगाने को कहा गया है। अभी इलाके में तनाव के हालात हैं।

 57 संगठन मोदी सरकार के खिलाफ चलाएंगे, ‘पोल खोल-हल्ला बोल’ अभियान

 SC-STअत्याचार निवारण अधिनियम क्या है ? आर्थिक सहायता का भी है प्राविधान..

 शिवपाल यादव का बीजेपी पर बड़ा हमला-पिछड़ों व अनुसूचित जाति के लोगों संग हो रहा भेदभाव

यूपी चुनाव में बीजेपी ने उतारा उम्मीदवार, SINGH IS KING पर जताया विश्वास

सैफई मे श्रीकृष्ण की सबसे बड़ी मूर्ति का वीडियो ट्वीट कर, अखिलेश यादव ने दिया ये सामाजिक संदेश

कर्नाटक- ओपिनियन पोल मे इस पार्टी को लगा बड़ा झटका, जानिये कौन है जनता की पहली पसंद ?

लोकसभा  टिकट के लिये सपा-बसपा बनी पहली पसंद, बीजेपी नेता भी दौड़ मे शामिल

जिन्ना मुद्दे पर अखिलेश यादव का बड़ा बयान, युवाओं से की ये अहम अपील..

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com