Breaking News

यूपी के सरकारी कर्मचारियों और शिक्षकों के लिए बड़ी खुशखबरी….

लखनऊ ,चुनावी साल में सरकारी शिक्षकों और कर्मचारियों उत्तर प्रदेश सरकार ने ये बड़ा तोहफा दिया है । उत्तर प्रदेश सरकार ने आज सरकारी शिक्षकों और कर्मचारियों का आवास किराया भत्ता  और नगर प्रतिकर भत्ता  दोगुना करने का फैसला किया है।

योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री ने एनकाउंटर को लेकर किया बड़ा खुलासा….

मायावती ने पार्टी पदाधिकारियों को दिया अल्टीमेटम, BSP नेता को सभी पदों से हटाया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय को मंजूरी दे दी गयी। बढा हुआ एचआरए और सीसीए कर्मचारियों और शिक्षकों को एक जुलाई से देय होगा जिसका भुगतान अगस्त माह में मिलने वाले वेतन में किया जायेगा। मंत्रिमंडल की बैठक के बाद सूबे के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुये कहा कि बढे हुये वेतनमान का फायदा राज्य के आठ लाख 50 हजार सरकारी कर्मचारियों और साढे पांच लाख शिक्षकों के अलावा शिक्षणोत्तर कर्मचारियों को मिलेगा।

नहीं रहीं बॉलीवुड की ये मशहूर अदाकार…..

सरकार से नाराज पूर्व भारतीय हॉकी कप्तान की पत्‍नी ने उठाया ये बड़ा कदम

इस फैसले से सरकारी खजाने पर 2223 करोड रूपये का अतिरिक्त बोझ पडेगा हालांकि एक अगस्त 2016 को इन भत्तों में 20 फीसदी की बढत की गयी थी जिसमें 500 करोड रूपये का वित्तीय भार सरकार पर पडा था। इसके चलते अब सरकार को नये वेतन के लिये 1723 करोड रूपये की और व्यवस्था करनी पडेगी। उन्होने बताया कि आबादी के लिहाज से सूबे के विभिन्न क्षेत्रों को तीन श्रेणियों में बांटा गया है। पांच लाख से ऊपर की आबादी वाले क्लास ‘ए’ में 15 शहर आते है जिनमें फैजाबाद को हाल ही मे शामिल किया गया है जबकि 50 हजार से पांच लाख की आबादी में 121 नगर और ग्रामीण क्षेत्र है और 50 हजार से कम आबादी वाले क्षेत्रों में ग्रामीण क्षेत्रों को भी शामिल किया गया है।

देश के मान्यता प्राप्त पत्रकारों को मोदी सरकार दे सकतेी है ये तोहफा

सैकड़ों किसानों की आत्महत्या पर, मोदी और बीजेपी की राज्य सरकारों को नोटिस

एचआरए का निर्धारिण इन्ही तीन श्रेणियों के आधार पर किया गया है। श्री अग्रवाल ने बताया कि नगर प्रतिकर भत्ता यानी सीसीए आबादी के अनुसार 2008 में फिक्स किया गया था जिसकी अव्वल वर्ग में  कानपुर,लखनऊ,नोयडा है जबकि दूसरे वर्ग में वाराणसी,मेरठ,आगरा और इलाहाबाद, तीसरे में बरेली, गाजियाबाद,मुरादाबाद,गोरखपुर और अलीगढ है। वर्ग चार में एक लाख से कम आबादी वाले सभी नगरीय क्षेत्र है।

अखिलेश यादव ने पीएम मोदी पर कसा बड़ा तंज, लाेकसभा चुनाव को लेकर किया आगाह ?

दलित युवा चेतना साईकिल यात्रा का अखिलेश ने किया सम्मान, कहा- इन सवालों पर क्यों चुप है बीजेपी

उदाहरण के तौर पर लखनऊ में 340 से लेकर 900 रूपये के बीच सीसीए का निर्धारिण किया गया है। 1800 ग्रेड वाले लेबल वन में 340 रूपये और लेबल नौ आैर अधिक में 900 रूपये सीसीए दिया जायेगा। इससे सरकार पर 175 करोड रूपये का वित्तीय भार पडेगा। उन्होने बताया कि मंगलवार को मंत्रिमंडल की बैठक में इन दो प्रस्तावों समेत कुल नौ प्रस्तावाें फैसले पर मुहर लगी है।

लोकसभा चुनावों को लेकर, मायावती का बड़ा कदम , इस क्षेत्र मे भी बीजेपी को देंगी टक्कर

कांग्रेस को मुस्लिम पार्टी कहने पर, सामने आये अखिलेश यादव, पीएम मोदी को दिया ये जवाब

जानिये क्यों गूंजा बसपा सम्मेलन में “मिले मुलायम-कांशीराम, हवा मे उड़ गये जय श्रीराम” का नारा ?

पैसा फेंको-डाक्टर बनो : जीरो नंबर पाने वाले सैकड़ों छात्रों को, एमबीबीएस में मिला दाखिला

सपा-बसपा गठबंधन पर लगी मुहर, कार्यकर्ता सम्मेलन में बसपा जारी किए ये निर्देश….

पीएम मोदी द्वारा मेडिकल कालेज का शिलान्यास हुआ विवादित, अखिलेश यादव ने बताया जनता से छलावा

सपा की ‘फायर ब्रांड नेता’ के इस सवाल का, बीजेपी सरकार के पास नही है जवाब

बसपा में बदलाव, कई पदाधिकारियों पर गिरी गाज, तो पुराने कार्यकर्ताओं को मिली अहम जिम्मेदारी

केंद्रीय मंत्री इंद्रजीत राव ने बीजेपी आलाकमान को दिखायी ताकत, कहा-जना

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com