Breaking News

मुख्य चुनाव अधिकारी को न हटाने से नाराज जनता के आगे, बेबस हुये मुख्यमंत्री

एजल,  मिजोरम की स्थानीय जनता की मुख्य चुनाव अधिकारी एस बी शशांक को लगातार हटाने मांग नित दिन नया मोड़ ले रही है और इससे नाराज भीड़ ने मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष लल थनहवला को उनके गढ़ सेरछिप विधानसभा क्षेत्र से नामांकन पत्र दाखिल नहीं करने दिया।

मुलायम सिंह ने दीपावली पर, भाई शिवपाल सिंह को दिया, ये खास तोहफा

अब इलेक्ट्रिक साइकिल का लीजिये आनंद, जानिये इसके खास फीचर्स

सूत्रों के अनुसार यह घटना मंगलवार उस समय हुई जब  लल थनहवला अपना नामांकन पत्र भरने के लिए अपने निर्वाचन क्षेत्र सेरछिप पहुंचे।मुख्यमंत्री के पहुंचने की सूचना मिलते ही स्थल पर भारी भीड़ एकत्रित हो गयी और पहले सीईओ शशांक को कार्यालय और राज्य से बाहर निकालने की मांग करने लगे। तभी मुख्यमंत्री नामांकन पत्र दाखिल कर सकेंगे।

प्रियंका चोपड़ा की शादी का जश्न शुरू, बैचलरेट पार्टी के बाद पजामा पार्टी और…

मायावती ने जनता की खुशहाली के लिये, सरकार को दी ये खास सलाह

सूत्रों के अनुसार नाम न छापने की शर्त पर बताया “यह जनता की मांग है और मुख्यमंत्री ने इसका सम्मान किया। मुख्यमंत्री को कोई दिक्कत नहीं हुई और न ही कोई सुरक्षा का खतरा था।”मिजोरम की राजनीति में श्री लल थनहवला का बड़ा नाम है। वह 2008 से 2018 के बीच और इससे पहले 1988 से 1998 तक मुख्यमंत्री रहे हैं। वह सेरछिप और चाम्फई दक्षिण दो निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं।

अटल इकाना स्टेडियम में हुआ जोरदार धमाका, बाल-बाल बचे ये बड़े खिलाड़ी

‘नवाबों के शहर’ में, टीम इंडिया ने अपने फैंस को दिया, दिवाली गिफ्ट

सूत्रों ने बताया मुख्यमंत्री इस बीच म्यांमार सीमा से सटे चाम्फई दक्षिण निर्वाक्षेत्र पहुंच गये हैं।इस बीच यंग मिजो एसोसिएशन (वाईएमए) के कार्यकर्ताओं ने बुधवार सुबह ट्रेजरी स्वायर पर सीईओ कार्यालय के सामने फिर से धरने पर बैठ गये है। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि श्री शशांक को सीईओ पद से हटाया जाये और जल्द से जल्द राज्य से बाहर का रास्ता दिखाया जाये। सीईओ की शिकायत के बाद चुनाव आयोग ने प्रमुख सचिव (गृह) – का स्थानांतरण कर दिया गया। जिसके बाद स्थानीय मिजोरम अधिकारी और एनजीओ ने शशांक को उनके पद से हटाने और मिजोरम से बाहर भेजने की मांग की।

नोटबंदी के बाद वापस आये नोटों को लेकर, भारतीय रिजर्व बैंक ने किया बड़ा खुलासा ?

लोकसभा चुनाव में बीएसपी से गठबंधन को लेकर, अखिलेश यादव ने किया बड़ा एेलान

मंगलवार को मिजो छात्रों, एनजीओ के कार्यकताओं और मिजोरम की जनता सड़कों पर उतर आयी और उन्होंने यहां सीईओ कार्यालय को घेराव किया।प्रदर्शनकारियों ने अपराह्न में हड़ताल वापस ले ली और चुनाव आयोग द्वारा भेजे गये प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाकात करने के लिए सहमत हो गये।सूत्रों के अनुसार शशांक चुनाव आयोग के साथ बैठक के लिए नयी दिल्ली जा सकते है और चुनाव आयोग के समक्ष अपना मामला उठा सकते हैं।

भारतीय स्टेट बैंक के साथ, सैकड़ों करोड़ की धोखाधड़ी मे, नौ अभियुक्त बरी

उपचुनावों ने बीजेपी को दिखाया खतरे का सिगनल, कांग्रेस-जेडीएस की शानदार जीत

न्यूज चैनल के कैमरामैन पर, फिर हुआ हमला, नक्सलवादियों के बाद अब इन्होने किया हमला

रेलवे की नई सुविधा , WhatsApp पर भी पता कर सकेगें ट्रेन का लाइव स्टेटस, ऐसे चेक करें

बाबा रामदेव ने लांच किया पतंजलि के कपड़े…..

इस अस्पताल के आईसीयू में भर्ती नाबालिग लड़की के साथ स्टाफ ने किया गैंगरेप

मोदी सरकार का दिवाली गिफ्ट,सिर्फ 20 व 2 रुपए में गैस कनेक्शन और रीफिल…

अखिलेश यादव की सपा नेताओं के साथ बड़ी बैठक, लोकसभा चुनावों को लेकर दिया खास संदेश

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com