Breaking News

BJP के पूर्व विधायक के बेटे की दबंगई, दारोगा पर तान दी पिस्तौल

बाराबंकी, एक तरफ जहां योगी सरकार प्रदेश में बदमाशों का एनकाउंटर कर सुशासन लाना चाहती है. वहीं पार्टी के ही लोग अपनी दबंगई से कानून प्रशासन को डरा-धमका रहे हैं.आलम यह है कि खुद पुलिस वाले कहने लगे हैं कि नौकरी करना बहुत मुश्किल हो गया है.  ताजा मामला हैदरगढ़ थाना क्षेत्र का है,जहां एक बीजेपी नेता ने पुलिसवाले के साथ न सिर्फ अभद्रता की बल्कि उसके ऊपर पिस्तौल भी तान दी.

हाईकोर्ट का दलितों के खिलाफ एक और आदेश

सपा के इस काम से शिवपाल यादव हुए गदगद , दिया ये बड़ा बयान….

उत्तर प्रदेश में  बाराबंकी के हैदरगढ़ विधानसभा क्षेत्र से जुड़ा है. जहां बीजेपी के पूर्व विधायक सुंदर लाल दीक्षित के बेटे पंकज दीक्षित की दबंगई से पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है. पंकज दीक्षित पर आरोप है कि उन्होंने किसी दूसरे की जमीन पर कब्जा कराने के लिए सत्ता के बल पर एसआई शीतला प्रसाद मिश्रा पर रिवॉल्वर तानकर उन्हें धमकाने का काम किया है.

स्वामी प्रसाद मौर्य ने उपचुनाव में मिली हार के बाद, बीजेपी को लेकर दिया ये बड़ा बयान

उपचुनाव में हार के बाद बीजेपी में मचा हड़कंप, BJP विधायक ने खोला अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा

बीजेपी के पूर्व विधायक सुंदरलाल दीक्षित के बेटे पंकज दीक्षित से जब बात की गई तो उन्होंने दारोगा पर रिवाल्वर तानने की बात से साफ इनकार किया. पंकज दीक्षित ने सत्ता की धौंस दिखाते हुए कहा कि मैं बीजेपी का नगर अध्यक्ष हूं. मेरी एक आवाज पर सैकड़ों कार्यकर्ता आकर खड़े हो जाएंगे. मैं छोटे से काम के लिए दारोगा पर रिवाल्वर क्यों तानूंगा. पंकज दीक्षित ने सारा आरोप दारोगा शीतला प्रसाद मिश्रा पर मढ़ दिया. उन्होंने कहा कि शीतला प्रसाद मिश्रा ने दूसरे पक्ष से रुपए लेकर एक तरफा कार्रवाई की है. इसलिए हमने उनके खिलाफ आवाज उठाई है. मेरे ऊपर लगाए गए सारे आरोप गलत हैं.

यूपी मे तबादला नीति पर हाईकोर्ट के विशेष निर्देश

योगी सरकार ने आईपीएस और पीपीएस अफसरों के किये बंपर तबादले

वहीं इस पूरे मामले पर एसआई शीतला प्रसाद मिश्रा का कहना है कि हैदरगढ़ थाना क्षेत्र के दौलतपुर गांव के एक निवासी ने तहरीर दी थी कि उसकी जमीन पर जबरन कब्जा किया जा रहा है. इसकी जांच के लिए वह मौके पर गए थे। जब वह वहां पहुंचा तो वहां बीजेपी के पूर्व विधायक सुंदरलाल दीक्षित के बेटे पंकज दीक्षित पहले से मौजूद थे. पंकज दीक्षित खुद बैठकर दूसरे की जमीन पर निर्माण कार्य करा रहे थे. जब मैंने वहां पर निर्माण कार्य को रुकवाने के लिए कहा तो उस मकान मालिक ने मेरे ऊपर मारपीट का फर्जी आरोप लगाकर नाटक शुरू कर दिया. जिसके बाद वह हैदरगढ़ सीएससी में भर्ती हो गया. पंकज दीक्षित ने उस शख्स को हैदरगढ़ सीएचसी से बाराबंकी जिला अस्पताल रेफर करा दिया.

उत्तर प्रदेश मे आईएएस अफसरों के हुये तबादले, ये हुये राज्यपाल के प्रमुख सचिव

जो खेल बीजेपी हमारे साथ खेलती थी, वहीं अब हम खेल रहे हैं – अखिलेश यादव

एसआई शीतला प्रसाद मिश्रा ने आरोप लगाया कि जब मैं इस पूरे मामले की जानकारी सीओ हैदरगढ़ को देने गया तो पंकज दीक्षित ने वहां पहुंचकर मेरे साथ अभद्रता की और मेरे ऊपर पिस्तौल तान दी. जिसके बाद सीओ हैदरगढ़ ने मामले में बीच बचाव किया. शीतल प्रसाद मिश्रा ने बताया कि उसने इस पूरे मामले की जानकारी सीओ हैदरगढ़ के साथ-साथ बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक वी पी श्रीवास्तव को भी दी है. एसआई ने अपना दर्द बयां करते हुए बताया कि पुलिस विभाग में लगभग 28 साल की मेरी नौकरी हो चुकी है, लेकिन इन लोगों की वजह से अब नौकरी करना मुश्किल हो रहा है. हर मामले की तफ्तीश में यह लोग हमेशा दबाव बनाते हैं जिससे पुलिसिया कार्रवाई प्रभावित होती है और पीड़ित को इंसाफ नहीं मिल पाता है.

नीतीश को लगा बड़ा झटका, लालू यादव की हुई जीत…

जयंत चौधरी ने कहा, कैराना में जिन्ना पर भारी पड़ा गन्ना

उपचुनाव के परिणामों के बाद, अखिलेश यादव का आया ये बयान

यूपी उपचुनाव के नतीजे घोषित,पलट गई बाजी……

यूपी में हुए अधिकारियों के बंपर तबादले, देखें पूरी लिस्ट

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com