Breaking News

न्यायपालिका में आरक्षण के लिए अब ” हल्ला बोल- दरवाजा खोल” आंदोलन

नई दिल्ली, न्यायापालिका में दलितों- पिछड़ों  के प्रतिनिधित्व के लिये अब 20 मई से ” हल्ला बोल- दरवाजा खोल” आंदोलन की शुरूआत होने जा रही है. इस आंदोलन को कई राजनीतिक दलों का समर्थन मिल रहा है.

बीजेपी नेता के कहने पर लड़की ने लगाया विधायक पर रेप का आरोप

बसपा उतरी मैदान में ,खोलेगी बीजेपी के दलित विरोधी कार्यों की पोल…..

न्यायापालिका में दलितों- पिछड़ों का प्रतिनिधित्व नहीं है. जिसके कारण सुप्रीमकोर्ट या हाईकोर्ट के फैसलों से एसटी-एसटी और ओबीसी के हित प्रभावित हो रहें हैं. हाल ही मे सुप्रीम कोर्ट ने एसटी-एसटी उत्पीड़न कानून को हल्का कर शिकायत पर गिरफ्तारी से रोक लगा दी है. 2 अप्रैल को इसके विरोध मे भारत बंद के बावजूद सुप्रीम कोर्ट का निर्णय जस का तस है.

अखिलेश यादव ने सपा कार्यकर्ताओं से की ये अहम अपील….

अखिलेश यादव ने कहा योगी वापस आए, नहीं तो अपना मठ वहीं बना लें…..

केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री उपेंद्र कुशवाहा का कहना है कि हाल के दिनों में न्यायपालिका के निर्णय से एसटी-एसटी और ओबीसी के हित प्रभावित हुए हैं और इसका सबसे बड़ा कारण है कि इस तबके के लोग न्यायापालिका में नहीं है. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि अगर न्यायापालिका में अब भी  दलितों- पिछड़ों को प्रतिनिधित्व नहीं मिला तो आगे भी इसी तरह के फैसले होते रहेंगे. इसलिए हमने हल्ला बोल और दरवाजा खोल का नारा दिया है.

एससी-एसटी और ओबीसी के इतने आरक्षित पद पड़ें हैं खाली ? सरकार को नही है चिंता ?

85 प्रतिशत एससी एसटी उत्पीड़न की शिकायतें सही, पर सुप्रीम कोर्ट चूक मानने को तैयार नही

उन्होंने  कहा कि आज देश में पिछड़े-अति पिछड़े और दलित की संख्या अस्सी प्रतिशत से ज्यादा है लेकिन अदालत ने आरक्षण को पचास प्रतिशत पर बांध दिया है और ये इसलिए हो रहा है कि सुप्रीमकोर्ट या हाईकोर्ट में पिछड़ों-अति पिछड़े ओबीसी या दलितों का प्रतिनिधित्व नहीं है.  इसीलिये  20 मई से हल्ला बोल-दरवाजा खोल की शुरूआत हो रही है. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि देश में संविधान के अनुसार जो आरक्षण की व्यवस्था है वो पूरी तरह से लागू होनी चाहिए.

 तुरंत बदलें अपने ट्विटर एकाउंट का पासवर्ड, सॉफ्टवेयर में मिला बग

 वरिष्ठ पत्रकार उपेंद्र राय को सीबीआई ने किया गिरफ्तार

समाजवादी पार्टी बड़े परिवर्तन की ओर, अखिलेश- शिवपाल मिलकर लिखेंगे सफलता की नई ईबारत

जिन्ना की तस्वीर की खिलाफत कर रहे लोग, गोडसे के मंदिरों का भी विरोध करें – जावेद अख्तर

भाजपा सरकार मे किसान के पास आत्महत्या करने के अलावा दूसरा विकल्प नहीं-समाजवादी पार्टी

इंटरनेट पर खेसारीलाल यादव ने मचाया धमाल, एक दिन में बना डाले ये रिकार्ड….

लोकसभा चुनाव को लेकर, क्यों हैं मुलायम सिंह यादव इतने निश्चिंत ?

पिछड़ा, दलित और मुस्लिम गठजोड़, उपचुनाव मे तोड़ सकता है पुराने रिकार्ड

समाजवादी पार्टी की नई कार्यकारिणी में, तीनों उपाध्यक्ष बदले गये

 संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर करने के पीछे, बीजेपी के इरादे खतरनाक-अखिलेश यादव

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com