Breaking News

मुख्यमंत्री और एक अखबार को कैसे मालूम, अदालत में क्या होने वाला ?-अखिलेश यादव

लखनऊ,  समाजवादी पार्टी  के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा कथित रूप से अयोध्या मामले में
बहुत जल्द ‘बड़ी खुशखबरी’ मिलने के दावे पर रविवार को सवाल उठाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को कैसे मालूम है कि अदालत में क्या होने
वाला है?
अखिलेश यादव  ने आज  रमाकांत यादव और उनके साथियों का पार्टी में शामिल करने हेतु आयोजित संवाददाता सम्मेलन में एक सवाल पर
कहा कि मुख्यमंत्री योगी अयोध्या मामले में जल्द ही बड़ी खुशखबरी मिलने की बात कर रहे हैं।
आखिर उन्हें कैसे पता है कि क्या होने वाला है?
उन्होंने कहा, ”भाजपा संविधान और देश के कानून पर कम भरोसा करती है।
हमने हमेशा यही कहा कि अदालत जो फैसला लेगी उसे पूरा देश मानेगा।
सवाल यह है कि एक अखबार को कैसे वो चीजें पता हैं?
मुख्यमंत्री को कैसे पता है कि क्या होने वाला है?”
मुख्यमंत्री योगी ने ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ जी महाराज की स्मृति में गोरखपुर के चम्पादेवी पार्क, तारामंडल में आयोजित रामकथा की
शनिवार को शुरुआत करते हुए राम मंदिर मुद्दे की तरफ इशारा करते हुए कोई नाम लिए बिना कहा था कि बहुत जल्द ‘बड़ी खुशखबरी’
मिलने वाली है।
 पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘अभी देखिये क्या—क्या होगा। दलितों को नौकरी और रोजगार के मौकों से दूर कर दिया जाएगा।’’
पूर्व मुख्यमंत्री ने महात्मा गांधी की 150वीं जयन्ती पर आयोजित विधानमण्डल के 36 घंटे के अनवरत सत्र पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि
सरकार ने इस दौरान सदन में विभिन्न विकास परियोजनाओं को लेकर तमाम झूठ बोले हैं।
उन्होंने कहा कि आज आलम यह है कि नीति आयोग की रैंकिंग के मुताबिक उत्तर प्रदेश शिक्षा के क्षेत्र में सबसे नीचे और कुपोषण के मामले में
नम्बर एक पर पहुंच गया है।

उन्होंने कहा कि बीजेपी ने यूपी से लेकर महाराष्ट्र में दूसरी पार्टी से नेता लाकर अपनी पार्टी मजबूत की।

अकेले बीजेपी चुनाव नहीं जीत सकती थी।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रमाकांत यादव और उनके साथियों का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि इससे दल को और मजबूती मिलेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘सपा की यह जो ताकत बढ़ रही है उससे भरोसा हो रहा है कि वर्ष 2022 (उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव) में आप सबका

सहयोग मिलेगा तो भाजपा को हटाने में हम जरूर कामयाब होंगे।’’

अखिलेश ने कहा, ‘‘बीच में कुछ कारणों से दूरियां बनी थी, लेकिन अब कोई दूरी नहीं रहेगी।

आने वाले समय में हम लोग मिलकर काम करेंगे।’’

करीब 15 साल बाद सपा में वापसी कर रहे रमाकांत यादव ने कहा, ‘‘आज जो देश के हालात हैं,

उनमें देश का नौजवान, किसान और मजदूर एक आशा भरी निगाह से सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की तरफ देख रहा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं विश्वास दिलाता हूं कि एक सिपाही के रूप में आप जहां कहेंगे, वहां मैं खड़ा रहूंगा।’’

पूर्व सांसद रमाकांत यादव रविवार को अपने समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल हो गये।

चार बार सांसद रह चुके रमाकांत सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए।

इस मौके पर बसपा के पूर्व विधान परिषद सदस्य अतहर खां और पूर्व सांसद फूलन देवी की बहन रुक्मणी देवी निषाद भी सपा में शामिल हुई।

 

Spread the love
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com