Breaking News

इमरान खान ने एेसा क्या किया जो उन्हे मांगनी पड़ी माफी…

इस्लामाबाद,  पाकिस्तान के अगले संभावित प्रधानमंत्री इमरान खान ने चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के मामले में आज निर्वाचन आयोग से लिखित में माफी मांग ली और साथ ही एक हलफनामा भी दाखिल किया।

विधायक ने कहा दलित हूँ इसलिए नहीं हो रही सुनवाई, अगर सवर्ण जाति का होता तो सरकार सुनती…

खुशखबरी, अब ड्राइविंग लाइसेंस और गाड़ी के पेपर रखने की कोई जरूरत नहीं

इमरान खान पर आरोप है कि उन्होंने 25 जुलाई को आम चुनाव के दौरान अपना वोट डालते समय आचार संहिता का उल्लंघन किया था। मीडिया रिपोर्टो में यह जानकारी दी गयी है। पाकिस्तान निर्वाचन आयोग ने इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है।जियो न्यूज ने यह जानकारी दी है। आयोग ने पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ पार्टी के प्रमुख से आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर लिखित में माफी मांगने को कहा था।

लालू यादव को हाईकोर्ट से मिली बड़ी राहत….

शिवपाल सिंह ने की सीएम योगी से मुलाकात,जानिए क्यों…

मुख्य निर्वाचन आयुक्त सरदार मुहम्मद रजा की अध्यक्षता में हुई चार सदस्यीय पीठ की सुनवाई के दौरान इमरान खान ने लिखित माफी तथा हलफनामा दायर किया। आयोग ने कल इमरान खान के वकील बाबर ऐवान द्वारा दाखिल जवाब को स्वीकार करने से इंकार कर दिया था। बाबर ऐवान ने कहा था कि उनके मुवक्किल ने जानबूझकर अपने मतपत्र पर सार्वजनिक रूप से मोहर नहीं लगायी थी।

शिवपाल सिंह यादव कि आज इस पद से भी होगी छुट्टी

दलित मुद्दों पर रामगोपाल यादव ने न्यायपालिका को खींचा, कहा-तीसरे सदन के तौर पर काम कर रहा सुप्रीम कोर्ट

ऐवान ने साथ ही कहा था कि इस विवाद को अब खत्म किया जाए। उन्होंने आयोग से अपील की थी कि वह इमरान खान को एनए 53 इस्लामाबाद निर्वाचन क्षेत्र से विजयी घोषित करे । एनए-53 इस्लामाबाद संसदीय क्षेत्र में सार्वजनिक तौर पर मतपत्र पर स्टांपिंग करते हुए पाए जाने के बाद पाकिस्तान चुनाव आयोग (ईसीपी) ने इसका स्वत: संज्ञान लिया था। इसके बाद मुख्य चुनाव आयुक्त की अध्यक्षता वाली चार सदस्यीय पीठ ने खान के खिलाफ मामले की सुनवाई की।

अब अन्‍य पिछड़ा वर्ग को बांटने की मोदी सरकार की तैयारी शुरू, आयोग का कार्यकाल बढ़ा

खेतों के बजाय सड़कों पर किसान व खेत मजदूर, जानिये क्यों ?

ऐवान ने कल आयोग को लिखित जवाब देते हुए कहा था कि उनके मुवक्किल ने जानबूझकर सार्वजनिक तौर पर मतदान नहीं किया।
जवाब के मुताबिक इमरान के मतपत्र के फोटो उनकी अनुमति के बगैर लिए गए। गोपनयीता बरतने के लिए वोट डालने वाले स्थान के आसपास लगाए गए पर्दे मतदान केंद्र के अंदर भीड़ के कारण गिर गए थे ।

बीजेपी सरकार पर बरसे जिग्नेश मेवानी, मायावती को बहन बता, दलित-एकता का दिया ये महामंत्र

अब शुरू होगी अखिलेश यादव की साईकिल यात्रा, जानिये कौन दिखायेगा हरी झंडी

द न्यूज के मुताबिक अवान ने पीठ को बताया, ‘‘भीड़ के कारण मतदान केंद्र पर डिवाइडर को हटा दिया गया था ।’’ खान ने जब कर्मचारियों से निर्देश बताने के लिए कहा तो उन्हें बताया गया कि कैसे वोट डालें। इमरान (65) ने एनए-53 इस्लामाबाद संसदीय सीट से पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के नेता शाहिद खाकान अब्बासी को 48,577 मतों से पराजित किया था।

पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण, ये बड़ा नेता बसपा से निष्कासित

अखिलेश यादव के लिए अमर सिंह का खास संदेश…

मोदी सरकार ने दिया तीन तलाक पर बड़ा फैसला……

रामगोपाल यादव कहा ने, आप कभी नाराज न होना,भले सदस्य नाराज हो जाये…..

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com