Breaking News

युवा कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए साक्षात्कार की प्रक्रिया पूरी, किसको मिलेगी कमान?

नयी दिल्ली, कांग्रेस में विभिन्न अनुषांगिक संगठनों का नेतृत्व बदलने की कवायद के तहत युवा कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए पार्टी नेतृत्व ने साक्षात्कार की प्रक्रिया पूरी कर ली है। हालाँकि इस बीच आईवाईसी के पदाधिकारियों ने विधानसभा चुनाव एवं अन्य परिस्थितियों का हवाला देते हुए मौजूदा अध्यक्ष अमरिंदर राजा बरार की जगह नयी तैनाती नहीं करने की मांग भी की है।

देश मे अघोषित नोटबंदी, एटीएम हुये खाली, एफआरडीआई बिल का खौफ छाया

तेज प्रताप यादव ने दलित बच्चों संग मनाया जन्मदिन, बाबा साहेब को किया नमन

पार्टी सूत्रों के अनुसार गत 14 अप्रैल को आईवाईसी के अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल उम्मीदवारों के साक्षात्कार की प्रक्रिया पूरी हो गई। सूत्रों के मुताबिक़ आईवाईसी अध्यक्ष पद के लिए गांधी के साथ 14 युवा नेताओं का साक्षात्कार हुआ है। इस दौड़ में सिर्फ़ दो युवा महिला नेता (प्रतिभा रघुवंशी और इन्द्राणी मिश्रा) शामिल हो पायीं। पुरुष चेहरों में राजस्थान युवा इकाई के अध्यक्ष अशोक चाँदना और आंध्र प्रदेश से सी वी चंद रेड्डी का नाम शामिल है।

वहीं दूसरी ओर पार्टी ने उन मीडिया रिपोर्टों का भी खंडन किया है जिनमें नयी तैनाती से युवा इकाई में असंतोष उपजने और राजा बरार से इस्तीफ़ा लेने की बात कही गई है। आईवाईसी के प्रभारी कृष्णा अल्वारू ने आज ट्वीट कर बताया कि राजा से इस्तीफा लेने की बात गलत है। हालांकि अल्वारु ने यह भी कहा कि बरार नयी नियुक्ति तक अपने पद पर रहेंगे।

दलित का घोड़ी पर बारात निकालना नही हुआ बर्दाश्त, दूल्हे और बारात का किया ये हाल..

MLC चुनाव के लिए सपा उम्मीदवार ने किया नामांकन

इस दौरान नियुक्ति प्रक्रिया का हवाला देते हुए आईवाईसी के सचिव आबिद कश्मीरी ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिख कर फिलहाल इस प्रक्रिया को लंबित रखने की मांग की है। कश्मीरी ने आईवाईसी के मौजूदा पदाधिकारियों में इस बात से चिंता होने की दलील देते हुए कहा है कि मोदी सरकार के खिलाफ देश भर में उपजी नाराजगी को देखते हुए पार्टी को अभी सड़क पर उतरने की तात्कालिक जरूरत है।

भ्रष्टाचारियों से लड़ने के लिए शिवपाल यादव ने बनाई नई टीम

शिवपाल यादव ने गेस्ट हाउस कांड को लेकर किया चौकाने वाला खुलासा

 उन्होंने कहा कि कर्नाटक के अलावा तीन हिंदी भाषी राज्यों में आसन्न विधानसभा चुनावों के मद्देनज़र कार्यकर्ताओं को चुनावी तैयारियों में जुटाने में आईवाईसी की अहम भूमिका होने के कारण इस समय नया अध्यक्ष नियुक्त करना पार्टी हित में नहीं है। उल्लेखनीय है कि पार्टी ने अपने अनुषांगिक संगठनों में नए प्रमुखों की तैनाती का सिलसिला सेवा दल से हाल ही में शुरू किया था। इस कड़ी में सेवा दल के लम्बे समय से अध्यक्ष रहे महेंद्र जोशी की जगह लालजी देसाई को संगठन की कमान सौंपी गई है।

अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर लगाए गंभीर आरोप…

MLC चुनाव के लिए भाजपा ने जारी की प्रत्याशियों की सूची, देखें पूरी लिस्ट

अखिलेश यादव ने किया बड़ा खुलासा, बताया सपा-बसपा दोस्ती का राज…

शिवपाल यादव ने किया बड़ा ऐलान, 2019 लोकसभा चुनाव में नहीं मिलेगी एक भी सीट…

यूपी में हुए अधिकारियों के बंपर तबादले, देखें पूरी लिस्ट

राजबब्बर ने कहा ,समाजवादी पार्टी से गठबंधन बरकरार…….

Spread the love
loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com