Breaking News

जम्मू- कश्मीर मे सरकार गिरी, महबूबा मुफ्ती का मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा

 नई दिल्‍ली,  जम्‍मू-कश्‍मीर में भारतीय जनता पार्टी और पीपुल्‍स डेमोक्रेटिक पार्टी का तीन साल पुराना गठबंधन आखिरकार टूट गया और सरकार गिर गयी है। भाजपा ने महबूबा मुफ्ती सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है। वहीं महेबूबा मुफ्ती ने मुख्यमंत्री पद से अपना इस्तीफा दे दिया है।

अनियमितता के आरोपों के चलते ICICI बैंक की प्रमुख चंदा कोचर की छुट्टी, नया सीओओ नियुक्त

बीजेपी का इस राज्य मे टूटा गठबंधन, सरकार से लिया समर्थन वापस

  महबूबा मुफ्ती ने अपना इस्‍तीफा राज्‍यपाल नरेंद्र नाथ वोहरा को सौंप दिया है। मुख्यमंत्री  महेबूबा मुफ्ती  के इस्तीपा देने से पहले, भाजपा जम्‍मू-कश्‍मीर प्रभारी राम माधव ने प्रेस कांफ्रेंस कर, मेहबूबा सरकार से बीजे पी के समर्थन वापस लेने की जानकारी दी। इस बात की जानकारी दी। उन्‍होंने बताया कि हमने सबकी सहमति से आज यह निर्णय लिया है कि जम्मू-कश्मीर में भाजपा अपनी भागीदारी को वापस लेगी।

मोदी सरकार ने मांगा विपक्षी दलों का समर्थन…..

अखिलेश-मुलायम सिंह के नए घर में इस टीम ने किया दौरा, दिए ये निर्देश,जानिए क्यों

भाजपा के महासचिव और जम्मू-कश्मीर के प्रभारी राम माधव ने कहा, ‘हम खंडित जनादेश में साथ आए थे। लेकिन मौजूदा समय के आकलन के बाद इस सरकार को चलाना मुश्किल हो गया था। महबूबा मुफ्ती हालात संभालने में नाकाम साबित हुईं। हम एक एजेंडे के तहत सरकार बनाई थी। केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर सरकार की हर संभव मदद की। गृहमंत्री समय पर राज्य का दौरा करते रहे। सीमा पार से जो भी पाकिस्तान की सभी गतिविधियों को रोकने के लिये सरकार और सेना करती रही। लेकिन हालात सुधर नहीं रहे हैं।

लोकसभा चुनाव को लेकर शिवपाल सिंह यादव ने दिया अहम बयान

लखनऊ मे दो होटल जलकर खाक, 4 मरे कई घायल

उन्‍होंने कहा कि हाल ही में वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या कर दी गई। राज्य में बोलने और प्रेस की आजादी पर खतरा हो गया है। राज्य सरकार की किसी भी मदद के लिये केंद्र सरकार करती रही। लेकिन राज्य सरकार पूरी तरह से असफल रही। जम्मू और लद्दाख में विकास का काम भी नहीं हुआ। कई विभागों ने काम की दृष्टि से अच्छा काम नहीं किया। भाजपा के लिये जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, लेकिन आज जो स्थिति है उस पर नियंत्रण करने के लिये हमने फैसला किया है कि हम शासन को राज्यपाल का शासन लाएं।

समाजवादी पार्टी ने उत्तराखण्ड के नगर निगम और लोकसभा चुनावों को लेकर की बड़ी घोषणा

भाजपा कुछ नया संकट पैदा करने की रणनीति बनाने में जुटी-अखिलेश यादव

राम माधव ने कहा कि रमजान के महीने में हमने सीजफायर कर दिया था। हमें उम्मीद थी कि राज्य में इसका अच्छा असर दिखेगा। यह कोई हमारी मजबूरी नहीं थी। हमने अमन के लिए ये कदम उठाया था। लेकिन इसका असर ना तो आतंकवादियों पर पड़ा और ना हुर्रियत पर। केंद्र सरकार ने घाटी में हालात संभालने के लिये पूरी कोशिश की है। आतंकवाद के खिलाफ हमने व्यापक अभियान चलाया था, जिसका हमें फायदा भी हुआ। राष्ट्रपति शासन लागू होने के बाद आतंकवाद के खिलाफ अभियान जारी रहेगा। घाटी में शांति स्थापित करना हमारा एजेंडा था और रहेगा। 87 सीटों वाली जम्‍मू-कश्‍मीर विधानसभा में भाजपा के पास 25 सीट और पीडीपी के पास 28 सीटें हैं।

बीजेपी नेता ने खोला पुलिस भर्ती का रेट…..

शिवपाल यादव उतरे मैदान में, की शानदार बैटिंग

कौन होगा यूपी का नया मुख्य सचिव..?

इस राज्य के लिए बसपा ने लिया बड़ा निर्णय,अकेले लड़ेगी चुनाव…

आईएएस एसोसिएशन ने हड़ताल पर दी सफाई, की प्रार्थना- मुख्यमंत्री हमारी सुरक्षा करें

जब सरकार जनता से डरने लगे, तो समझिए उसके जाने का समय आ गया-आम आदमी पार्टी

भाजपा को उसी के गढ़ में सपा ने दिया जोर का झटका, कहा-चुनाव महंगा करने वालों को मिला जवाब

दलितों-पिछड़ों का बीजेपी से मोह भंग, खोज रहें हैं दूसरा विकल्प

लोकसभा चुनाव से पहले सपा ने इस राज्य में झोंकी ताकत,अखिलेश यादव का फिर दौरा

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com