Breaking News

राज्यपाल ने कुलदीप सिंह के कविता संकलन का किया विमोचन, कुछ इस तरह की तारीफ

लखनऊ,  उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि संवेदनशील व्यक्ति ही दूसरों के दुःख.दर्द को ज्यादा समझ सकता है । राज्यपाल राम नाईक ने आज राजभवन में तैनात उत्तर प्रदेश पुलिस के निरीक्षक कुलदीप सिंह की कविता संकलन भारत का श्रृंगार  का विमोचन के मौके पर ये विचार व्यक्त किये।

बाघों के हमले से दुनिया के सबसे बड़े रिंग मास्टर की मौत…

इस मौके पर राज्यपाल राम नाईक ने कुलदीप सिंह को बधाई देते हुए कहा कि कविता लिखना मन के भाव को शब्दों के रूप देने जैसा कार्य है। पुलिस कर्मी यदि अपने कर्तव्य के साथ-साथ संवेदनशील होता है, तो वह दूसरों के दुःख.दर्द को ज्यादा समझ सकता है। उन्होंने कहा कि काव्य संकलन का शीर्षक भारत का श्रृंगार  स्वतः कवितायें पढ़ने के लिये प्रेरित करता है। इस संकलन में 76 कविताओं को शामिल किया गया है।

इस जानवर के दूध से बनता है दुनिया का सबसे महंगा पनीर, ये है कीमत

उन्होंने कहा कि कुलदीप सिंह ने उत्तर प्रदेश गान भी लिखा है, जिसे बालीवुड गायक सोनू निगम ने स्वरबद्ध एवं संगीतबद्ध विपीन पटवा ने किया है। उत्तर प्रदेश गान के बोल भारत की शान उत्तर प्रदेश है । यह गीत उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस पर उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडु ने लोकार्पित भी किया था। राज्यपाल इससे पूर्व कुलदीप सिंह द्वारा लिखे गये भजन संग्रह की सी0डी0 बूटी ले आये हनुमान का विमोचन कर चुके हैं।

इन कपड़ो को पहनकर नहीं कर सकेंगे इमामबाड़ा का दीदार…

कुलदीप सिंह की कविताओं की प्रशंसा राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द, उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडु तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी कर चुके हैं। कुलदीप सिंह 1996 बैच के पुलिस अधिकारी हैं। इस अवसर पर राज्यपाल की पत्नी श्रीमती कुंदा नाईक, पुत्री विशाखा कुलकर्णी के अलावा कुलदीप सिंह के पारिवारिक सदस्य भी उपस्थित थे।

मोदी सरकार बेच रही सस्‍ता सोना, कल तक खरीदने का है मौका

गैस सिलेंडर फटने पर कंपनी देती है इतने लाख का मुआवजा….

मोदी सरकार बेच रही है सबसे सस्ता एसी…..

घर के दरवाजे पर चढ़ रहा था ये विशालकाय जानवर, लोग के उड़ गये होश…

इन तीन लोगों ने किया इस जानवर के साथ सामूहिक बलात्कार

यूपी में ये छोटी सी दुकान में कचौड़ी बेचने वाला निकला करोड़पति…

Spread the love
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com