Breaking News

यौन शोषण के खिलाफ चल रहे #Metoo अभियान की लहर जारी, कुछ बड़े नाम और सामने आये

मुंबई, देश में जारी #Metoo अभियान की लहर आज भी जारी रही, जिससे कुछ नये नाम और सामने आगये। कामकाज की जगह पर होने वाले यौन शोषण के खिलाफ चल रही इस मुहिम का आज भी कई लोगों ने समर्थन किया।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ने अपने साथी मंत्री एम जे अकबर से उनपर लगे यौन शोषण के आरोपों पर चुप्पी तोड़ने को कहा। वहीं बॉलीवुड के शोमैन सुभाई घई और लेखक-निर्देशक पीयूष मिश्रा भी निशाने पर आए। इसके साथ ही तनुश्री दत्ता के यौन उत्पीड़न के आरोपों की शिकायत के बाद आज मुंबई पुलिस ने नाना पाटेकर, कोरियोग्राफर गणेश आचार्य सहित अन्य दो के खिलाफ जांच शुरू की।

बॉलिवुड के दिग्गज फिल्ममेकर में से एक सुभाष घई पर एक महिला ने रेप का आरोप लगाया है। कमीडियन उत्सव चक्रवर्ती पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली महिला महिमा कुकरेजा ने पीड़िता के साथ हुई बातचीत के स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं। इनमें पीड़िता ने अपने साथ हुई पूरी घटना के बारे में बताया है। महिला ने बताया, ‘यह सब उस समय हुआ जब मैं सुभाष घई के साथ एक फिल्म में काम कर रही थी।

महिला ने आगे बताया, ‘वह मुझे होटेल ले गए। उन्होंने कहा कि वह हमेशा लिखने के लिए वहां जाते हैं और उनके लिए हमेशा एक कमरा तैयार रहता है। मैं ठीक से चल नहीं पा रही थी, लेकिन उन्होंने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे कमरे में ले गए। उन्होंने मेरी जींस उतारी और मेरे ऊपर आ गए। मैंने चिल्लाने की कोशिश की लेकिन उन्होंने मेरे मुंह पर हाथ रख दिया। ड्रिंक के कारण मुझ में ताकत नहीं बची थी। मैं रोई और फिर मैंने होश खो दिया।

 पत्रकार रही एक महिला ने ऐक्टर, राइटर और म्यूजिक कंपोजर पीयूष मिश्रा पर भी सेक्शुअल हैरसमेंट के आरोप लगाए हैं। केतकी जोशी नाम की महिला ने फेसबुक पर पोस्ट करते हुए अपनी आपबीती बताई। उन्होंने लिखा, ‘साल 2014 में मैं अपने दोस्तों की एक पार्टी में गई थी, जहां पीयूष जोशी को मेहमान के रूप में बुलाया गया था।….जब मैं उनके पास से गुजरी तो उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और अपने हाथ पर रब करने लगे। इस पर पीयूष मिश्रा ने अपना पक्ष रखते हुए माफी मांगी है।

समाज में जोर पकड़ रहे ‘मी टू अभियान’ का एक प्रकार से समर्थन करते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने  कहा कि इस बारे में आवाज उठाने वालों को इंसाफ मिलना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि इस तरह की आवाज उठाने वाली महिलाओं का उपहास नहीं उड़ाया जाना चाहिए। ईरानी ने अपने मंत्रिमंडल सहयोगी एम जे अकबर के खिलाफ लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों पर  कुछ कहने से इनकार कर दिया। किन्तु उन्होंने यह जरूर कहा कि उन महिलाओं के साथ इंसाफ होना चाहिए जो अपनी बात रख रही हैं।

भाजपा नेता अकबर अभी विदेश दौरे पर हैं । उनके रविवार को वापस लौटने की संभावना है। उन्होंने अभी तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।विभिन्न समाचार संस्थानों में संपादक पद पर रहते हुए अकबर पर कुछ महिला पत्रकारों के यौन उत्पीड़न के आरोपों को लेकर कांग्रेस सहित कई विपक्षी दल मंत्रिमंडल से उनके इस्तीफे की मांग कर रहे हैं।

वहीं माकपा, शिवसेना ने अकबर के इस्तीफे की मांग की हैं।कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि #Metoo एक बड़ा अभियान है और ‘‘एक बड़ा मुद्दा’’ है।आगामी 2019 लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार पर इसका बुरा असर पड़ सकता है।

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com