संभावित राजनैतिक परिदृश्य के बारे में, जनमत सर्वेक्षण कर रहें हैं बड़े इशारे

नई दिल्ली, जनमत सर्वेक्षण संभावित राजनैतिक परिदृश्य के बारे में,  बड़े इशारे कर रहें हैं।

एक संस्थान और स्वतंत्र चुनाव विश्लेषकों द्वारा मतदाताओं पर किए सर्वेक्षण 23 मई के बाद संभावित परिदृश्य के बारे में आश्चर्यजनक रूप से एकमत की ओर इशारा करते हैं।

जिसमें कहा गया है कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के प्रदर्शन में 2014 की तुलना में गिरावट होगी जबकि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन   जबतक गठबंधन के नए साथी नहीं चुन लेती, उसके भाजपा नीत गठबंधन द्वारा खाली किए गए क्षेत्रों में पांव पसारने की उम्मीद कम है।

लोकसभा के लिए कुल सात चरणों में मतदान होना है।

लोकसभा चुनाव के  दौरान मीडिया में जनमत सर्वेक्षण तथा एग्जिट पोल पर लोकसभा के सभी चरणों के मतदान तक रोक लगाई गई है ।

यह प्रतिबंध पहले चरण के मतदान दिवस से लागू है तथा अंतिम चरण के मतदान समाप्त होने तक लागू रहेगा।

यानी 19 मई की शाम साढ़े छह बजे तक भारत निर्वाचन आयोग ने मीडिया में किसी भी प्रकार के एक्जिट पोल के प्रकाशन अथवा प्रसारण पर रोक लगाई है।

एक्जिट पोल संबंधी आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पर लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम-1951 के प्रावधानों के तहत कार्यवाही की जाएगी।

संबंधित निर्वाचन क्षेत्र में मतदान समाप्ति के 48 घंटे पूर्व से किसी भी प्रकार के जनमत सर्वेक्षणों (ओपिनियन पोल) के प्रसारण अथवा प्रकाशन पर भी प्रतिबंध लागू रहेगा।

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com