अनुसूचित जाति- जनजाति अधिनियम पर सुनवाई के दौरान, सुप्रीम कोर्ट की जाति पर अहम टिप्पणी

नयी दिल्ली, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निरोधक) संशोधन अधिनियम पर केंद्र सरकार की एक याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने जाति को लेकर अहम टिप्पणी की है। उच्चतम न्यायालय ने  कहा कि देश में कानून को जाति तटस्थ और एकरूप होना चाहिए।

इस मंदिर में पूजा करने से भगवान का आशीर्वाद नहीं श्राप मिलता है…

बीजेपी का ‘नमो अगेन’ सॉन्ग सोशल मीडिया पर हो रहा वायरल….

उच्चतम न्यायालय ने केंद्र सरकार की एक याचिका पर सुनवाई के दौरान कहा, “देश में कानून एक रूप होना चाहिए और यह सामान्य श्रेणी या अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के लिये नहीं हो सकता।”केंद्र ने अदालत के 20 मार्च 2018 के उस फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर की थी जिससे कथित तौर पर अजा/अजजा अधिनियम के प्रावधान कमजोर हो रहे थे।

सरकार ने उठाया बड़ा कदम, बुर्का-नकाब समेत चेहरा ढकने पर लगाई रोक

शराब पीने वालो को लगा बड़ा झटका,अब नहीं पी सकेंगे शराब

न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा और न्यायमूर्ति यू यू ललित की पीठ ने केंद्र की तरफ से पेश हुए अटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल का प्रतिवेदन सुनने के बाद कहा कि वह अपना फैसला सुरक्षित रखती है। शुरू में वेणुगोपाल ने कहा कि मार्च का पूरा फैसला “समस्यापरक” है और अदालत द्वारा इसकी समीक्षा की जानी चाहिए।

यूपी में नहीं बिकेगी शराब, जारी हुए निर्देश…

बैंक में नौकरी का सुनहरा मौका, निकली बंपर वैकंसी..

पिछले साल का समर्थन कर रहे पक्ष की तरफ से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता विकास सिंह ने कहा कि केंद्र की पुनर्विचार याचिका निष्फल हो गई है क्योंकि संसद पहले ही फैसले के प्रभाव को निष्प्रभावी बनाने के लिये अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निरोधक) संशोधन अधिनियम 2018 पारित कर चुकी है। उन्होंने उच्चतम न्यायालय द्वारा केंद्र की याचिका पर फैसले पर पुनर्विचार किए जाने तक संशोधित अधिनियम पर रोक की मांग की। पीठ ने कहा कि अगर फैसले में कुछ गलत हुआ है तो उसे पुनर्विचार याचिका में हमेशा सुधारा जा सकता है।

सेना में निकली बंपर भर्ती, पहली बार भरे जाएंगे ऑनलाइन आवेदन फॉर्म…

इन जंगली गोरिल्लाओं ने अधिकारयों के साथ किया ऐसे काम,देखकर रह जाएंगे हैरान

Flipkart सेल में मिल रहा है इतने हजार रुपये तक का ऑफर…

बीजेपी का सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा ‘चौकीदार रैप’

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com