Breaking News

पोस्ट ऑफिस की स्कीम का उठाएं फायदा, लीजिए 8.5% ब्याज दर…..

नई दिल्ली,कुछ लोग आज के दौर में पोस्ट ऑफिस के मुकाबले बैंक को ज्यादा तरजीह दे रहे हैं. लेकिन जब आप जानेंगे कि पोस्ट ऑफिस में निवेश करना बैंक से ज्यादा सिक्योर और बेहतर है तो आपको थोड़ी हैरानी जरूर होगी. लेकिन यह सच है. बैंक के मुकाबले पोस्ट ऑफिस में फिक्स्ड डिपोजिट पर ज्यादा ब्याज मिलता है. फिलहाल पोस्ट ऑफिस में 8.5 फीसदी तक ब्याज मिल रहा है.

#Me Too की एक और कड़ी,बॉलीवुड की टॉप एक्ट्रेस ने लगाया फिल्म डायरेक्टर पर यौन शोषण का आरोप

 मौजूदा समय में पोस्ट ऑफिस करीब 8 तरह की बचत योजनाएं चला रहा है. पोस्ट ऑफिस की वेबसाइट ( indiapost.gov.in) पर दी गई जानकारी के मुताबिक इन सभी स्कीम में 8.5 फीसदी तक का मुनाफा मिल रहा है. आइए जानें इसके बारे में.

लखनऊ के 550 होनहार छात्रों ने पपीते से DNA अलग कर बनाया गिनीज बुक में रिकॉर्ड

ये हैं पोस्ट ऑफिस की स्कीम-

 नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट: नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट योजना में सालाना 8 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा. 100 रुपये और इससे ज्यादा का एनएससी ले सकते हैं.

अब मुलायम सिंह के संसदीय क्षेत्र में शिवपाल यादव उतारेंगे अपना प्रत्याशी..

सुकन्या समृद्धि खाता: इस खाते में एक वित्त वर्ष के दौरान न्यूनतम 250 रुपये और अधिकतम 1,50,000 रुपयों का निवेश करना होता है. यह खाता लड़की के पैदा होने के अगले 10 वर्षों के भीतर खुलवाया जा सकता है. इस खाते में 8.5 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है. लड़की के 21 साल पूरे होने पर यह खाता बंद हो जाता है.

‘स्वच्छ भारत मिशन’ को लेकर कांग्रेस का बड़ा हमला, कहा-आंकड़े सिर्फ ‘कागजी’,अभियान विफल

 डाकघर आवर्ती जमा (आरडी): डाकघर आवर्ती जमा में 10 रुपये प्रति माह से निवेश किया जा सकता है. इस खाते में जमा राशि पर 7.3 फीसद की दर से ब्याज मिलता है. वहीं इस बचत योजना में एक साल के बाद 50 फीसद रकम निकालने की भी सुविधा उपलब्ध होती है. 

2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर, शरद पवार का बड़ा एेलान

 किसान विकास पत्र (केवीपी): इस खाते में जमा रुपये को ढाई साल बाद निकाला जा सकता है, इस पर 7.7 फीसदी की दर से सालाना ब्याज मिलता है. इसमें निवेश की गई राशि 118 महीने (9 साल और 10 महीने) बाद दोगुनी हो जाती है.

अब देश में समाज को तोड़ा जा रहा है, वह भी सरकार द्वारा-अखिलेश यादव

 15 वर्षीय पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ): इस खाते को 100 रुपये में खोला जा सकता है. इसमें एक वित्त वर्ष में अधिकतम एक लाख रुपए तक के निवेश पर कर छूट का लाभ मिलता है. इसमें जमा राशि पर 8 फीसदी का ब्याज मिलता है. खाताधारकों को इस खाते में पूरे वित्त वर्ष में न्यूनतम 500 रुपये एवं अधिकतम 1.50 लाख जमा करवाने होते हैं. खाते का मैच्योरिटी पीरियड 15 साल का है. इसमें आप ज्वाइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं.

अखिलेश यादव ने छात्रसंघ नेताओं को दी बधाई, कहा- छात्रसंघ लोकतंत्र में नेतृत्व की नर्सरी हैं

 मंथली इनकम स्कीम (एमआईएस): इस खाते को कोई भी व्यक्ति खुलवा सकता है. इस खाते में जमा राशि पर 7.3 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है. इस खाते को ट्रांसफर भी करवाया जा सकता है.

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव- जानिये क्या हैं राजनैतिक समीकरण ?

तेलंगाना विधानसभा चुनाव- जानिये क्या है राजनैतिक समीकरण ?

मिजोरम विधानसभा चुनाव- जानिये क्या हैं राजनैतिक समीकरण ?

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव- जानिये क्या हैं राजनैतिक समीकरण ?

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com