Breaking News

पेट्रोल-डीजल पर बढ़ा टैक्स तो लोग हुए हिंसक,इमरजेंसी लगा सकती है सरकार

नई दिल्ली,  पेट्रोल-डीजल पर टैक्स लगाने से बढ़ी महंगाई के विरोध में फ्रांस में हिंसक विरोध प्रदर्शन जारी हैं. राजधानी पेरिस के कई पॉश इलाकों में युद्ध सरीखी बर्बादी का मंजर था. कारें जली पड़ी थीं, दुकानें लूटी जा चुकी थीं, इमारतों को जलाकर खाक में तब्दील कर दिया गया था, हर जगह भारी तोड़फोड़ की गई थी. उपद्रवियों ने शहीद स्मारक आर्क-डि-ट्रिंफ भी नहीं बख्शा. प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच झड़प में 263 लोग घायल हुए हैं, इनमें सुरक्षा बलों के 23 जवान भी हैं. जाम के दौरान एक की मौत भी हुई है.

अखिलेश यादव ने दिया बड़ा बयान, भगवान को कहा ये….

शिक्षकों के लिए निकली बंपर भर्ती, एेसे करें आवेदन….

 राज्य में हिंसा को रोकने के लिए इमरजेंसी लगाई जा सकती है. फ्रांस सरकार के प्रवक्ता बेंजामिन ग्रिवो ने मीडिया से कहा है कि राज्य में शांति बहाली के लिए और प्रदर्शनकारियों से बातचीत के लिए यह कदम सरकार उठा सकती है. राज्य में पिछले दो सप्ताह से जारी उग्र विरोध प्रदर्शनों को देखते हुए बेंजामिन ने ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए स्थानीय अधिकरियों को आदेश दिया है.

बस में सफर करने वालों के लिए बुरी खबर….

मोदी सरकार ने किया बड़ा ऐलान…

राष्ट्रपति इमैनुएल राज्य में जारी विरोध प्रदर्शनों से निपटने के लिए प्रधानमंत्री और राज्य के मंत्रियों के साथ आपातकालीन बैठक बुला सकते हैं. फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने शनिवार को उनके खिलाफ प्रदर्शन करने वालों को अराजकता फलाने की चाहत रखने वाला करार देते हुए कहा था कि वह किसी भी सूरत में हिंसा बर्दाश्त नहीं करेंगे. देश में ईंधन की कीमतों में पूर्व नियोजित योजना के तहत हुई वृद्धि का विरोध कर रहे लोग शुक्रवार को हिंसा पर उतर आए. भीषण विरोध प्रदर्शन के बीच ब्यूनस आयर्स में जी20 सम्मेलन के दौरान संवाददाता सम्मेलन में मैक्रों ने कहा, ‘‘मैं हिंसा को कभी स्वीकार नहीं करूंगा.’’

मैक्रों ने कहा, ‘‘अधिकारियों पर हमले, वाणिज्य-व्यापार को ठप करना, राहगीरों और पत्रकारों को धमकी देना या आर्क डू ट्रौम्फ का उल्लंघन करना, किसी भी सूरत में तर्कपूर्ण नहीं हो सकता है. पेरिस में बड़ी संख्या में लोग आपात स्थिति में पहने जाने वाले पीले रंग के कोट पहन कर प्रदर्शन कर रहे हैं. ब्यूनस आयर्स में जलवायु परिवर्तन की दिशा में समान विचारधारा वाले सभी देशों को साथ लाने के लिए मैक्रों पूरी जी-जान से कोशिश कर रहे हैं. लेकिन, बार-बार उनसे फ्रांस में चल रहे प्रदर्शनों पर सवाल पूछा गया. उन्होंने कहा, ‘‘इस हिंसा के लिए दोषी लोग बदलाव नहीं चाहते हैं, वे लोग सुधार नहीं चाहते, उन्हें सिर्फ अराजकता चाहिए. वे लोग जिस कारण का समर्थन करने की ढोंग करते हैं, उसे ही धोखा दे रहे हैं.’’

बिना एड्रेस प्रूफ के अब मिलेगा गैस सिलेंडर, बस करना होगा ये छोटा सा काम….

4G नेटवर्क में चाहिए दमदार स्पीड, तो मोबाइल में जल्द करें ये सेटिंग….

1 दिसंबर से बदल गए ये बड़े नियम, आपकी जिंदगी पर होगा असर

आम आदमी को बड़ी राहत,रसोई गैस हुई सस्ती….

सरकार का बड़ा फैसला,तीन महीनों के लिए शादियों पर लगाई रोक….

राजा भैया की रैली में उमड़ा जनसैलाब, किया बड़ा एेलान…..

ATM से लीजिए एक और बड़ी सुविधा,चेक से निकाले पैसे….

SBI बैंक आज बंद कर देगा ये बड़ी सुविधा…

सरकार इन आईएएस अधिकारियों देगी बड़ा तोहफा,देखिए लिस्ट….

वाट्सएप ऐप्स में किया गया बड़ा बदलाव,आप भी जान ले,वरना….

बंद होने वाले है 2000 के नोट,नही मिलेगे अब यहां….

 

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com