Breaking News

लेनिन की मूर्ति गिराए जाने के बाद अब पेरियार की मूर्ति तोड़ी गई

नई दिल्ली, लेनिन की मूर्ति गिराए जाने के बाद अब सामाजिक कार्यकर्ता और तर्कवादी नेता ईवीआर पेरियार की मूर्ति तोड़ दी गई है। पुलिस के मुताबिक पेरियार की मूर्ति चेन्नई से 130 किलोमीटर दूर वेल्लोर में तोड़ी गई है।

साम्प्रदायिक राजनीति के लिए खतरे की घंटी बज चुकी है- समाजवादी पार्टी

सपा उम्मीदवारों को विपक्ष का एक तरफा समर्थन, बीजेपी का धुर विरोधी मोर्चा अखिलेश के पाले में…

राज्यसभा चुनाव को लेकर मायावती के भाई ने की बड़ी घोषणा…..

 तमिलनाडु में मंगलवार रात सामाजिक कार्यकर्ता और तर्कवादी नेता ईवीआर पेरियार की मूर्ति तोड़ दी गई है। पेरियार की मूर्ति का नाक और चश्मा तोड़ा गया है। यह घटना मंगलवार रात करीब नौ बजे की है। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक पेरियार के संगठन द्रविड़ कणगम और डीएमके के कुछ कार्यकर्ताओं ने उन्हें मूर्ति पर चोट करते देखा और पकड़कर स्थानीय पुलिस के हवाले कर दिया।गिरफ़्तार लोगों में से एक का नाम मुरुगानंदम है जो वेल्लूर में बीजेपी का शहर महासचिव हैं। दूसरे व्यक्ति का नाम फ्रांसिस है । उन्होंने मूर्ति के चेहरे को हथोड़े की चोट से तोड़ दिया ।

लोकसभा उपचुनाव मे अब कांग्रेस भी दे सकती है समाजवादी पार्टी को समर्थन

सपा-बसपा का हाथ मिलवाने मे आखिर किसका रहा हाथ, जानिये क्या है हकीकत ?

यादव मोड़ का नाम बदलने को लेकर, स्थानीय लोगों के साथ छात्र नेता भी उतरे विरोध मे

 त्रिपुरा में लेनिन की मूर्ति गिराए जाने के बाद भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच राजा ने बयान दिया था कि ‘त्रिपुरा में लेनिन के बाद अब तमिलनाडु में पेरियार की बारी है।’ पुलिस ने बताया कि इस मामले में दो लोगो को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए लोगों में एक भाजपा का महासचिव है। विपक्षी पार्टी डीएमके ने स्टेट गुंडा एक्ट के तहत राजा की गिरफ्तारी की मांग की है। राज्य में कई जगह पर डीएमके, लेफ्ट पार्टियों और डीके के कार्यकर्ताओं ने राजा के पुतले फूंके और सख्त पुलिस कार्रवाई की मांग की।

समाजवादी पार्टी को एक और बड़ी पार्टी ने दिया समर्थन…..

लालू यादव के परिवार को कोर्ट ने दी बड़ी राहत….

 सीएम के सामने मंत्री ने की गंदी बात- मुलायम ,माया,अखिलेश को कहा……

 भाजपा नेता ने फेसबुक पर लिखा था, ‘आज लेनिन की मूर्त, कल तमिलनाडु के ईवीआर रामास्वामी की मूर्ति की बारी’। बाद में इस पोस्ट को फेसबुक से हटा दिया गया। स्टालिन ने सबसे पहले इस पर रिएक्ट किया था। उन्होंने प्रतिक्रिया देते हुए लिखा था, ‘ईवीआर की मूर्ति को हाथ लगाने की किसी में हिम्मत नहीं। एच राजा का बयान हिंसा भड़काने के लिए है। वह बार-बार यह कर रहे हैं। उन्हें गिरफ्तार किया जाए और उनके खिलाफ गुंडा एक्ट के तहत मामला दर्ज किया जाए।

होली मिलन कार्यक्रम मे, यादव समाज के हित मे हो सकती हैं महत्वपूर्ण घोषणा…?

राज्यसभा चुनाव मे बसपा उतारेगी अपना प्रत्याशी, सपा और कांग्रेस का लेगी समर्थन- मायावती 

बसपा द्वारा सपा को दिये समर्थन पर, सीएम योगी ने सुनाया दोहा, पर नही बता पाये…?

 इससे पहले, दक्षिण त्रिपुरा में कम्युनिस्ट आंदोलन के बड़े नेता ब्लादिमीर लेनिन की दो प्रतिमाएं गिरा दी गईं जिसके लिए माकपा और बंगाल में इसकी धुर विरोधी तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा को जिम्मेदार ठहराया। विधानसभा चुनावों में भाजपा और इसकी सहयोगी आईपीएफटी द्वारा वामपंथी पार्टी की हार के कुछ दिनों के अंदर ही प्रतिमाओं को गिरा दिया गया।

Spread the love

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com