अधिक संख्या में डाक मतपत्र मिलने से, चुनाव आयोग ने की ये व्यवस्था

नयी दिल्ली,  लोकसभा चुनाव में मतदान के दौरान चुनाव आयोग को उम्मीद से बहुत अधिक संख्या में डाक मतपत्र मिलने से इनकी गिनती ईवीएम के मतों के साथ ही की जाएगी।

अब टीवी देखना होगा इतना ज्यादा सस्ता….

चिकन खाने से हुई एक व्यक्ति की मौत

मतगणना की मौजूदा व्यवस्था के तहत ईवीएम के मतों की गिनती से पहले डाक मतपत्रों की गिनती होती है। आयोग ने 16 लाख से अधिक डाक मतपत्रों की गिनती में अधिक समय लगने की आशंका के मद्देनजर ईवीएम की मतगणना में देरी से बचने के लिये दोनों की मतगणना एक साथ कराने का फैसला किया है।

पहले गर्भवती लड़की की हत्या, फिर गर्भ से इस तरह से निकाला बच्चा

चूर चूर नान पर कोर्ट ने दिया ये फैसला,जानिए पूरा मामला….

उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव में सात चरण का मतदान पूरा होने के बाद 23 मई को सुबह आठ बजे से मतगणना प्रारंभ हो जायेगी। आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मौजूदा व्यवस्था के तहत सैन्य बल, केन्द्रीय एवं राज्य पुलिस बल के जवान और विदेशों में तैनात राजनयिकों एवं कर्मचारियों के रूप में दर्ज 18 लाख ‘सर्विस वोटर’ द्वारा मतदान में प्रयुक्त डाक मतपत्रों की मतगणना में सबसे पहले गिनती की जाती है।

इस तारीख से नहीं मिलेगा पेट्रोल,जानिए क्यों….

यूपी में निकली हजारों पदों पर भर्तियां,जल्द करें आवेदन…

उन्होंने बताया कि इस चुनाव में 17 मई तक सर्विस वोटर के 16.49 लाख डाक मतपत्र आयोग को मिल चुके हैं। मतगणना से पहले इनकी संख्या में इजाफे की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। अधिकारी ने बताया कि इसके मद्देनजर उम्मीद से अधिक संख्या में मिले डाक मतपत्रों की गिनती पहले कराने से ईवीएम की मतगणना विलंबित होने की आशंका को देखते हुये आयोग ने दोनों की मतगणना एक साथ कराना उपयुक्त समझा है।

गोशाला में इस युवक ने किया कई गायों के साथ रेप…

अगर आप के पास है ये चीज, तो मिल जाएगी ये सरकारी नौकरी….

इस रॉयल फैमिली में निकली वैकेंसी, 26 लाख होगी सैलरी

लग्जरी कार पर गोबर लगाकर घूम रही है ये महिला,वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

अगले पीएम का नाम बताने पर ये कंपनी दे रही है बंपर छूट…..

आज से दूध हुआ इतना महंगा ,कीमत जानकर रह जाएंगे हैरान…..

यूपी में इस युवक ने गाय के साथ किया रेप….

मात्र 850 रुपये में अपने दुश्मन के साथ कर सकतें है ये काम….

Spread the love
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com