Breaking News

आस्ट्रेलियाई ओपन के फाइनल में एक बार फिर नडाल और फेडरर आमने-सामने

NADAL AN FREDARमेलबर्न,  राफेल नडाल ने पांच सेट तक चले बेहद संघर्षपूर्ण मुकाबले में आज यहां ग्रिगोर दिमित्रोव को हराकर आस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस टूर्नामेंट में अपने कट्टर प्रतिद्वंद्वी रोजर फेडरर के खिलाफ रोमांचक फाइनल की नींव रखी। नडाल ने अपने करियर की सबसे कड़ी लेकिन महत्वपूर्ण जीत में से एक दर्ज की लेकिन इसके लिए उन्हें राड लेवर ऐरेना में चार घंटे 56 मिनट तक पसीना बहाना पड़ा। आखिर में वह बुल्गारियाई दिमित्रोव को 6-3, 5-7, 7-6, 6-7, 6-4 से हराकर फाइनल में जगह बनाने में सफल रहे।

नडाल ने अपनी जुझारू क्षमता का शानदार नमूना पेश करते हुए पांचवें सेट के नौवें गेम में 0-30 से पिछडने के बाद दिमित्रोव की सर्विस तोडकर 5-4 से बढ़त हासिल की। दिमित्रोव भी हालांकि हार मानने के लिए तैयार नहीं थे। उन्होंने बहुत अच्छी तरह से दो मैच प्वाइंट बचाए लेकिन तीसरे मैच प्वाइंट पर नडाल जीत दर्ज करने में कामयाब रहे। वह खुशी में अपने घुटनों के बल पर बैठ गए और फिर जीत का जश्न मनाया। नडाल ने कहा कि नौवीं बार किसी ग्रैंडस्लैम के फाइनल में फेडरर का सामना करना सम्मान की बात है। ये दोनों दिग्गज खिलाड़ी 2011 के फ्रेंच ओपन के बाद पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम फाइनल में आमने सामने होंगे।

उन्होंने कहा, यह बेहद खास है। हम दोनों फिर से किसी ग्रैंडस्लैम के फाइनल में है और हमारे पास दो साल तक कुछ समस्याओं से जूझने के बाद फिर से एक दूसरे का मुकाबला करने का मौका है। मुझे लगता है कि हम दोनों में से किसी ने नहीं सोचा था कि हम आस्ट्रेलियाई ओपन में फिर से एक दूसरे के खिलाफ फाइनल खेलेंगे। नडाल ने 2009 में यहां फाइनल में फेडरर को हराया था। ग्रैंडस्लैम फाइनल में उनका फेडरर पर 6-3 का रिकार्ड है। नडाल चौथी बार आस्ट्रेलियाई ओपन और कुल 21वीं बार किसी ग्रैंडस्लैम के फाइनल में पहुंचे हैं। स्पेन के 30 वर्षीय खिलाड़ी नडाल ने अपना आखिरी ग्रैंडस्लैम खिताब 2014 में फ्रेंच ओपन के रूप में जीता था। इसके बाद उन्हें चोटों से जूझना पड़ा था।

नडाल की निगाह अब अपना दूसरा आस्ट्रेलियाई ओपन खिताब जीतने पर लगी हैं। इससे वह चारों ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट दो . दो बार जीतने वाले ओपन युग में पहले खिलाड़ी और ओवरआल तीसरे पुरूष खिलाड़ी बन जाएंगे। नडाल और दिमित्रोव ने इस ऐतिहासिक सेमीफाइनल में आखिर तक हार नहीं मानी। दो सेट टाईब्रेकर तक गए जिनमें से एक नडाल तो दूसरा दिमित्रोव ने जीता। मैच आधी रात के बाद तक खिंचा। फेडरर ने गुरूवार को पहले सेमीफाइनल में हमवतन स्विस खिलाड़ी स्टैन वावरिंका को हराया था। यह मैच भी पांच सेट तक चला था। इससे पहले आखिरी बार 2009 में रोलां गैरां में पुरूष एकल के दोनों सेमीफाइनल पांच सेट तक खिंचे थे। तब फेडरर ने जुआन मार्टिन डेल पोत्रों को जबकि रोबिन सोडरलिंग ने फर्नांडो गोंजालेज को हराया था। यह भी संयोग है कि इस बार महिला और पुरूष दोनों वर्ग के फाइनल में पहुंचे चारों खिलाड़ी 30 वर्ष या उससे अधिक उम्र के हैं। महिला एकल का फाइनल विलियम्स बहनों वीनस और सेरेना के बीच खेला जाएगा जिनकी उम्र क्रमश 36 और 35 वर्ष है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com