गांवों में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है: सीएम योगी

मुज़फ्फरनगर,उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति की जान हमारे लिए महत्वपूर्ण है और शासन व प्रशासन पूरी तरह से कोरोना संक्रमित लोगों को बचाने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रहा है और गांव में फैलते संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है।

श्री योगी ने सोमवार को यहां कलेक्ट्रेट में बने कोविड सैन्टर का निरीक्षण किया और अधिकारियों के साथ कोरोना संक्रमण को काबू करने के सबंध में बैठक की।

इस मौके पर संवाददातओं से कहा कि कोरोना संक्रमण को नियंत्रण करने के संबंध में सरकार द्वारा उठाये जा रहे कदमों की विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति की जान हमारे लिए महत्वपूर्ण है और शासन व प्रशासन पूरी तरह से कोरोना संक्रमित लोगों को बचाने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना वारियर्स इस आपदा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है यदि उन पर किसी व्यक्ति ने हमला किया तो प्रशासन ऐसे लोगों के साथ सख्ती के साथ पेश आयेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव में फैलते संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है और पांच मई से घर-घर जाकर निगरानी समितियां जांच कर रही है यदि किसी को कोविड का लक्षण भी पाया जाता है उसे मैडिकल किट दी जा रही है। होम आइसोलेशन की भी व्यवस्था की गयी है प्रदेश के प्रत्येक गांव प्रधान को निर्देश दिया गया है कि वे अपने अपने गांव में पांच बैड की व्यवस्था करे ताकि वहां आइसोलेट मरीजो को रखा जा सके।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसी को भी भूख से नहीं मरने दिया जायेगा। सरकार ने पूरे प्रदेश में जगह जगह कम्यूनिटी किचन की स्थापना की है। जनपद मुजफ्फरनगर में भाी सरकार के साथ मिलकर अनेक स्वंयसेवी संस्थाएं कोविड मरीजो और उनके तिमारदारों को भोजन उपलब्ध करा रही है।

श्री योगी ने कहा कि आशंका जताई जा रही है कोविड का तीसरा फेस आने वाला है जोकि बच्चों पर भारी पडेगा। बच्चों में भी इस बीमारी केा रोकने के लिए सरकार ने पूरी व्यवस्था कर ली है बच्चों के लिए इलैक्ट्रिक आईसीयू बनाये जा रहे है। इसके अलावा ब्लैक फंगस के मरीजों की भी जांच कर उन्हे दवाई दी जा रही है।

उन्होंने सभी से अपील की है कि भय के बजाये धैर्य रखे। उन्होंने कहा कि कोरोना पर विजय तभी प्राप्त की जा सकती है जब हम सब सतर्कता और सुरक्षा अपनायेंगे। साठ साल के बुजुर्ग व बीमारी से ग्रसित व्यक्ति व गर्भवती महिलाएं घरों से बाहर न निकले। दस साल तक की उम्र के छोटे बच्चों को घर में ही रखे। जरा सी भी परेशानी होने पर तुरंत चिकित्सालय में जाकर सम्पर्क करे। यदि सब सुरक्षा चक्रम अपनायेंगे तो निश्चित तौर पर हम विजयी होगे और कोराना हारेगा।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com