Breaking News

नए उत्तर प्रदेश में सुनिश्चित होगा खिलाड़ियों का योगदान: सीएम योगी

गोरखपुर,  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को गोरखपुर में कहा कि खिलाड़ी राष्ट्रीय और वैश्विक मंचों पर प्रदेश के शक्ति एवं सामर्थ्य का प्रदर्शन करते है। इसे देखते हुए प्रदेश सरकार हर गांव में खेल के मैदान, हर विकास खंड में स्टेडियम और पर्याप्त संख्या में स्पोर्ट्स कॉलेज बनवाने तथा बड़े पैमाने पर खेल सुविधाओं को उपलब्ध कराने की प्रक्रिया को तेजी से आगे बढ़ा रही है।

मुख्यमंत्री योगी ने शारदीय नवरात्र की प्रतिपदा पर सोमवार को गोरखपुर के जंगल कौड़िया के रसूलपुर चकिया में 10.16 करोड़ रुपये की लागत से बने महंत अवैद्यनाथ स्टेडियम और महंत अवैद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में 5.80 करोड़ रुपये से निर्मित प्रेक्षागृह का लोकार्पण करने के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, “हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन के अनुरूप नए भारत के नए उत्तर प्रदेश के निर्माण में हमारे खिलाड़ियों का योगदान भी सुनिश्चित हो।”

नवनिर्मित स्टेडियम परिसर में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के महाविद्यालय और स्टेडियम विकास के कई आयामों समेत राष्ट्रीय शिक्षा नीति से जुड़ने और खेलों को आगे बढ़ाने की प्रेरणा देते हैं। उन्हाेंने

कहा कि डबल इंजन की भाजपा सरकार बिना भेदभाव वाले समाज के हर तबके को शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचा रही है। पीएम मोदी के जन्मदिन पर 17 सितंबर से जनसेवा के विभिन्न आयामों को लेते हुए सेवा पखवाड़ा शुरू किया गया है। इसी क्रम में 25 सितंबर को अंत्योदय के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती मनाई गई और यह सेवा पखवाड़ा महात्मा गांधी की जयंती दो अक्टूबर तक चलेगा।

उन्होंने कहा कि आज यहां के समारोह में 700 दिव्यांगजन को उनके लिए जरूरी उपकरण दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि यह समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति और वंचितों के उत्थान की सोच रखने वाले पंडित दीनदयाल उपाध्याय के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि है।

मुख्यमंत्री ने रसूलपुर चकिया में महाविद्यालय एवं स्टेडियम बनाने के हेतु दस एकड़ जमीन देने के लिए प्रधान एवं ग्रामीणों के प्रति आभार व्यक्त किया। सीएम योगी ने कहा कि यहां खेलों के लिए अच्छे कोच की व्यवस्था कराई जाएगी। साथ ही उन्होंने यह इच्छा भी जताई कि विधायक खेलकूद प्रतियोगिता का फाइनल इसी स्टेडियम में आयोजित हो।

लोकार्पण समारोह के मंच से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी लोगों को अपने गांव को स्वच्छ और सुंदर रखने का संकल्प दिलाया। उन्होंने कहा कि स्वच्छता से ही पूर्वी उत्तर प्रदेश में इंसेफेलाइटिस, दिमागी बुखार पर नियंत्रण पाया गया है। पहले इससे बड़ी संख्या में मौतें होती थीं लेकिन अब स्वच्छता से इसे शून्य पर ला दिया गया है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाल विकास परियोजना के स्टाल पर जाकर तीन गर्भवती महिलाओं को पोषण टोकरी देकर गोदभराई की। साथ ही तीन शिशुओं को दुलार कर उनका अन्नप्राशन कराया। स्वस्थ बालक.बालिका प्रतिस्पर्धा में उत्कृष्ट तीन बच्चों को उपहार प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने इस दौरान दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग, संकेत मूकबधिर विद्यालय तथा समाज कल्याण विभाग के स्टालों का अवलोकन कर बच्चों से मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी ली।

इस अवसर पर 700 दिव्यांगजन को उनके सामान्य जीवनयापन के लिए उपयोगी संसाधन एवं उपकरण प्रदान किए गए।

इससे पहले स्टेडियम व प्रेक्षागृह का लोकार्पण करने से पूर्व मुख्यमंत्री योगी ने अपने गुरुदेव ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर नमन किया और साथ ही महाविद्यालय परिसर में पर्यावरण संरक्षण के प्रति अपने संकल्प को दोहराते हुए पौधरोपण किया।

महंत अवेद्यनाथ की स्मृति में बने स्टेडियम में 250 व्यक्तियों बैठने के लिए पवेलियन एवं 300 मीटर का 8 लेन का सिंथेटिक रनिंग ट्रैक तैयार किया गया है। इसके अलावा 15 गुणे 15 मीटर का कुश्ती ग्राउंड भी बना है। महंत अवैद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में 5.80 करोड़ की लागत से तैयार प्रेक्षागृह की क्षमता 462 व्यक्तियों के बैठने की है। प्रेक्षागृह में दो ग्रीन रूम, दो रिहर्सल रुम, वीवीआईपी रुम एक, कुश्ती, बैडमिंटन एवं टेबल टेनिस हाल, पुरुष, महिला एवं दिव्यांग के लिए प्रसाधन की सुविधा है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com