Breaking News

यूपी में स्ट्राबेरी व ड्रेगनफ्रूट की खेती के लिए किसानों को दिया जा रहा विशेष प्रोत्साहन

झांसी,  उत्तर प्रदेश के झांसी में उद्यान कृषि को दिये जा रहे विशेष प्रोत्साहन के तहत स्ट्रॉबेरी और ड्रेगनफ्रूट की खेती के लिए किसानों को प्रोत्साहित करने को विशेष सुविधाएं दी जा रही हैं।

राजकीय उद्यान अधीक्षक ने बुधवार को बताया कि झांसी में उद्यान क्षेत्र में स्ट्रॉबेरी और ड्रेगनफ्रूट की खेती में अभिनव प्रयोग किये गये । यह प्रयोग अत्यन्त उत्साहजनक रहा, जिसके परिणाम स्वरूप स्ट्रॉबेरी महोत्सव का भी आयोजन किया गया। इस परिणाम को ध्यान में रखते हुए इस वित्तीय वर्ष मे बुन्देलखंड पैकेज-2 योजना के अन्तर्गत मे स्ट्रॉबेरी एवं डैगन फूड दोनो को शामिल किया गया हैं। स्ट्रॉबेरी की इकाई लागत माच्चिंग सहित रू. 280000.00 प्रति हेक्टेयर है, जिसका 40 प्रतिशत रू. 112000.00 प्रति हेक्टेयर अनुदान हैं तथा डैगन फ्रूट (कलमकम) जिसकी इकाई लागत रू. 875000.00 का 50 प्रतिशत रू. 437500.00 प्रति हेक्टेयर अनुदान दिया जायेगा।

प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना के उपधटक ‘‘पर ड्रॉप मोर क्रॉप’’ के अन्तर्गत ड्रिप सिचाई की स्थापना के लिए लघु एवं सीमान्त कृषकों को 90 प्रतिशत तथा अन्य कृषकों को 80 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा। एव हेक्टेयर क्लोज स्पेसिंग (1.2×0.4 मी0) की इकाई लागत रू. 129078.00 है। स्ट्रावेरी ड्रैगन फ्रूट के अतिरिक्त किसी भी फसल मे ड्रिप सिचाई पद्वति स्थापित करने के लिए किसानो को 80-90 प्रतिशत का अनुदान दिया जायेगा।

अनुदान प्राप्त करने के लिए निम्न चार अभिलेख की आवश्यकता है: खतौनी,आधार कार्ड,पासबुक के पहले पृष्ठ की छायाप्रति जिसमें खाता संख्या एवं आईएफएससी कोड अंकित हो और पासपोर्ट साइज फोटोकिसी भी कार्य दिवस में कार्यालय सम्पर्क कर ऑनलाइन आवेदन करा सकते हैं। सभी इच्छुक किसानों को लाभान्वित किया जायेगा।

ड्रिप सिंचाई पद्धति स्थापित करने से सिंचाई जल की 70 प्रतिशत तक , उर्वरक की 50 प्रतिशत तक की बचत के साथ धन, श्रम एवं समय की भी बचत होगी, उत्पादन गुणवत्ता युक्त डेढ़ से दो गुना हो जायेगा, खारे पानी से भी फसलों का सफलता पूर्वक उत्पादन किया जा सकेगा, यदि मल्चिंग का प्रयोग किया जाये तो खरपतवार की समस्या समाप्त हो जायेगी। अतः सभी इच्छुक किसान भाई कार्यालय अधीक्षक राजकीय उद्यान नारायण बाग झांसी में किसी भी कार्य दिवस में सम्पर्क कर इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com