Breaking News

विदेश और आयुष मंत्रालय ने राजनयिकों के लिए किया योग सत्र का आयोजन

नई दिल्ली, विदेश मंत्रालय और आयुष मंत्रालय ने संयुक्त रूप से एक योगा सत्र का आयोजन किया। प्रवासी भारतीय भवन में आयोजित योगा सत्र का उद्देश्य राजदूतों को योग प्रशिक्षण देना है। जिससे कि 21 जून को अतंरराष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित योग कार्यक्रम में शामिल हो सकें। यहां रविवार को प्रवासी भारतीय केंद्र में आयोजित संयुक्त योगा सत्र में राजदूत, राजदूतावासों के वरिष्ठ अधिकारी, विदेश मंत्रालय के आला अधिकारी व आयुष मंत्रालय के अधिकारी शामिल हुए।

मुलायम सिंह को, राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाकर, विपक्ष लगा सकता है, बीजेपी मे सेंध

दलित का पीने का पानी मांगना हुआ गुनाह,दी उसे ये सजा……

अलग-अलग देशों के राजदूतों ने इस योग सत्र में हिस्सा लिया। ये सभी 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी बुधवार को प्रवासी भारतीय केंद्र में होने वाले योग सत्र में हिस्ला लेंगी। विदेश व आयुष मंत्रालय की ओर से आयोजित संयुक्त योग सत्र में भाग लेते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल वागले ने रोजमर्रा की दिनचर्या में योग के महत्व पर प्रकाश डाला।

जानिए राष्ट्रपति बनने के बाद ट्रंप ने कमाए कितने करोड़ रुपये

इस बीजेपी मंत्री ने बीफ पर दिया चौकाने वाला बयान

उन्होंने कहा कि योग सत्र का आयोजन के उद्देश्य केवल उद्देश्य न केवल राजनयिकों से परिचित कराना है बल्कि इसका मकसद योग के बारे में जागरूकता पैदा करना है। इसके साथ ही यह बताना है कि योग केवल स्वास्थ्य के लिए नहीं है, बल्कि यह पूरी दुनिया की शांति, सद्भाव और कल्याण के लिए एक संदेश है।

अखिलेश यादव, मुलायम सिंह को बनवाना चाहतें हैं, राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार ?

योग सत्र में हिस्सा लेने के बाद अमेरिकी राजदूत टॉलन सेशन्स ने कहा कि योग करने से शांति मिलती है और इससे पूरे दिनभर हम तरोताजा महसूस करते हैं। उन्होंने कहा कि योग हमारे लिए नया है, मैं इसका हिस्सा बनकर प्रसन्न हूं।

अखिलेश यादव, मुलायम सिंह को बनवाना चाहतें हैं, राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार ?

मोदी सरकार ख़त्म कर रही, रोजगार और आरक्षण ? जानें, कैसे ? आज होगा “सामाजिक न्याय मार्च”

 

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com