बीजेपी  के हाथ से निकल सकता है गुजरात- एबीपी न्यूज-सीएसडीएस का ऑपिनियन पोल

News85 December 5, 2017 Comments Off on बीजेपी  के हाथ से निकल सकता है गुजरात- एबीपी न्यूज-सीएसडीएस का ऑपिनियन पोल

नई दिल्ली, बीजेपी  के हाथ से निकल सकता है गुजरात, यह बात एबीपी न्यूज-सीएसडीएस के ऑपिनियन पोल से निकल कर आ रही है। पिछले महीने एबीपी-सीएसडीएस के पोल में बीजेपी काफी अच्छी स्थिति  मे थी । लेकिन महीने भर मे ही स्थिति खराब हो गयी है। 

पंकज यादव का सपना साकार, अब अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप में खेलेंगे

 शरद यादव-अली अनवर की राज्यसभा सदस्यता, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने की समाप्त

 ऑपिनियन पोल के मुताबिक कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है। पोल में दोनों दलों को 43-43 प्रतिशत वोट मिलता दिख रहा है। वहीं, 14 प्रतिशत वोट अन्य को मिल सकते हैं। एबीपी न्यूज ने लोकनीति और सीएसडीएस द्वारा किए गए ओपिनियन पोल सर्वे प्रसारित किया है। सर्वे के मुताबिक182 सदस्यों वाले गुजरात विधानसभा में बीजेपी को कुल 91 से 99 सीटें मिलने की उम्मीद है जबकि कांग्रेस की झोली में 78 से 86 सीटें जाती दिख रही हैं। अन्य के खाते में 3 से 7 सीट जाती दिख रही हैं। औसतन बीजेपी को 95, कांग्रेस को 82 और अन्य को 5 सीटें मिलती दिख रही हैं।

अखिलेश यादव बीजेपी के विकास की गुजरात मे खोल रहें हैं पोल

गुजरात में भी मायावती बीजेपी से छिनेगी सीट,जानिए रणनीति

पिछले महीने एबीपी-सीएसडीएस के पोल में बीजेपी को लगभग 113-121 सीटें जबकि कांग्रेस को 58-64 सीटें मिलने की संभावना जताई गई थी। पोल में विजय रूपाणी को अगले सीएम के रूप में देखा जा रहा था। लेकिन महीने भर मे ही स्थिति खराब हो गयी है।गुजरात में 22 साल से बीजेपी की सरकार है।

लालू यादव ने दिया बंद लिफाफा, राजनैतिक गलियारे मे मची हलचल ?

दो यादव आईएएस अफसरों की शादी बनी मिसाल, सोशल मीडिया पर मचा रही धूम

जीएसटी के चलते बीजेपी से नाखुश व्यापारी इस बार कांग्रेस की तरफ ज्यादा झुके हुए नजर आ रहे हैं। पोल के हिसाब से कांग्रेस को जहां 43 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं वहीं 40 प्रतिशत व्यापारी कर सकते हैं बीजेपी के लिए वोट। पोल में यह भी सामने आया है कि केवल 37 प्रतिशत व्यापारी जीएसटी से खुश हैं जबकि 44 प्रतिशत व्यापारी इससे नाखुश।

अखिलेश यादव का गुजरात का चुनावी दौरा, पार्टी ने जारी किया कार्यक्रम

मैकडोनाल्ड रेस्तरां ने युवती को हिजाब उतारने को कहा, जानिये फिर क्या हुआ ?

अगर हम जातिवार बात करें तो पाटीदार समाज  कांग्रेस की ओर रुख कर सकता है। पोल के मुताबिक बीजेपी से 2 प्रतिशत अधिक पाटीदार कांग्रेस के लिए वोट कर सकते हैं। आदिवासी वोटरों का भी झुकाव कांग्रेस के साथ दिख रहा है। बीजेपी से 18 फीसदी ज्यादा आदिवासी वोट बैंक भी कांग्रेस के साथ जाता दिख रहा है।दलित वोट बैंक कांग्रेस के साथ जाता दिख रहा है। बीजेपी से 18 फीसदी ज्यादा दलित वोट बैंक कांग्रेस के साथ जाता दिख रहा है।पाटीदार समुदाय बीजेपी से खिसक कर कांग्रेस की तरफ जा रहा है।

 विराट कोहली ने बनाया एक और रिकार्ड, ब्रायन लारा को पीछे छोड़ा

हार्दिक पटेल के रोड शो मे उमड़ी भीड़, जानिये क्या बोले हार्दिक ? 

कोली समाज अभी भी बीजेपी के साथ नजर आ रहा है। कोली समाज में से बीजेपी को कांग्रेस की तुलना में 26 प्रतिशत वोट अधिक मिल सकते हैं।सवर्णों का झुकाव बीजेपी के साथ है। कांग्रेस से 26 फीसदी ज्यादा सवर्ण वोट बैंक बीजेपी के साथ दिख रहा है।

विपक्ष ने ईवीएम से चुनाव जीतने का, भाजपा पर लगाया आरोप, की ये खास मांग

बीजेपी के ईवीएम घोटाले पर अखिलेश यादव ने किया बड़ा खुलासा, पेश किये सबूत…

अगर हम क्षेत्रवार बात करें तो उत्तर गुजरात में कांग्रेस बीजेपी से आगे निकलती हुई दिखाई दे रही है। वहां बीजेपी को 45 प्रतिशत और कांग्रेस को 49 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। यहां ग्रामीण इलाकों में 56 प्रतिशत वोटों के साथ कांग्रेस बीजेपी (41%) से आगे है जबकि शहरी इलाकों में बीजेपी (50%) कांग्रेस (41%) से आगे है।

खजांची पर बरसी अखिलेश यादव की कृपा, लिया ये बड़ा फैसला….

जो भाजपा को वोट देगा, वह असली पटेल का बेटा नहीं- हार्दिक पटेल 

दक्षिण गुजरात में कांग्रेस को बढ़त है और उसे 42 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। बीजेपी को यहां 40 प्रतिशत वोट से संतोष करना पड़ सकता है। यहां के ग्रामीण इलाकों में बीजेपी 44 प्रतिशत के साथ कांग्रेस (42%) से आगे है जबकि शहरी इलाकों में कांग्रेस 43 प्रतिशत वोटों के साथ बीजेपी (36%) से आगे है। मध्य गुजरात में बीजेपी (41%) ने कांग्रेस (40%) पर मामूली बढ़त हासिल की है।

मैने जिन प्रत्याशियों को अपना समर्थन दिया वे सभी जीते- शिवपाल सिंह यादव

कुरान पर शोध आधारित किताब का हुआ विमोचन

 182 सदस्यों वाले गुजरात विधानसभा का यह चौदहवां चुनाव होगा। फिलहाल 115 सदस्यों के साथ भारतीय जनता पार्टी गुजरात विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी है। दूसरे नंबर पर कांग्रेस है लेकिन पिछले दिनों उसके कई विधायक कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। हालांकि, पिछले तीन चुनावों में कांग्रेस की सीटों में इजाफा हुआ है जबकि भाजपा की सीटों में कमी होती गई है।

मायावती ने भाजपा को दी ये खुली चुनौती, कहा- अगर ईमानदार है तो चुनौती स्वीकार करे ?

यूं ही नही हुई अखिलेश यादव – ममता बनर्जी की मुलाकात, जानिए क्या हैं राज..

यह ओपिनियन पोल एबीपी न्यूज के लिए सर्वे एजेंसी लोकनीति और सीएसडीएस ने 23 से 30 नवंबर के बीच 50 विधानसभा क्षेत्रों के 200 बूथों पर जाकर 3655 लोगों की राय लेकर की है।

गुजरात के सीएम के सामने शहीद की बेटी से हुयी बदसलूकी, राहुल गांधी बोले….

राहुल गांधी ने अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति से की मुलाकात

ईवीएम मशीन मे गड़बड़ी करके, बसपा को कमजोर किया गया-मायावती

यूपी के निकाय चुनावों में, नए राजनैतिक दलों ने किया कमाल

दिल्ली के नामी अस्पताल ने, जिंदा नवजात को मृत बताकर सौंपा, जांच के आदेश

 

Spread the love
loading...
loading...

Comments are closed.