Breaking News

मायावती द्वारा जब्त किया अरबों का खजाना, अब जाकर राजा भैया को मिला वापस

इलाहाबाद, पूर्व कैबिनेट मंत्री रघुराज प्रताप सिंह (राजा भैया) के पिता व प्रतापगढ़ भदरी रियासत के राजा उदय प्रताप सिंह ‘भैया’ का अरबों का खजाना 14 साल बाद उन्हें वापस मिला है। ये खजाना 2003 में यूपी की मायावती सरकार में जब्त कर लिया गया था।

अखिलेश यादव ने लोकतंत्र पर जनता का भरोसा पुख्ता करने के लिये उठाया कदम- समाजवादी पार्टी

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता की हुई हत्या, कानून व्यवस्था पर उठ रहे सवाल

केंद्रीय मंत्री हेगड़े के इस बयान पर मचा बवाल, क्या ये भी भाजपा का एक प्रयोग है ?

2003 में, राजा भैया और मायावती में छत्तीस का आंकड़ा था। राजा भैया के खिलाफ तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती ने सख्त कार्यवाही की थी। 26 जनवरी 2003 को राजा भैया के भदरी स्थित राजमहल से पुलिस ने छापेमारी की और अरबों का खजाना बरामद किया।4 बड़े बक्सों में हीरा-पन्ना-मोती और सोने से भरे आभूषण का ये खजाना जब्त कर लिया गया । संपत्ति बरामद करने के बाद उसे जिला कोषागार के डबल लॉक में जमा करा दिया गया था।जिसके बाद राजा भैया पर पोटा आदि की धाराएं लगी और राजा भैया समेत कई लोग जेल चले गए।

नेपाल के युवा नेता कौशल कुमार यादव ने, भारत- नेपाल रिश्तों को बताया अहम

समाजवादी पार्टी मे बड़ा फेरबदल, अखिलेश यादव ने बदले कई जिला व नगर अध्यक्ष

जन समस्याओं को लेकर अशोक यादव राज्यपाल से मिले, कहा- ट्रिपल इंजन सरकार, नही कर रही कोई काम

राजमहल में हुई कार्रवाई के बाद हड़कंप मच गया था। पूरे देश भर के राजघरानों ने इस पर अपना विरोध भी दर्ज कराया था लेकिन सरकार ने कार्रवाई के बाद इस मामले में मुकदमा भी शुरू कर दिया। 2012 के विधान सभा चुनाव मे बसपा हारी और सपा की सरकार बनी। राजा भैया रिकॉर्ड मतों के साथ निर्दलीय विधायक भी चुने गये।राजा भैया ने सपा सरकार को अपना समर्थन दिया और मंत्री बने।

लालू यादव के बीजेपी से समझौता कर हाथ मिलाने पर, तेजस्वी यादव ने किया बड़ा खुलासा ?

 बैलेट पेपर से मतदान कराने को लेकर, अखिलेश यादव ने लिया ये बड़ा फैसला…  

 रूपाणी मंत्रिमंडल मे हार्दिक-अल्पेश-जिग्नेश इफेक्ट आया नजर, मात्र 2 राजपूत-1 ब्राह्मण शामिल

उसी समय,  सपा सरकार ने राजा भैया और उनके पिता राजा उदय प्रताप सिंह के खिलाफ लगे पोटा को हटा लिया। तत्कालीन डीएम आरएस वर्मा ने इस मामले में चल रहे मुकदमे की सुनवाई फुल स्पीड में शुरू की और मुकदमे का भी निपटारा कर दिया। जिलाधिकारी ने राजा उदय प्रताप सिंह की संपत्ति को रिलीज करने का आदेश दिया, लेकिन मामला अरबों रुपए का था। ऐसे में इस मामले को लेकर राजा भैया के खिलाफ आयकर विभाग की टीम जांच में जुट गई। अब जाकर आयकर विभाग ने हरी झंडी दी है तो राजा भैया का राज खजाना एक बार फिर से उन्हें सौंप दिया गया है।

शिवपाल सिंह यादव के फिर बागी तेवर, मजबूत राजनैतिक विकल्प तैयार करने के दिए संकेत

जानिये, भाजपा राज मे क्या है थानों का रेट ?

भाजपा राज में चला देश किस ओर, काम किसी और का फीता काटे कोई और- अखिलेश यादव

लोकसभा उपचुनाव में कांग्रेस ने चला बड़ा दांव, डॉ० कर्ण सिंह यादव को बनाया उम्मीदवार

‘राजनैतिक द्वेष’ के शिकार हैं लालू यादव, व्यापमं पर कार्रवाई क्यों नहीं?- तारिक अनवर

 

Spread the love
loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com