अबकी जेल की गर्मी नही झेल पायेंगे सहारा श्री

saharaनई दिल्ली,सहारा प्रमुख सुब्रत राय के वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट से उन्हें पैरोल पर छोड़ने की मांग करते हुए कहा कि जेल में रॉय की तबीयत बिगड़ती जा रही है और वह जेल में यह गर्मी नहीं झेल पाएंगे। सहारा की तरफ से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता राजीव धवन ने रॉय की सेहत में ‘गिरावट’ की बात उठाई और उनको जेल से छोड़ने का अनुरोध किया। उन्होंने यह भी कहा कि बाजार नियामक सेबी को 66 संपत्तियां बेचने के लिए अधिकृत किया जा चुका है। धवन ने कहा, ‘न्यायालय को उनके मुवक्किल को पैरोल पर छोड़ने का विचार करना चाहिए या उसे घर में नजरबंद करने का अदेश देना चाहिए। मुझे इस न्यायालय के आदेशों के अनुपालन के लिए पकड़ा गया है और मुझे किसी अन्य अपराध के लिए नहीं पकड़ा गया है। सेबी के पास संपत्ति और मशीनरी दोनों है- इस मौके पर कृपया सभी चीजों पर गौर करें और मुझे पैरोल दें। मेरे मुवक्किल का स्वास्थ्य बिगड़ रहा है और हो सकता है वह जेल में गर्मी का एक और मौसम नहीं झेल पाएं।’

इस पर पीठ ने कहा, ‘जब तक निवेशकों का पैसा नहीं लौटाया जाता, हमें आदेश का पालन होता नहीं दिखता। किसी को जेल में रखना खुशी की बात नहीं है। परिस्थिति में बदलाव लाना होगा और हमारे आदेश का ठोस तरीके से पालन करना होगा।’ जब पीठ ने सहारा की भारत और विदेशों में संपत्ति का ब्योरा मांगा, धवन ने इस बारे में निर्देश प्राप्त करने और बंद लिफाफे में संपत्ति की सूची न्यायालय को सौंपने के लिए दो हफ्ते का समय मांगा। इस मामले की अगली सुनवाई के लिये 11 मई की तारीख मुकर्रर की गई है।

इससे पहले, सेबी की तरफ से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता अरविंद पी दतार ने अदालत को सूचित किया कि बाजार नियामक ने सहारा समूह की संपत्ति बेचने के लिए न्यायाधीश बी एन अग्रवाल की सलाह से एसबीआई कैपिटल मार्केट्स और एचडीएफसी रीयल्टी की सेवा ली है। उन्होंने कहा कि 66 संपत्ति की बिक्री प्रक्रिया चार महीने में पूरी होगी और बिक्री प्रक्रिया का पहला चरण अगले हफ्ते शुरू होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *