Breaking News

उत्तर प्रदेश सरकार विज्ञापन तक सीमित होकर रह गई है- भाजपा

keshav-prasad-maurya-7-08-1460117669मेरठ,  भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य अखिलेश यादव को देश का सबसे विफल मुख्यमंत्री करार देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार विज्ञापन तक सीमित होकर रह गई है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी के गृह जनपद मेरठ पहुंचे केशव मौर्य ने रविवार को संवाददाताओं से कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो गई है। प्रदेश में अपराधी, माफिया सरकार के मंत्रियों के संरक्षण में पल रहे हैं। हालात यह हैं कि प्रदेश में अपराधी पुलिस से नहीं बल्कि पुलिस अपराधियों से डरती है। प्रदेश में 150 से अधिक पुलिस के अधिकारी से लेकर सिपाही मारे जा चुके हैं, जबकि इतनी संख्या में अपराधी नहीं मारे गये हैं। उ

न्होंने कहा, अखिलेश यादव सरकार विज्ञापन तक सीमित होकर रह गई है। अखिलेश विकास विरोधी मुख्यमंत्री हैं। गांव, गरीब, किसान और नौजवान विरोधी मुख्यमंत्री हैं। देश के सबसे असफल मुख्यमंत्री हैं। नौजवानों को सबसे अधिक धोखा देने वाले मुख्यमंत्री हैं। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना पहले लागू नहीं की। लागू की तो उसमें गन्ने की फसल को जोड़ दिया। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस ने भ्रष्टाचार में पीएचडी कर ली है। 12 लाख करोड़ का केन्द्र में कांग्रेस की सरकार में घोटाला हुआ था। घोटाले के समय सपा, बसपा ने समर्थन दिया था।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी इस समय प्रदेश में खाट पंचायतें कर रहें हैं। 10 सालों में कांग्रेस ने घोटाला किया और 2014 के लोकसभा चुनाव में सपा के समर्थन से राहुल और सोनिया जीती थीं। उसकी कीमत अदा करने के लिए वह खाट पंचायतें कर रहे हैं। लेकिन जनता ने उनकी खटिया खड़ी करने का काम किया है। मौर्य ने आरोप लगाया कि मायावती ने गरीबों की गरीबी और दलितों के खून को बेचकर जो अमीरी अर्जित की है। उससे उनका मतदाता 2014 के चुनाव में ही उनको छोड़ गया था।

उन्होंने कहा कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर दलितों के ही नेता नहीं बल्कि वह देश के हर नागरिक के मन में स्थान रखते हैं। भाजपा अंबेडकर के अपमान को बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि आजम खान प्रदेश सरकार के वरिष्ठ मंत्री हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री की उपस्थिति में बाबा साहेब का अपमान किया है। भाजपा उनको मंत्रीपद से बर्खास्त करने और उनके खिलाफ अभियोग दर्ज कर कार्रवाई करने की मांग करती है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने बसपा सुप्रीमो मायावती की रविवार को हुई सहारनपुर रैली का जिक्र करते हुए कहा, मायावती ने रैली में अपने भतीजे अखिलेश यादव पर प्रहार ना कर उनको बचाने का प्रयास किया। मुझे लगता है कि 22 बसपा के जो तत्कालीन मंत्री थे जो कि भ्रष्टाचार के मामलों में लिप्त थे उनको बचाने के लिए मायावती ने ऐसा किया। मौर्य ने कहा कि प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ रही है। बेरोजगारी का आलम यह है कि तीन सौ पद के लिए अगर रिक्ति निकलती है तो 23 लाख आवेदन होते हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com