Breaking News

खुले में शौच से मुक्त होने वाली करजी बनी पहली ग्राम पंचायत

karji_village-300x221बांसवाड़ा। जिले में खुले में शौच से मुक्त होने वाली प्रथम करजी ग्राम पंचायत के नागरिको को न तो सम्मान मिल पाया न ही अनूठे कार्य को अंजाम देने वाले युवाओं को संबल मिल पाया। ग्रामीणों ने इस गौरव को अर्जित करने के बाद भव्य समारोह भी आयोजित किया जिसमें जिले के सभी दलो के चुने हुए जनप्रतिनिधि भी सम्मिलित हुए लेकिन गांव वालों की हौसला अफजाई करने का प्रयास किसी ने नहीं किया। 1 सितम्बर को इस गांव में खुले से शौच से मुक्त के लिए पहली बैठक उपखंड चांदमल वर्मा के सानिध्य में हुई थी। इस बैठक में गांव की सरपंच आसिता पारगी, सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश पाटीदार, गणेश पटेल, विनोद, पवन पाटीदार, खेमजी, कुरिया, लालाभाई, राजेन्द्र टेलर, गणेश, कालूराम, सुखलाल पारगी, उपसरपंच रमेश पटेल, रमण पाटीदार, रविन्द्र पाटीदार आदि शामिल हुए। इन लोगों ने जिला समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) राकेश पण्ड्या, विकास अधिकारी अशोक गुप्ता, निर्मला मईड़ा, उर्वशी, कूपड़ा के प्रधानाध्यापक पंकज त्रिवेदी, रसीक पटेल,चन्द्रकांत खोड़निया, चंद्रशेखर व नितेश द्विवेदी के साथ टीमें गठित की। रोज सुबह पांच बजे ये लोग गांव का चक्कर लगाने लगे और बैठक में निर्धारित किये गये खुले में शौच से मुक्त स्थलों का नक्षा तैयार कर उन मार्गों पर गये और लोगों से समझाईश की इसका सकारात्मक परिणाम स्वरूप करजी को यह गौरव हासिल हुआ। गांव में इस उपलब्धि तक एक भी व्यक्ति ने प्रोत्साहन राशि नहीं उठाई। लेकिन इसके बावजूद भी गांव वालों को जिला प्रशासन की ओर से सम्मान तक नहीं मिल पाया। मिलेगी दस लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि
समारोह के मुख्य अतिथि राज्यमंत्री जीतमल खांट ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत ताजों वागड़ अभियान में प्रथम ग्राम पंचायत स्थान प्राप्त करने पर जिला प्रशासन द्वारा ग्राम पंचायत को पांच लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि की प्रदान की जाएगी। वहीं विधायक मद से भी दस लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि ग्राम पंचायत को विकास के लिए दिलायी जाएगी। उन्होंने करजी ग्राम पंचायत को राज्य स्तर पर सम्मानित करने की सिफ ारिश का आश्वासन दिया। समारोह में बागीदौरा विधायक महेन्द्रजीतसिंह मालवीया ने कहा कि जिले में साक्षरता अभियान, अल्प बचत अभियान की तर्ज पर ताजों वागड़ अभियान को सफल बनाने का आह्वान किया।65 जनों को किया सम्मानित
समारोह के दौरान अतिथियों ने ग्राम पंचायत करजी के जागरूक बुजूर्ग, युवाओं एवं महिलाओं तथा बालक-बालिकाओं द्वारा इस अभियान में प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष दिए गए सहयोग पर ग्राम पंचायत की ओर से प्रंशसा पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। इससे पूर्व शनिवार प्रात: करजी गांव में जिले की प्रथम ग्राम पंचायत खुले में शौच से मुक्त बनने एवं शतप्रतिशत शौचालयों के निर्माण पूर्ण होने के उपलक्ष्य में गौरव यात्रा निकाली गई। कार्यक्रम में बागीदौरा प्रधान श्रीमती शांता गरासिया, गांगड़तलाई प्रधान सुभाष तम्बोलिया, बागीदौरा पंचायत समिति क्षेत्रा के सदस्यगण एवं जिला परिषद के सदस्यगण, करजी ग्राम पंचायत के सरपंच श्रीमती असिता पारगी , वार्डपंचों सहित कार्यशाला में करजी के नागरिकगण, अन्य ग्राम पंचायतों के आमंत्रित प्रतिनिधिगण व प्रभारी अधिकारीगण उपस्थित थे। असली मान तो तालाब भरने पर
ग्रामीणों का कहना है कि उनका तालाब भर जाये तो ही उन्हें असली मान मिलेगा। इन लोगों ने बताया कि गांव से लगभग दो किमी. दूर माही की नजर आ रही है और उसका पानी नंदोई माता तक पहुंचा दिया गया है ऐसे में अगर पानी का रूख करजी की ओर कर दिया जाये तो वे स्वच्छता के साथ ही राष्ट्र के विकास में वे अपनी महति भूमिका निभा सकेंगे। गांव वाले इसके लिए 20 फीसदी हिस्सा राशि देने को भी तैयार है।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com