Breaking News

झांसी में बनने जा रहा है हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद संग्रहालय

झांसी, हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की कर्मभूमि वीरांगना नगरी झांसी में उनके जीवन संघर्ष और विविध पहलुओं को दर्शाने के लिए स्मार्ट सिटी योजना के तहत एक संग्रहालय बनाया जा रहा है।

झांसी मंडलायुक्त डॉ़ अजयशंकर पांडेय ने झांसी स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत मेजर ध्यानचन्द के संग्रहालय की योजना को बुधवार को अन्तिम रूप दिया। झांसी के लोगों के गौरव मेजर ध्यानचन्द के बारे में यहां के लोगों को लगभग हर जानकारी मुहैया कराने तथा देश और विदेश के किसी भी कोने से उनके बारे में जानकारी की उत्सुकता रखने वालों के लिए मंडलायुक्त ने इस पहल की शुरूआत की है।

मंडलायुक्त ने निर्देश दिये कि मेजर ध्यानचन्द संग्रहालय के क्रियान्वयन के समय, प्रोजेक्ट के निर्माण के समय उनके सुपुत्र विख्यात ओलम्पियन अशोक ध्यानचन्द की सलाह अवश्य ली जाए और उन्हें पूरे प्रोजेक्ट में एक विशेषज्ञ के रूप में शामिल किया जाए। साथ ही इस संग्रहालय के प्रबन्धन के लिए जो भी व्यवस्था बने उसमें भी उनको स्थान दिया जाए।

डॉ़ पांडेय ने बताया कि इस संग्रहालय में विभिन्न ज़ाेन बनाये जायेंगे और अलग अल ज़ोन में हॉकी के जादूगर के जीवन से जुड़ी अलग अलग तरह की जानकारी लोगों को मुहैया करायी जायेगी। प्रथम ज़ोन में थीम्स स्कल्पचर, दूसरे में मेजर ध्यानचंद के जन्म और परिवार के बारे में, जोन 3 बचपन और शिक्षा, जोन 4 सेना में शामिल होने, जोन 5 में ऐतिहासिक हॉकी मैच, जोन 6 में ओलंपिक मैच, जोन 7 में भारतीय खेलों में योगदान, जोन 8 में कोच के रूप में मेजर ध्यानचंद, जोन 9 में फेम की दीवार, जोन 10 में फोटो गैलरी- राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय नेताओं के साथ ध्यानचंद, जोन 11 में ध्यानचंद के बारे में उनके समकालीनों द्वारा बोली जाने वाली संग्रहीत जानकारी और वीडियो, जोन 12 में ध्यानचंद के अंतिम दिन, जोन 13 में ध्यानचंद के कुछ बेहतरीन गोल आर्काइव्य विजुअल डिस्प्ले, जोन 14 में आने वाली पीढ़ियों के लिए खेलों में करियर विकल्प, जोन 15में खेल प्रशिक्षण संस्थान,जोन 16 में देश में खेलों के लिए सरकारी सहायता और पहल, जोन 17 में सम्मान, जोन 18 में हॉकी स्टेडियम का टेबल टॉप स्केल मॉडल, जोन 19 में श्रद्धाजलि और प्रशंसा, जोन 20 में संग्रहीत समाचार पत्र और डाक टिकट प्रदर्शन, जोन 21: बच्चों के लिए स्पोर्ट्स कॉर्नर, जोन 22 में क्विज कॉर्नर, जोन 23 में फीडबैक, जोन 24 में स्मारिका काउंटर ,जोन 25 में रिसेप्शन और जोन 26 में कलाकृतियों का प्रदर्शन किया जायेगा।

मंडलायुक्त ने यह भी अवगत कराया गया कि मेजर ध्यानचन्द के संग्रहालय में एक-एक पहलू का प्रदर्शन डिजिटल माध्यम से होगा तथा इसके अन्तर्गत कुल 26 जोन बनाये गये है तथा उक्त सभी कार्य रानी लक्ष्मीबाई पार्क, झांसी में किए जा रहे हैं जिनकी कुल लागत रू0 19 करोड़ 69 लाख 80 हजार 295/- है और यह कार्य माह नबम्बर 2022 तक पूर्ण हो जाएगा।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com