Breaking News

नोटबंदी मे मोदी को नोबेल पुरस्कार- 16,000 करोड़ कमाए पर 21,000 करोड़ गंवाए!

नई दिल्ली, नोटबंदी को लेकर बुधवार को रिजर्व बैंक के आंकड़ों की घोषणा के बाद से, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आम से लेकर खास तक के निशाने पर आ गये हैं. इन आंकड़ों के बाद सवाल उठाए जा रहे हैं कि जब करीब-करीब 99 फीसदी बंद नोट वापस आ गए तो फिर नोटबंदी की इतनी बड़ी कसरत का मतलब क्या निकला. नकली नोट का आंकड़ा भी उम्मीद से बहुत कम निकला.

नोटबंदी आखिर साबित हुआ, पीएम मोदी का फ्लाप शो, रिजर्व बैंक ने खोली पोल?

कारगिल शहीद राम समुझ यादव को, अखिलेश यादव ने दी एेसे श्रद्धांजलि… 

भारतीय रिजर्व बैंक  द्वारा जारी सालाना रपट में कहा गया है कि पिछले वित्त वर्ष में 1,000 रुपये के कुल 8.9 करोड़ नोट, जिसका मूल्य 8,900 करोड़ रुपये हैं, वह प्रणाली में वापस नहीं लौटा, जबकि उस समय प्रचलन में 1,000 रुपये के कुल 670 करोड़ नोट थे. इस तरह आठ नवंबर, 2016 को नोटबंदी की घोषणा के दौरान देश में प्रचलन में रहे 1,000 रुपये के 1.3 फीसदी नोट ही वापस नहीं आए हैं.

अब केन्द्र में बीजेपी की सरकार नहीं आने वाली – अखिलेश यादव

  भाजपा ने जारी की सूची, देखिये कौन-कौन लड़ेगा विधान परिषद चुनाव 

रिजर्व बैंक के आंकड़ों ने साबित कर दिया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी वाला पसंदीदा प्रयोग फ्लॉप शो रहा, जिसने सिर्फ लोगों की जानें ली, बेरोजगार किया और परेशान किया. दुकानों, चौराहों , आफिसों से लेकर सोशल मीडिया तक पर अब लोगों ने प्रधानमंत्री मोदी पर तीखा व्यंग्य शुरू कर दिया है. खास बात यह है कि नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर  व्यंग्य करने मे आम से लेकर खास तक शामिल है.

गुजरात विधानसभा चुनाव- फिर भाजपा को मात देने के लिये, कांग्रेस की ये है नई रणनीति..

पिट रही पुलिस और पीट भी रही, पर जनता पिस रही- समाजवादी पार्टी

 पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि “आरबीआई ने 16,000 करोड़ रुपये कमाए, लेकिन नए नोटों की छपाई में 21,000 करोड़ रुपये गंवाए! अर्थशास्त्रियों को नोबल पुरस्कार दिया जाना चाहिए.”

समाजवादी पार्टी के, लखनऊ मे होने वाले, प्रदेश स्तरीय सम्मेलन पर लगी रोक

उत्तर प्रदेश विधान परिषद के उपचुनाव- चुनाव आयोग ने अचानक किया बड़ा परिवर्तन

उन्होंने अगले ट्वीट में कहा, “99 फीसदी नोट वैधानिक तौर पर बदले जा चुके हैं! क्या नोटबंदी काले धन को सफेद करने के लिए बनाई गई योजना थी.”

 सीएम योगी ने क्रिकेटर पूनम यादव और दीप्ति समेत इन खिलाड़ियों को किया सम्मानित

संत रामपाल के मामले मे, कोर्ट का आया बड़ा फैसला

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा कि- नोटबंदी की वजह से कई लोगों की जान गई और आर्थिक नुकसान भी हुआ. ऐसे में क्या प्रधानमंत्री अब इसकी जिम्मेदारी लेंगे.

लखनऊ में मेट्रो ट्रेन पर चलने का इंतजार हुआ खत्म, लीजिये सफर का आनंद

 फिर हुआ एक रेल हादसा, 6 डिब्बे बेपटरी हुए, राहत कार्य जारी

माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी ने मोदी सरकार पर तीखा हमला किया. उन्होंने कहा कि, ‘मोदी सरकार के नोटबंदी फैसले ने भारत की अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान पहुंचाया है. यह एक राष्ट्र विरोधी कृत्य है’.

अपने ट्विटर हैंडल पर येचुरी ने इस कदम के औचित्य पर सवाल उठाए. उन्होंने लिखा कि, ‘ नोटबंदी के दौरान कथित रूप से 100 से ज्यादा जानें गईं और गरीब सबसे बुरी तरह प्रभावित हुए. नोटबंदी के लिए गिनाए गए उद्देश्य, भ्रष्टाचार से जंग, काले धन, जाली मुद्रा और आतंकवाद पर लगाम सब औंधे मुंह गिर पड़ा’.

“भाजपा भगाओ, देश बचाओ” रैली की एतिहासिक सफलता पर, तेजस्वी यादव का धन्यवाद पत्र

बीजेपी, दिल्ली मे आम आदमी पार्टी से बुरी तरह हारी, पर गोवा मे जीती

कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीपसिंह सुरजेवाला ने रिजर्व बैंक के जारी आंकड़ों का हवाला देते हुए से यहां कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस पर देश से माफी मांगनी चाहिए।  कांग्रेस नेता ने कहा कि नोटबंदी बुरी तरह से असफल साबित हुई है। यह एक ‘आपदा’ थी जिसमें 104 लोगों की जान चली गई और ‘भ्रष्ट’ लोगों ने ‘भारी मात्रा में कमाई’ की।

2019 मे, बीजेपी को हराने का, अखिलेश यादव ने बताया जबर्दस्त फार्मूला

प्रधानमंत्री मोदी की कमियों पर, तेजस्वी यादव ने गढ़ा नया नारा

 

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com