मुलायम सिंह ने दीपावली से पहले ही सैफई मे फोड़ा, राजनैतिक बम.. सबको चौंकाया ?

इटावा, दीपावली से ठीक एक दिन पहले, अपने पैतृक गांव सैफई मे राजनैतिक बम फोड़कर समाजवादी पार्टी संरक्षक एवं पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने सबको चौंका दिया है. मुलायम सिंह यादव ने एक बार फिर यह सिद्ध कर दिया है कि उनके अगले कदम के बारे मे अनुमान लगाना मुश्किल ही नही नामुमकिन है.

चौंकाने वाला खुलासा-जानिये, समाजवादी पार्टी का रिमोट किसके हाथ मे है ?

जानिये, लालू यादव ने क्यों कहा कि ‘वह ताज की बात करें तो तुम कामकाज की बात करना’ ?

आजम खान का बीजेपी पर बड़ा वार- गुलामी की निशानियों को ना मिटाना, राजनीतिक नपुंसकता है.

मुलायम सिंह यादव हमेशा की तरह इस साल भी दीपावली मनाने बुधवार को अपने पैतृक गांव सैफई पहुंचे. सैफई पहुंचते ही  मुलायम सिंह यादव ने अपने विरोधी और समाजवादी पार्टी के नये प्रमुख राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव के घर पहुंचकर सबको चौंका दिया. मुलायम सिंह अपने छोटे भाई प्रोफेसर रामगोपाल यादव से मिलने उनके सैफई स्थित आवास पर पहुंचे.

समाजवादी पार्टी मे मेयर के टिकट के लिये, राष्ट्रीय खिलाड़ी से लेकर पूर्व विधायक तक दावेदार

समाजवादी पार्टी को राष्ट्रीय पार्टी बनाने की ओर, अखिलेश यादव के बढ़ते कदम

अखिलेश यादव ने घोषित की सपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी, देखिये किसका कद बढ़ा, किसका घटा

रामगोपाल यादव ने उनके पैर छूकर आशीर्वाद लिया. सूत्रों के अनुसार, समाजवादी पार्टी के दोनों वरिष्ठ नेताओं के बीच करीब एक घंटे तक बातचीत हुई. बातचीत की गंभीरता का अंदाजा महज इस बात से लगाया जा सकता है कि कोई भी बात अब तक सार्वजनिक नहीं की गई है. बातचीत का कोई ब्योरा नहीं मिल सका है. दोनों के बीच हुई बातचीत के दौरान वहां कोई तीसरा व्यक्ति भी मौजूद नहीं था.

ताजमहल पर सपा ने दिया संगीत सोम को करारा जवाब…….

IAS अफसर काम की शैली बदलें, न्यूनतम शासन- अधिकतम प्रशासन सुनिश्चित करें-उपराष्ट्रपति

भाजपा के कार्यक्रम में, हार्दिक पटेल की अारक्षण आंदोलन समिति का हंगामा, 40 गिरफ्तार

समाजवादी पार्टी में छिड़े संग्राम के बाद लंबे समय से दोनो भाईयों के बीच कोई मुलाकात नहीं हुई थी. दोनों नेताओं के बीच, परिवारिक झगड़े को लेकर दो गुट बन गये थे. मुलायम सिंह ने रामगोपाल यादव पर अखिलेश यादव को ‘बहकाने’  और बर्बाद करने तक का आरोप लगाया था. यहां तक की मुलायम सिंह ने, रामगोपाल यादव को पार्टी से बाहर तक कर दिया था. जिसकी प्रतिक्रिया मे, रामगोपाल यादव ने मुलायम सिंह को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाकर अखिलेश यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनवा दिया था।

भाजपा राज मे गायों के मरने का सिलसिला जारी, ढाई महीने मे 500 गायों की मौत

समाजवादी छात्रों ने मुख्यमंत्री योगी को दिया, उन्ही की भाषा मे जवाब…

इलाहाबाद छात्रसंघ चुनाव मे सपा की जीत पर, अखिलेश यादव ने कुछ एेसे दी प्रतिक्रिया

प्रोफेसर रामगोपाल यादव और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के बीच हमेशा छत्तीस का रिश्ता रहा है. लेकिन इस बीच जैसे राजनैतिक घटनाक्रम समाजवादी पार्टी मे तेजी से बदल रहें हैं, उनको देखते हुये यह मुलाकात समाजवादी पार्टी की राजनीति और मुलायम सिंह परिवार के आपसी रिश्तों मे एक नया टर्न लेगी.

लालू यादव ने सीबीआई के पूछताछ के तरीके का किया खुलासा ?

लोहिया ट्रस्ट को मिला नया कार्यालय प्रभारी

जानिये, आरक्षण पर क्या है आरएसएस का रूख ?

यूपी मे महिलाओं के साथ दुष्कर्म पर, समाजवादी पार्टी का बीजेपी पर बड़ा हमला

पूर्व राष्ट्रपति की पुस्तक के लोकार्पण पर, गठबंधन सरकारों के बड़े रहस्यों का हुआ खुलासा ?

चुनावों में गठबंधन को लेकर अखिलेश यादव का बड़ा बयान, जानिये क्या बोले ?

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com