Breaking News

योगी सरकार बनते ही, बीजेपी जिलाध्यक्ष पर लगे भ्रष्टाचार के 33 केस खत्म

लखनऊ, भ्रष्टाचार समाप्त करने का वादा कर सत्ता मे आयी योगी सरकार, ने आते ही भ्रष्टाचार मे लिप्त अपने लोगों को संरक्षण देने का कार्य शुरू कर दिया है। बीजेपी के जिलाध्यक्ष पर लगे, 33 केस पर पिछले दो महीने में यूपी पुलिस ने  क्लोजर रिपोर्ट जमा कर दी है। इनमें से ज्यादातर मामलों में पुलिस ने मई में स्थानीय अदालत को क्लोजर रिपोर्ट सौंपी। ये मामले जालसाजी और धोखाधड़ी से जुड़े हुए थे।

अमित शाह के गांधीजी को चतुर बनिया कहने पर, क्या कहा मोरारी बापू ने…

सीएम योगी, गोरखनाथ मन्दिर में, योग प्रशिक्षण शिविर का करेंगे उद्घाटन-डाॅ0 चन्द्रजीत यादव

डाक्टरों की तबादला नीति को मिली मंजूरी, जानिये कौन डाक्टर अब कहां रह पायेगा ?

बीजेपी के जिलाध्यक्ष रवींद्र सिंह राठौर नवाबगंज नगरपालिका के चेयरमैन रहे हैं। 14 फरवरी 2015 को बरेली के नवाबगंज पुलिस थाने में बीजेपी के जिलाध्यक्ष रवींद्र सिंह राठौर के खिलाफ  नवाबगंज नगरपालिका में जालसाजी और धोखाधड़ी से जुड़े हुए 33 मामले दर्ज किए गए थे। साल 2001 में चेयरमैन रहने के दौरान राठौर एवं अन्य पर नगपालिका की 33 दुकानों को दोबारा आवंटित करने को लेकर 33 एफआईआर दर्ज की गई थीं। नवाबगंज पुलिस थाने के स्टेशन हाउस अफसर प्रमोद कुमार शर्मा के अनुसार राठौर पर आरोप लगाया गया था कि ये आवंटन जाली दस्तावेज के आधार पर किए गए थे। लेकिन प्रदेश मे योगी सरकार आते ही, पिछले दो महीने में यूपी पुलिस ने इन सभी मामलों में क्लोजर रिपोर्ट जमा कर दी है।

अखिलेश यादव की तस्वीर वाले बैग, गुजरात सरकार ने बांटे, जांच के आदेश

केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान के स्वास्थ्य में, तेजी से सुधार, लौटेंगे स्वदेश

राठौर एवं अन्य पर आईपीसी की धोखाधड़ी की धारा 420, धारा 467, धारा 468, धारा 471 और धारा 392 के तहत मामला दर्ज किया गया था। इन सभी मामलों की जांच बरेली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने की थी। पुलिस क्राइम ब्रांच के जांच अधिकारी सुभाष चंद्रा त्यागी ने बताया, “अभी अदालत ने क्लोजर रिपोर्ट स्वीकार नहीं की है।”

योगी मंत्रिमंडल ने दी कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों को मंजूरी, जानिये क्या हैं आपके फायदे के ?

यूपी मे एक हजार डाक्टरों की होगी भर्ती, जानिये कैसे ?

राठौर के खिलाफ पुलिस ने शहला ताहिर की शिकायत पर केस दर्ज किए थे। ताहिर समाजवादी पार्टी के समर्थन से इस वक्त नवाबगंज नगरपालिका चेयरपर्सन हैं। ताहिर का आरोप है कि “बीजेपी सरकार ने राठौर पर दर्ज मामले खत्म करने में मदद की है। मैं इसे अदालत में चुनौती दूंगी और आगे जांच के लिए आदेश की मांग करूंगी।” बरेली के स्पेशल एसपी जोगेंद्र कुमार कहते हैं, “सबूतों के अभाव में क्लोजर रिपोर्ट दायर की गई है।”

हाईकोर्ट के दलित जज सीएस कर्णन, फरारी मे ही हुये रिटायर

राष्ट्रपति-उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए, विपक्ष ने उपसमूह को सौंपी जिम्मेदारी, देखिये किनके हैं नाम

 

 

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com