Breaking News

विदेश से लखनऊ पहुंचा यात्री मिला कोरोना संक्रमित, ओमीक्रॉन संक्रमण की रिपोर्ट का इंतजार

लखनऊ,  ब्रिटेन से दुबई होते हुये लखनऊ आया एक यात्री मंगलवार को कोरोना संक्रमित पाया गया है। स्वास्थ्य विभाग ने तत्परता दिखाते हुये मरीज में ओमिक्रोन वेरियेंट की पुष्टि के लिए जीनोम सिक्वेंसिंग हेतु नमूना जांच के लिये यहां स्थित केजीएमयू भेज कर मरीज को स्थानीय लोकबंधु अस्पताल में भर्ती करा दिया है।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार 24 वर्षीय संक्रमित मरीज गोमतीनगर का निवासी है। यहां चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद उसकी कोरोना जांच हुयी। जांच में संक्रमित पाये जाने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए उसे लोकबंधु अस्पताल में भर्ती कराया है।

लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी के कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, मरीज का नमूना जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए केजीएमयू भेजा गया है। इसकी रिपोर्ट आने तक मरीज अस्पताल में भर्ती रहेगा। इसके अलावा जिस विमान से वह लखनऊ आया था, उसमें सवार सभी 156 यात्रियों की भी कोरोना जांच की गई है। इनमें से संक्रमित के पास बैठे लगभग बीस यात्रियों की आरटीपीसीआर जांच करायी गयी है।

इसके अलावा पिछले 24 घंटों में देश विदेश से सोमवार को लखनऊ आये लोगों की कोरोना जांच में दो महिलायें संक्रमित पायी गयीं। ये दोनों लखनऊ की निवासी हैं। आरटीपीसीआर में भी दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। इनमें से एक गोवा और दूसरी कनाडा से लखनऊ लौटी थी। वहीं दूसरी महिला कनाडा से आई थी।

स्वास्थ्य विभाग ने विदेशों से लखनऊ पहुंचने वाले संक्रमित लोगों के लिए अलग से 20 बेड आरक्षित किये हैं। कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफे को देखते हुये स्वास्थ्य विभाग ने रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और एयरपोर्ट पर सैंपलिंग की प्रक्रिया तेज कर दी है। इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय उड़ानों से आने वाले यात्रियों की विषेष निगरानी की जा रही है।

लखनऊ के अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. मिलिंद वर्धन ने बताया कि विदेश से आए व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण पाये जाने पर उन्हें लोकबंधु अस्पाताल में भर्ती कराने की व्यवस्था की गयी है। इन मरीजों के लिये अतिरिक्त 20 बेड रखे गये हैं, ताकि इन्हें तत्काल चिकित्सा सुविधा मुहैया करायी जा सके। इसके अलावा औचक परीक्षण (रैंडम सैंपलिंग) में संक्रमित पाये जाने वालो के नमूने आरटीपीसीआर और जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे जा रहे हैं।

डा. वर्धन ने कहा कि जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए अब तक 30 नमूने भेजे जा चुके हैं। इनमें 22 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है, जबकि शेष आठ की रिपोर्ट का अभी इंतजार है। लखनऊ में अभी तक किसी भी कोरोना संक्रमित मरीज में ओमिक्रोन वेरियेंट की पुष्टि नही हुई है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com