Breaking News

समाजवादी पार्टी की 25 वर्ष की संघर्ष यात्रा- युवा पार्टी, युवा नेतृत्व

लखनऊ, समाजवादी पार्टी की स्थापना के 25 वर्ष पूरे हो गये। 05 नवम्बर 1992 में उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में समाजवादी पार्टी की स्थापना हुई थी। आज उस ऐतिहासिक राजनीतिक निर्णय के 25 वर्ष पूरे हो गयें हैं। आज युवा समाजवादी पार्टी, युवा नेतृत्व के हाथों राजनीति की नई इबारत लिखने की तैयारी कर रही है।

जानिये पीएम मोदी का ‘मित्रों’ कहना कितना डरावना..? 

 शत्रुघ्न सिन्हा ने भाजपा की खोली पोल, गुजरात और हिमाचल के चुनाव को लेकर जानिये क्या कहा ?

 बिग बॉस के घर मे ये क्या हुआ ढिंचैक पूजा के साथ…?

अपने स्थापना काल से समाजवादी पार्टी की विचारयात्रा में भारतीय राजनीति और लोकतंत्र को सशक्त करते हुए नए अध्याय जुड़े हैं। अपने प्रस्थान बिंदु से समाजवादी पार्टी निरंतर अन्याय के खिलाफ संघर्ष और लोककल्याणकारी कार्यों की शुरूआत के लिए राजनीतिक फलक पर अपनी अलग पहचान बनाए हुए हैं।

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा- #ToiletChorNitish, देखिये कमेंट्स और चुटीले पोस्टर

कांग्रेस का मोदी पर गंभीर आरोप, कहा-महिलाओं के साथ किया बड़ा विश्वासघात

ये शिवसेना ने ममता बनर्जी की तारीफ की, या भाजपा की पोल खोली ?

समाजवादी पार्टी की वैचारिक एवं सांगठनिक पृष्ठभूमि जहां स्वतंत्रता आंदोलन को लिए हुए हैं वहीं आचार्य नरेंद्र देव, जय प्रकाश नारायण, डा0 राममनोहर लोहिया से होते हुए चौधरी चरण सिंह तक की विरासत को भी समेटे है। समाजवादी पार्टी लोकतंत्र, समाजवाद और सामाजिक सद्भाव के लिए प्रतिबद्ध रही है। सांप्रदायिक ताकतों को मुंहतोड़ जवाब देने का काम यही पार्टी करती आई है। गांव-गरीब के साथ इसका जुड़ाव रहा है। किसान, नौजवान, महिलाओं सहित समाज के सभी वर्गों के हित की चिंता समाजवादी पार्टी ही करती है।

सीबीआई के आरोपी नेता को भाजपा में शामिल होते ही, मोदी सरकार ने वाई प्लस सुरक्षा से नवाजा

अखिलेश यादव की सीएम योगी को सलाह-रंग बदलने से विकास नहीं होता, विकास होने से रंग बदलता है

अभिनेता कमल हासन के खिलाफ वाराणसी मे मुकदमा दर्ज

आज जब देश में लोकशाही की नकली चादर ओढ़कर फासीवादी ताकतों के मुकाबले देश में एक नए राजनीतिक विकल्प के रूप में समाजवादी पार्टी पर सबकी निगाहें हैं। इसका नेतृत्व युवा एवं दूरदर्शी नेता अखिलेश यादव कर रहे हैं जो सिद्धांत और कार्यक्रम के बूते जनआकांक्षाओं को पूरा करने में लगे हैं। एक समतामूलक समाज की स्थापना के लक्ष्य के साथ समाजवादी सरकार में पूरे पांच साल विकास की अविरल धारा बहाने का काम श्री अखिलेश यादव ने किया और समाज के कमजोर और पिछड़े तबके के लोगों की जिंदगी में नई उम्मीदें जगाईं।

एक प्रमुख सहयोगी दल ने, यूपी मे किया बीजेपी से किनारा, जानिये क्यों ?

अमित शाह के बाद, पीएम मोदी के एक और खास के बेटे पर लगे आरोप, सीबीआई जांच की मांग

अब खिचडी बनाने पर बना वर्ल्ड रिकॉर्ड, जानिए कैसे……     

डा0 लोहिया ने समाजवाद का जो रास्ता दिखाया था, उस पर समाजवादी पार्टी ने चलते हुये समाजवादी मूल्यों को मजबूत करने का काम  किया है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने व्यक्तित्व, व्यवहार और कार्यशैली से राजनीति को जनकेन्द्रित बनाया है। वहीं उन्होने देश के गरीबों, कमजोर वर्गों के मन मे यह विश्वास पैदा किया है कि उनके अधिकारों की रक्षा के लिये समाजवादी पार्टी हर स्तर पर संघर्ष करेगी।

फिल्म एक्ट्रेस आईएएस को कर रही थी ब्लैकमेल,जानिए पूरा हाल………

गुरुग्राम की पहली महिला मेयर बनीं मधु आजाद, डिप्टी मेयर सुनीता यादव

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र मे भी नही रूका, एबीवीपी की हार का सिलसिला, समाजवादियों की हुई जय-जय 

समाजवादी पार्टी ने संसद मे राष्ट्रीय स्तर पर सभी धर्म निरपेक्ष दलों मे महत्वपूर्ण स्थान बनाया है। तीसरी सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी होने के लिए समाजवादी पार्टी की कोशिश जारी है। वहीं उत्तर प्रदेश मे एक बड़ी राजनीतिक शक्ति के रूप में उभरी है। अपने विजंनरी नेतृत्व के कारण पार्टी की लोकप्रियता युवाओ मे सर्वाधिक है। जो समाजवादी पार्टी के आने वाले स्वर्णिम भविष्य का संकेत है।

अखिलेश यादव के विकास के बुनियादी ढ़ांचे को, भाजपा सरकार नष्ट कर रही-समाजवादी पार्टी

समाजवादी पार्टी के निकाय प्रत्याशियों को, शिवपाल सिंह ने दिया ये बड़ा तोहफा…

निकाय चुनाव के नतीजों के जरिये त्रस्त जनता, भाजपा सरकार को सिखाये सबक-अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी ने घोिषत किये नगर निकाय प्रत्याशी, देखिये पूरी सूची

युवाओं के बीच, अखिलेश यादव की बढ़ती लोकप्रियता, जानिये क्यों ?

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com