Breaking News

सिंहस्थ 2016 में गुरु और राहु के कारण बनेगा गुरु चाण्डाल योग

simhastha_2_1444978395वर्ष 2016 में मप्र के उज्जैन में सिंहस्थ का मेला लगेगा। सिंहस्थ 22 अप्रैल से 21 मई 2016 तक रहेगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार जब गुरु सिंह राशि में, सूर्य अपनी उच्च मेष राशि में और चंद्रमा तुला राशि में होता है, तब उज्जैन में सिहंस्थ मेले की शुरुआत होती है।
इसलिए कहते हैं सिंहस्थ
गुरु के सिंह राशि में होने पर यह आयोजन होता है, इसलिए इसे सिंहस्थ कहते हैं। उज्जैन में जब सिहंस्थ का मेला लगेगा, तब गुरु चण्डाल योग रहेगा। उस समय सिंह राशि में गुरु के साथ राहु भी रहेगा, इस कारण गुरु चाण्डाल योग बनेगा। सूर्य एवं शुक्र उच्च राशि में रहेंगे। मंगल स्वयं की राशि वृश्चिक में रहेगा। मंगल के साथ उसका शत्रु शनि भी वृश्चिक राशि में ही रहेगा।
1980 में भी बना था ऐसा योग
8 जनवरी 2016 को राहु सिंह राशि में प्रवेश करेगा। इसके बाद गुरु और राहु सिंह राशि में रहेंगे। राहु एवं केतु एक राशि में 18 माह तक रहते हैं। इसलिए राहु 8 जुलाई 2017 को राशि बदलकर कर्क में जाएगा। इस संबंध में पंचांग भेद भी हो सकते हैं। 1980 में गुरु के साथ राहु की युति सिंह राशि में बनी थी और उस समय भी सिंहस्थ का आयोजन हुआ था। तब सिंह राशि में गुरू के साथ शनि एवं मंगल भी थे।

सिंहस्थ में रहेगी बहुत गर्मी

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com