Breaking News

हरियाणा में पीड़ित दलित परिवार पर लाठीचार्ज

हरियाणा के बल्लभगढ़ में दलित परिवार का घर और दो बच्चों को जिंदा जलाए जाने की घटना में अपर कास्ट के हमले में अपने बेटे और बेटी को खो चुके जितेंद्र नाम के दलित शख्स ने दोनों बच्चों का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया। जलाए गए बच्चों के पिता जितेंद्र ने आरोप लगाया कि उन्हें अभी तक प्रशासन से किसी तरह का कोई आश्वासन नहीं मिला है। इस कारण वे विरोध को मजबूर हैं। पीड़ित परिवार ने मांग की है कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। घटना के विरोध में आगरा-दिल्ली नेशनल हाईवे-2 पर चक्काजाम कर रहे लोगों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इसके बाद जाम खुलवाया गया।

Haryanaबढ़ते तनाव के मद्देनजर हरियाणा के सीएम मनोहरलाल खट्टर ने सुनपेड गांव का दौरा टाल दिया। घटना की सीबीआई से जांच कराने की हरियाणा सरकार ने सिफारिश कर दी है। राहुल गांधी जितेंद्र से मिलने सोनपेड गांव पहुंचे। उन्होंने कि कहा लोगों को यहां जिंदा जलाया गया। लोगों की हत्याएं हो रही हैं। लेफ्ट नेता वृंदा करात, आप आदमी पार्टी के नेता आशुतोष, संजय सिंह और किसान नेता योगेंद्र यादव भी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। दिल्ली में हरियाणा भवन के बाहर सामाजिक संगठनों ने विरोध प्रदर्शन किया ।

बल्लभगढ़ के सुनपेड गांव में पिछले एक साल से तनाव है। अक्टूबर 2014 को अपर कास्ट के तीन युवकों की हत्या कर दी गई। तब दलित परिवार पर हत्या का आरोप लगा था। दलितों को डर था कि दबंग पूरी जाति से बदला लेंगे। लिहाजा, जितेंद्र को छोड़ कर बाकी दलित परिवार गांव छोड़ कर चले गए। मंगलवार की रात कुछ लोगों ने जितेंद्र के घर में घुसकर पेट्रोल छिड़का और आग लगा दी और बाहर से दरवाजा बंदकर भाग गए। घटना में बुरी तरह से झुलसे जितेंद्र के दोनों बच्चों की दिल्ली के अस्पताल में मौत हो गई। जितेंद्र और उनकी पत्नी भी घायल हो गए।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com