मुजफ्फरपुर की सामूहिक बलात्कार पीड़िता को नही मिली सुरक्षा-राष्ट्रीय महिला आयोग

नयी दिल्ली, राष्ट्रीय महिला आयोग की एक टीम ने कहा है कि मुजफ्फरपुर में कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार की पीड़ित लड़की अदालत के आदेशों के बावजूद अब तक अपने परिवार से नहीं मिल पाई है और उसे कोई सुरक्षा भी नहीं दी गई है।

बच्चियों के शोषण को लेकर सुर्खियों में आए मुजफ्फरपुर बालिका गृह में रही इस लड़की के साथ गत रविवार को चार लोगों ने पश्चिमी चंपारण जिले में कथित तौर पर दुष्कर्म किया था।

अब रेलवे फ्री में रिचार्ज करेगा, आपका मोबाइल नंबर

700 रुपये महीने में इंटरनेट, मुफ्त फोन कॉल, एचडी टीवी और डिश….

महिला आयोग की टीम ने इस मामले में जांच के लिए एक समिति का गठन किया था। आयोग की टीम ने प्रथम दृष्टया यह पाया कि अदालत के आदेश के बावजूद लड़की अपने परिवार से नहीं मिल पाई है।

समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा, ‘‘लड़की को मुजफ्फरपुर बालिका गृह से मोकामा भेजा गया था। उसके पिता को आवेदन देना था कि वह अपनी बेटी को मोकामा से अपने गृहनगर बेतिया ले जाना चाहते हैं।’’

लखनऊ में ट्रैफिक दबाव को कम करने के लिए, उठाया गया ये बड़ा कदम

शिक्षक और स्टूडेंट्स को पीएम मोदी ने दी ये खास सलाह….

उसने यह भी कहा कि यह लड़की बालिग नहीं होने के बावजूद शादीशुदा है। आयोग की ओर से तैयार रिपोर्ट गृह मंत्रालय, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय तथा दूसरे संबंधित मंत्रालयों को सौंपी गयी है।

महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने पीड़िता और उनके परिवार से मुलाकात की। उन्होंने पटना के पुलिस अधीक्षक को निर्देश भी दिया कि लड़की को पूरी सुरक्षा में पुनर्वास केंद्र भेजा जाए।

ये पीसीएस अफसर बनीं मिसेज इंडिया 2019….

केंद्रीय कर्मचारियों को लेकर सरकार कर सकती है ये बड़ा ऐलान

कुत्ते की मौत पर रक्षा मंत्री दुखी, पूरे सम्मान के साथ हुई विदाई

इन सरकारी कर्मचारियों का बढ़ा वेतन और भत्ता…

जब इंसान के सिर पर निकल आया ‘सींग’, मामला देख डॉक्टर भी रह गए हैरान….

यूपी का पहला रोप-वे इस जिले मे हुआ शुरू, अब नही चढ़नी पड़ेंगी सैकड़ों सीढ़ियां