Breaking News

राहुल के विस्फोटक शतक के सामने विराट का चैलेंज ध्वस्त

राहुल के विस्फोटक शतक के सामने विराट का चैलेंज ध्वस्त

दुबई, कप्तान लोकेश राहुल की मात्र 69 गेंदों पर 14 चौकों और सात छक्कों की मदद से बनी नाबाद 132 रन की विस्फोटक शतकीय पारी की मदद से किंग्स इलेवन पंजाब ने सुपरस्टार विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को गुरुवार को आईपीएल मुकाबले में 97 रन से रौंद कर टूर्नामेंट में दो मैचों में पहली जीत दर्ज की जबकि बेंगलुरु को दो मैचों में पहली हार का सामना करना पड़ा।

राहुल के विस्फोट से पंजाब ने 20 ओवर में तीन विकेट पर 206 रन का विशाल स्कोर बनाया और विशाल स्कोर के दबाव में बेंगलुरु की टीम 17 ओवर में मात्र 109 रन पर ढेर हो गयी और उसे शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। बेंगलुरु की हार इसलिए भी ज्यादा शर्मनाक रही कि स्टार बल्लेबाजों से सजी बेंगलुरु की टीम कुल मिलाकर राहुल के स्कोर के आसपास भी नहीं पहुंच सकी। बेंगलुरु की टीम राहुल के 132 के स्कोर से 23 रन पीछे रह गयी।

सलामी बल्लेबाज राहुल को उनकी रिकॉर्डतोड़ पारी के लिए मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया। उन्होंने 62 गेंदों में अपना शतक पूरा किया और आईपीएल के इतिहास में एक कप्तान का सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया। उनका आईपीएल में यह दूसरा शतक और उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर था। राहुल ने 19वें ओवर में तेज गेंदबाज डेल स्टेन की पहली दो गेंदों पर छक्का और चौका मारकर अपना शतक पूरा किया। इस आईपीएल का यह पहला शतक था।

राहुल ने बेंगलुरु के गेंदबाजों की इस कदर धुनाई की कि अंतिम तीन ओवरों में 60 रन पड़े। राहुल के शतक में बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली का योगदान रहा जिन्होंने दो बार राहुल को जीवनदान दिया।

विराट ने 17वें ओवर में स्टेन की आखिरी गेंद पर राहुल का कैच छोड़ा तो उनका स्कोर 83 रन था। अगले ओवर में नवदीप सैनी की आखिरी गेंद पर विराट ने फिर राहुल का स्कोर छोड़ा, उस समय पंजाब के कप्तान का स्कोर 89 रन था।

इन दो जीवनदान के बाद राहुल ने आखिरी दो ओवर में 49 रन ठोक डाले। उन्होंने शिवम दुबे की पारी की अंतिम तीन गेंदों पर चौका, छक्का और छक्का उड़ाए जिससे पंजाब का स्कोर 206 रन पहुंच गया। अंतिम चार ओवरों में 74 रन पड़े।

मयंक अग्रवाल ने 20 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 26, निकोलस पूरन ने 18 गेंदों में 17 और करुण नायर ने आठ गेंदों में दो चौकों की मदद से नाबाद 15 रन का योगदान दिया। बेंगलुरु के लिए स्टेन चार ओवर में 57 रन लुटाकर सबसे महंगे गेंदबाज साबित हुए। शिवम दुबे ने 33 रन पर दो विकेट और युजवेंद्र चहल ने 25 रन पर एक विकेट लिया।

कप्तान विराट ने अपनी टीम को काफी निराश किया। विराट ने राहुल के दो कैच टपकाये और बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए पांच गेंदों में एक रन बनाकर आउट हो गए। बेंगलुरु की शुरुआत बेहद खराब रही और उसने तीसरे ओवर तक चार रन पर तीन विकेट गंवा दिए। बेंगलुरु का चैलेंज इस शुरुआत के साथ ही समाप्त हो गया।

देवदत्त पडिकल एक और जोश फिलिप खाता खोले बिना आउट हुए जबकि विराट एक रन बनाकर पवेलियन लौट गए। शेल्डन कॉट्रेल ने पडिकल और विराट का शिकार किया। फिलिप को मोहम्मद शमी ने पगबाधा किया।

आरोन फिंच और एबी डिविलियर्स ने चौथे विकेट के लिए 49 रन की साझेदारी की लेकिन बड़े लक्ष्य का दबाव बेंगलुरु पर हावी हो गया था। फिंच को लेग स्पिनर रवि बिश्नोई ने बोल्ड किया जबकि डिविलियर्स को टीम के दूसरे लेग स्पिनर मुरुगन अश्विन ने आउट किया। डिविलियर्स के आउट होते ही बेंगलुरु का संघर्ष समाप्त हो गया और टीम घिसटते-घिसटते 17 ओवर में ढेर हो गयी।

फिंच ने 21 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 20 रन और डिविलियर्स ने 18 गेंदों में चार चौकों और एक छक्के की मदद से 28 रन बनाये। वाशिंगटन सुंदर ने 27 गेंदों में दो चौकों और एक छक्के की मदद से सर्वाधिक 30 रन बनाये। शिवम दुबे ने 12 गेंदों में एक छक्के के सहारे 12 रन बनाये।

पंजाब की तरफ से कॉट्रेल ने 17 रन पर दो विकेट, रवि बिश्नोई ने 32 रन पर तीन विकेट और अश्विन ने 21 रन पर तीन विकेट लिए।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com