भुल्लर ने जीता इंडोनेशिया ओपन खिताब

bullerजकार्ता, भारतीय गोल्फर गगनजीत भुल्लर ने  चार अंडर पार 48 का कार्ड खेलकर करियर में दूसरी बार तीन लाख डॉलर की ईनामी राशि वाला इंडोनेशिया ओपन गोल्फ टूर्नामेंट खिताब अपने नाम कर लिया। अनुभवी गोल्फर भुल्लर ने वर्ष 2013 में भी इंडोनेशिया ओपन खिताब अपने नाम किया था। भुल्लर ने सातवीं बार एशियन टूर खिताब जीता है। यह उनका इस सत्र में दूसरा खिताब भी है। पोनडोक इन्दाह गोल्फ कोर्स में हुये टूर्नामेंट में भुल्लर ने आखिर में चार अंडर पार 78 का कार्ड खेला और कुल 16 अंडर पार 272 के स्कोर के साथ खिताब जीता।

भुल्लर ने सोमवार को अपने तीन शेष होल पर खेल पूरा किया क्योंकि बारिश के कारण रविवार को खेल रद्द करना पड़ा था। अन्य भारतीय गोल्फर और दो बार के एशियन टूर नंबर वन जीव मिल्खा भसह संयुक्त दूसरे स्थान पर रहे। यह मिल्खा का 2012 के बाद सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। वह 17वें होल पर बोगी खेल बैठे लेकिन फिर 72 का कार्ड खेल उन्होंने संयुक्त दूसरा स्थान खेला। थाईलैंड के दानथाई बूनमा ने 67, पनूफोल पितायारात ने 68, जोहान्स वीरमन ने 69 का कार्ड खेला और मिल्खा के साथ कुल 275 के स्कोर के साथ संयुक्त दूसरे स्थान पर रहे। इससे पहले 28 वर्षीय भुल्लर ने रविवार को सात होल पर पांच बर्डी खेली। लेकिन फिर बारिश के कारण बाद का मैच नहीं हो सका और उन्होंने बाकी तीन होल पर गेम पूरा किया और पार स्कोर के साथ दो महीने में अपना दूसरा टूर्नामेंट जीत लिया।

भुल्लर पांचवें गोल्फर हैं जिन्होंने दो बार इंडोनेशिया ओपन का खिताब जीता है। उनसे पहले थाईलैंड के थावोर्न विराचांट, न्यूजीलैंड के फ्रैंक नोबिलो, फिलीपींस के फ्रैंकी मिनोजा और चीनी ताइपे के लू सी चुएन ने दो बार यहां जीत दर्ज की है। भारतीय गोल्फर ने जीत के बाद कहा सोमवार को मेरे लिए फिनीश करना आसान नहीं था, क्योंकि मेरे पास केवल दो शाट की ही बढ़त थी और मैं रात भर सो नहीं पाया जिससे मेरे लिए फोकस करना मुश्किल हो गया था। उन्होंने कहा मैंने आखिर समय में अपना पूरा ध्यान केवल अंतिम तीन होल पर लगाया और मैं जीत के साथ संपन्न कर खुश हूं। मुझे खुद पर गर्व है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *