Breaking News

यूपी के इन जिलों में किसानों ने की आत्महत्याएं, भाजपा सरकार जिम्मेदार-अखिलेश यादव

 लखनऊ, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा जबसे सत्ता में आई है यूपी के कई जिलों में किसानों ने आत्महत्याएं की हैं। उन्होने कहा कि किसान फसलों की बढ़ती लागत और गलत सरकारी नीतियों के चलते कर्ज में डूबता जा रहा है और विवश होकर आत्महत्या तक कर लेता है।

भाजपा ने सभी मेयर प्रत्याशियों का किया एलान

सेना कर रही कई पदों पर भर्ती, लीजिये भाग, जानिये पूरा विवरण

शिवसेना ने बीजेपी के 350 से अधिक सीटें जीतने की, निकाली हवा, जानिये कैसे ?

अखिलेश यादव ने कहा आज देश में अन्नदाता किसान की परेशानियों पर भाजपा की नज़र नहीं है। उसे अपनी खेती और परिवार बचाए रखने के लिए बैंकों और साहूकारों के सामने कर्ज के लिए गिड़गिड़ाना पड़ता है और फिर जब दूसरा रास्ता नहीं सूझता तो फांसी के फंदे पर झूल जाता है। अभी पिछले दिनों प्रदेश में बांदा, फतेहपुर, सहारनपुर, इटावा, सहित कई जिलों में किसान आत्महत्याएं कर चुके हैं।

अखिलेश यादव ने चुनाव को लेकर जाहिर की शंका, कार्यकर्ताओं को किया सतर्क

बांदा जेल मे एक कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

राष्ट्रपति की बहू ने किया बीजेपी से बगावत, मचा हड़कंप…..

     अखिलेश यादव ने कहा कि ताजा घटनाओं मे सहारनपुर में थाना नकुड के ग्राम नल्हेड़ा में कर्ज से परेशान किसान प्रवीण कुमार ने अपनी जान दे दी। हापुड़ जनपद में बहादुरगढ़ थाना क्षेत्र के गांव लुहारी के कर्जदार किसान योगेश (35) ने परेशान होकर आत्महत्या कर ली। ऐसे ही कई मामले हैं जिनसे किसानों का एक वर्ग अब खेती करना ही नहीं चाहता है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कृषि प्रधान देश में कृषि और कृषक के साथ भाजपा सरकारें दुर्व्यवहार कर रही हैं।

ये क्या किया हार्दिक पटेल ने अखिलेश यादव के साथ?

भाजपा सरकार से त्रस्त जनता, समाजवादी प्रत्याशियों को जितायेगी-अखिलेश यादव

 सपा ने सभी मेयर प्रत्याशियों की आधिकारिक घोषणा की, देखिये किसकी कितनी हिस्सेदारी ?

अखिलेश यादव ने कहा कि सत्तारूढ़ दल भाजपा की गलत नीतियों के चलते किसान की हालत बद से बदतर होती जा रही है। उसे समय से न तो पर्याप्त बिजली मिलती है और नहीं लाभकारी समर्थन मूल्य। सिंचाई, खाद, बीज के लिए भी उसे परेशान होना पड़ता है।

सपा ने लखनऊ में शेष पार्षद प्रत्याशियों की सूची जारी की…..

बीएसपी ने अपने लखनऊ पार्षद प्रत्याशियों की सूची जारी की…..

प्रद्युम्न मर्डर केस में सीबीआई ने किया नया खुलासा……….

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा जबसे सत्ता में आई है किसानों की सबसे ज्यादा उपेक्षा होने लगी हैं। चुनावों के माहौल में भाजपा नेतृत्व ने किसानों के लिए बहुत घड़ियाली आंसू बहाते हुए उनकी बेहतरी के लिए बड़े-बड़े वादे किए थे। लेकिन सत्ता में आने के बाद उनकी प्राथमिकताएं बदल गईं। गांव-किसान खेत की उपेक्षा होने लगी हैं। किसान फसलों की बढ़ती लागत और गलत सरकारी नीतियों के चलते कर्ज में डूबता जा रहा है और विवश होकर आत्महत्या तक कर लेता है।

नोटबंदी पर सर्वे: PM मोदी के दावों की खुली पोल- जनता त्रस्त, सरकार थी मस्त

आगामी विधानसभा चुनावों में, फेसबुक निभायेगा ये बड़ी जिम्मेदारी….

यूपी – खनन के लिए ई-टेंडरिंग प्रक्रिया को सुप्रीम कोर्ट की हरी झंडी

 अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने अपने चुनाव घोषणापत्र में किसानों का एक लाख तक का कर्ज माफ करने, फसल के उत्पादन लागत का डेढ़ गुना मूल्य देने का वादा किया था। कर्जमाफी के नाम पर किसानों के साथ बड़ा धोखा किया गया। गन्ना किसानों को समर्थन मूल्य में मात्र 10 रूपए की वृद्धि की गई। इससे किसानों का भला होने वाला नहीं। गन्ना किसानों का चीनी मिलों पर अभी भी 926 करोड़ रूपया बकाया है जबकि वादा किया गया था कि सरकार बनने के 120 दिनों में ही सारा बकाया अदा कर दिया जाएगा।

मुलायम सिंह के खिलाफ कार सेवकों पर गोली चलाने का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुँचा..जानिये पूरा हाल ?

विश्व चैम्पियन मेरीकाम एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंची

 कांग्रेस ने आरक्षण के लिए दिए तीन विकल्प, हार्दिक पटेल के समर्थन की संभावना बढ़ी

पूर्व मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आलू किसानों के साथ तो और भी ज्यादा धोखाधड़ी की गई है। सरकार ने आलू खरीद का सपना दिखाया पर कहीं आलू क्रय केन्द्र नहीं खुले। पुराना आलू कोल्ड स्टोरेज से निकाला नहीं जा रहा है क्योंकि वह घरों में सड़ रहा है। जमाखोरों की पौ बारह है। किसान को मंहगे बीज, खाद और आयातित कीटनाशकों की खरीद में कर्जदार होना पड़ रहा है। अनुमान है कि खरीफ की प्रमुख फसलों धान, मक्का, सोयाबीन, मूंगफली, कपास, की खेती पर लागत से कम मूल्य मिलने पर किसानों को 35,968 करोड़ रूपए का नुकसान उठाना पड़ेगा।

नोटबंदी का जश्न मनाने पर, अखिलेश यादव का भाजपा सरकार पर हमला, जानिये क्या कहा ?

नोटबंदी के दौरान हुई पीड़ा का प्रतीक है, अखिलेश यादव का खजांची, मनायेगा पहला जन्मदिन

कांग्रेस ने लखनऊ मेयर पद के लिये उतारा पूर्व IAS को, गोरखपुर और इलाहाबाद मे ये बने प्रत्याशी     

      पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों के प्रति समाजवादी सरकार का रवैया संवेदनशील था। समाजवादी सरकार ने गन्ना किसानों को 40 रूपए एक मुश्त बढ़ाकर समर्थन मूल्य दिया था। किसानों को मुफ्त सिंचाई, बीमा की सुविधा दी थी। किसानों का 50 हजार रूपए तक का कर्ज माफ कर दिया था। गांवों के लिए 75 प्रतिशत धनराशि बजट में रखी थी। किसानों के लिए मंडी स्थल, खाद्य प्रसंस्करण केन्द्रों की सुविधा दी गई थी। दुग्ध उत्पादन और दुग्ध मण्डियों में वृद्धि हुई थी और किसान को उसकी फसल का लाभकारी मूल्य मिला था।

 नोटबंदी को मोदी अपनी बड़ी गलती के रूप मे स्वीकारें, सुधार के लिए करें काम-पूर्व PM मनमोहन सिंह

पैराडाइज दस्तावेजों में नाम आने पर, मोदी सरकार के मंत्री ने दी सफाई, सांसद ने किया मौन व्रत

प्रधानमंत्री मोदी ने की इस दैनिक अखबार की प्रशंसा, जानिये क्यों ?

नगर निकाय चुनावों मे जीत के लिये, अखिलेश यादव ने कार्यकर्ताओं से की ये अपील…

देखिये, कालेधन के दस्तावेजों ‘पैराडाइज पेपर्स’ मे दिग्गजों के नाम, चौंक जायेंगे आप

जानिये पीएम मोदी का ‘मित्रों’ कहना कितना डरावना..? 

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com