Breaking News

अखिलेश यादव को बड़ा झटका ,पत्नी के अपमान पर करीबी नेता ने छोड़ी पार्टी

लखनऊ, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को बड़ा राजनैतिक झटका लगा है। अखिलेश यादव के करीबी नेता ने पत्नी के अपमान पर पार्टी से त्यागपत्र दे दिया है।

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने, महिलाओं के लिये की बड़ी घोषणा

समाजवादी पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल यादव ने पार्टी के सभी पदों के साथ-साथ प्राथमिक सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया है। अनिल यादव ने अपने इस्तीफे में लिखा है- ‘यह वह समाजवादी पार्टी नहीं है, जिसका मैं सच्चा सिपाही हूं।’  अखिलेश यादव को भेजे अपने इस्तीफे में अनिल यादव ने आरोप लगाया है कि उनकी पत्नी और कांग्रेस की सोशल मीडिया इंचार्ज पंखुड़ी पाठक के खिलाफ समाजवादी के कुछ नेताओं ने अभद्र और आपत्तिजनक टिप्पणियां की हैं, इससे वह आहत हैं।  उनके आरोपों पर कोई जवाब नहीं दिया गया। इतना ही नहीं, इस मुद्दे पर अनिल यादव पर ही चुप रहने के लिए दबाव बनाया गया।

इस बाबत उन्होंने ट्वीट पर एक वीडियो भी अपलोड किया है।वीडियो मे उन्होने कहा है  ‘लगभग 10 साल का साथ यहीं समाप्त हुआ। सपा में मुझे बेहिसाब सम्मान और प्यार मिला। जिसका मैं आभारी हूं, लेकिन यकीन मानिए अपमान में भी कोई कसर नहीं छोड़ी।जिस पार्टी से अब हम अपने घर की महिलाओं के सम्मान की अपेक्षा नहीं कर सकते, उससे सर्व समाज के सम्मान और उत्थान की क्या उम्मीद रखें?”

अनिल यादव ने आगे लिखा है, “यह सब भारी मन से लिख रहा हूं। क्योंकि कभी सोचा नहीं था कि मैं सपा छोड़ पाऊंगा, लेकिन अंत में यही कहूंगा कि क्या सपा इतनी कमजोर है कि एक फोटो से अस्तित्व खतरे में आ जाता है और किसी महिला को इस तरह गालियां दी जाती हैं। जो साथी मुझसे सफर में जुड़े, उनसे मेरे रिश्ते व्यक्तिगत थे और रहेंगे और मैं एक भाई की तरह आपके लिए हमेशा खड़ा रहूंगा। मेरी शुभकामनाएं समाजवादी पार्टी और अखिलेश यादव जी को।’

ट्विटर हैंडल पर अनिल यादव ने लिखा- ‘कल एक तस्वीर वायरल हुई। जिसमें अखिलेश जी पर आमजन को टीका टिप्पणी करने का मौका मिला। कांग्रेस ने भी उस तस्वीर को प्रियंका जी की तस्वीर के साथ लगाकर कटाक्ष किया और मेरी पत्नी पंखुड़ी ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ता की पोस्ट को शेयर किया। जिसके बाद बहुत सारे सपा के लोगों ने पंखुड़ी को अभद्र व अशोभनीय बातें लिखनी शुरू कर दीं। हालांकि, मैं सोशल मीडिया पर लिखी किसी चीज को महत्व नहीं देता, लेकिन कुछ तो इतनी घटिया थीं कि कोई आम आदमी अपने घर की महिला के बारे में ऐसा देखे तो सह ना सके। उन्होंने आगे लिखा, “पंखुड़ी ने पुलिस कंप्लेंट कर दी। जिस पर विधिवत कार्यवाही जारी है, लेकिन पार्टी की तरफ से उस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई। उल्टा मुझे लोगों ने पंखुड़ी को समझाने की नसीहत देनी शुरू कर दी। सुबह जब में उठा तो मैंने देखा कि मुझे सपा के सभी अधिकारी व्हाट्सएप ग्रुप से निकाल दिया गया है। जिसका सीधा संदेश मुझे समझ आ गया है। इसलिए मैं सपा की प्राथमिक और आजीवन सदस्यता से इस्तीफा देता हूं।’

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारी में जुटे अखिलेश यादव को पंखुड़ी पाठक के बाद अब अनिल यादव के इस्तीफे से बड़ा झटका लगा है। सूत्रों के अनुसार,  वह कांग्रेस पार्टी में भी शामिल हो सकते हैं, वैसे भारतीय जनता पार्टी का विकल्प भी उनके पास है।

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com