Breaking News

सीएम योगी ने उच्चस्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा की, दिये ये निर्देश

लखनऊ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा की।

उन्होने जिलों में तैनात नोडल अधिकारियों से वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव तथा उपचार का नियमित रूप से फीडबैक प्राप्त करने के निर्देश देते हुए कहा कि उनके सुझावों पर तत्काल निर्णय लेते हुए जरूरी कार्रवाई की जाए।

श्री योगी ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव तथा उपचार का जिलों में तैनात नोडल अधिकारियों से नियमित रूप से फीडबैक लिया जाय। नोडल अधिकारियों के सुझावों पर तत्काल जरूरी कार्रवाई की जाए।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए हर स्तर पर सतर्क व सावधान रहना आवश्यक है। अनलाॅक-2 के दौरान संचालित विभिन्न गतिविधियों में संक्रमण से सुरक्षा सम्बन्धी प्रोटोकाॅल का कड़ाई से पालन कराया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि लोग दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी के नियम का पालन करें। सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने के लिए लोगों को प्रेरित व प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने कोरोना के संक्रमण से बचाव के सम्बन्ध में जनता को जागरूक करने के लिए प्रचार-प्रसार की कार्रवाई को जारी रखने के निर्देश भी दिए।

श्री योगी ने कहा कि पुलिस द्वारा प्रभावी पेट्रोलिंग का कार्य जारी रखा जाए। कहीं भी पब्लिक गैदरिंग न हो। कन्टेनमेंट जोन में पूरी सख्ती बरती जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि कन्टेनमेंट जोन में लोगों को आवश्यक सामग्री की उपलब्धता में कोई दिक्कत का सामना न करना पड़े। उन्होंने सरकारी एवं निजी संस्थाओं में कोविड हेल्प डेस्क के सुचारु संचालन पर भी बल दिया।

उन्होंने कहा कि गाजियाबाद में स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ बनाने के विशेष प्रयास करते हुए कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जाएं। उन्होंने गाजियाबाद में स्वास्थ्य विभाग तथा चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों को कैम्प करने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने तथा मृत्यु की दर को कम करने में सर्विलांस टीम की बड़ी भूमिका है। उन्होंने सर्विलांस टीम द्वारा पूरी सक्रियता से सर्विलांस का कार्य किए जाने पर बल देते हुए कहा कि समय पर मरीज को अस्पताल पहुंचाने से इलाज करके रोगी की जान बचाई जा सकती है। उन्होंने गाजियाबाद तथा बागपत में सर्विलांस टीम की संख्या में वृद्धि करने के निर्देश दिए।

श्री योगी ने कहा कि अधिक से अधिक टेस्टिंग के उद्देश्य से रैपिड एन्टीजन टेस्ट को बढ़ावा दिया जाए। प्रशिक्षित मेडिकल टीम तैयार करने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित किए जाएं। आशा वर्कर, भूतपूर्व सैनिक, चिकित्सा सेवा से जुड़े सेवानिवृत्त लोगों आदि को प्रशिक्षित करते हुए इनका सहयोग लिया जाए।

उन्होंने कहा कि पांच जुलाई से प्रारम्भ होने वाले खाद्यान्न वितरण अभियान को सुचारु ढंग से संचालित करने के लिए सभी प्रबन्ध समय से पूरे कर लिए जाएं। यह सुनिश्चित किया जाए कि खाद्यान्न वितरण कार्य में कहीं भी घटतौली अथवा अन्य कोई अनियमितता न होने पाए।

जिलाधिकारियों द्वारा अभियान की समस्त गतिविधियों की नियमित माॅनिटरिंग की जाए। उन्होंने आकाशीय बिजली से होने वाली जनहानि को न्यूनतम करने के लिए शीघ्र एक कार्य योजना तैयार करने के निर्देश भी दिए।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com