Breaking News

जन्म के पूर्व से मृत्यु के बाद तक संबल योजना गरीबों का संबल है: शिवराज

भोपाल, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बच्चे के जन्म के पूर्व से मृत्यु के बाद तक संबल योजना गरीबों का संबल है। योजना में बच्चे के जन्म से पहले 4 हजार रूपए, जन्म के बाद 16 हजार रूपए, फिर पढ़ाई, राशन, मकान, इलाज और मृत्यु के बाद अनुग्रह सहायता दी जाती है।

श्री चौहान ने आज यहां मिंटो हॉल में आयोजित कार्यक्रम में संबल योजना के 10 हजार 285 हितग्राहियों को 224 करोड़ 08 लाख रूपए की अनुग्रह सहायता राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से उनके खातों में अंतरित की। कार्यक्रम में खनिज एवं श्रम मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह, सांसद वी डी शर्मा, प्रमुख सचिव उमाकांत उमराव और श्रमायुक्त आशुतोष अवस्थी आदि उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली सरकार ने गरीबों को योजना का लाभ देना बंद कर दिया था। हमारी सरकार ने योजना को दोबारा चालू किया है तथा प्रत्येक गरीब का योजना में पंजीयन किया जाकर, लाभ दिलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार ने तय किया है कि वर्ष 2024 तक कोई गरीब कच्चे मकान में नहीं रहेगा। सबकी पक्की छत होगी। साथ ही हर घर में नल से पानी दिया जाएगा।

श्री चौहान ने कहा कि समाज में जो सबसे पीछे और सबसे नीचे है, उसका मध्यप्रदेश सरकार सबसे पहले ध्यान रखती है। सरकार हर गरीब के लिए रोटी, कपड़ा, मकान, पढ़ाई-लिखाई तथा दवाई का इंतजाम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में मजदूरों के बच्चों को अच्छी शिक्षा देने के लिए 4 श्रमोदय विद्यालय संचालित हैं। शिक्षा विस्तार की दृष्टि से प्रदेश में और श्रमोदय विद्यालय खोले जाएंगे।

उन्होंने कहा कि संसाधनों पर सबका अधिकार है। हम सभी गरीबों को उनके अधिकार दिलाएंगे। जो अधिक कमाते हैं उनसे टैक्स लेंगे और जिनके पास नहीं है उन्हें सहायता करेंगे। उन्होंने बैतूल जिले की मुमताज बानो से संवाद (वर्चुअल) के दौरान कहा कि ‘संबल, सरकार और शिवराज आपके साथ हैं।’ मुमताज बानो ने बताया कि अनुग्रह राशि के 2 लाख रूपए से वे बकरी पालन तथा किराने की दुकान करेंगी। उनके पति की कैंसर से मृत्यु हो गई थी।

मुख्यमंत्री ने जबलपुर की राशि देवलिया, बड़वाह की यशोदा बाई कुशवाह एवं उज्जैन की ममता सिकरवार से संवाद के दौरान कहा कि वे अपने को अकेला न समझें। हम हर संकट में आपके साथ हैं। आपका भाई आपके साथ खड़ा है। ‘संबल’ से मिली राशि का सदुपयोग करिए। बच्चों को पढ़ाइए।

श्रम मंत्री श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान की सबसे संवेदनशील योजना है ‘संबल’ योजना। योजना से अभी तक प्रदेश में 1 लाख 80 हजार हितग्राहियों को 1483 करोड़ रूपए का हितलाभ वितरित किया गया है। योजना में 1 लाख 92 हजार प्रवासी मजदूरों का भी पंजीयन कर उन्हें लाभ दिया जा रहा है।

सांसद वीडी शर्मा ने कहा कि संबल योजना प्रदेश में गरीबों का संबल बन गई है। इस योजना की प्रत्येक राज्य में सराहना हो रही है। कोविड संकट के दौरान भी निरंतर गरीबों को योजना का लाभ मिला। मध्यप्रदेश सरकार गरीबों के प्रति समर्पित सरकार है। सरकार ने अभी तक गरीबों एवं किसानों के खातों में 82 हजार करोड़ रूपए की राशि डाली है। कार्यक्रम का शुभारंभ श्री चौहान ने बेटियों के पूजन के साथ किया। इस अवसर पर मध्यप्रदेश गान हुआ।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com