बुकशैल्फ से बढ़ाएं घर का आकर्षण

कई लोगों को आराम के पलों में घर के शांत कोने में आराम कुर्सी पर बैठ कर कोई पुस्तक पढने से ज्यादा सुकून किसी और तरह से नहीं मिलता है। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी के बीच पुस्तक पढना व्यक्ति को एक दूसरी ही शांत दुनिया में ले जाता है। यूं ही तो पुस्तकों को इंसान की सच्ची दोस्त नहीं कहा जाता है। ये जीवन जीने की प्रेरणा देने से लेकर निराशा दूर करने में भी बहुत सहायक होती हैं। इतना ही नहीं, यदि आपके पास पुस्तकों का अच्छा संग्रह है तो उन्हें सुंदर-सी बुकशैल्फ पर सजा कर आप अपने घर को एक अलग ही लुक भी प्रदान कर सकते हैं।

इंटीरियर को एक नया रूप बुकशैल्फ न केवल पुस्तकों को सहेजने के काम आती हैं, इंटीरियर को एक खास रूप भी देती हैं। स्थान की कमी हो तो अलमारी के भीतर भी किताबें रखी जा सकती हैं वहीं अगर स्थान कोई समस्या नहीं है तो बेहतर होगा कि उन्हें यूं ही एक स्थान पर ढेर करने के स्थान पर एक उपयुक्त स्थान पर बुकशैल्फ पर सहेज कर रखा जाए। बजट तथा स्थान का ध्यान रखें बुकशैल्फ डिजाइन करवाते वक्त सबसे पहले बजट तथा उपलब्ध स्थान का ध्यान रखें। मॉड्यूलर बुकशैल्फ, हैडबोर्ड बुकशैल्फ, कोर्नर बुकशैल्फ, वॉल माऊंटेड बुकशैल्फ तथा बिल्ट-इन बुकशैल्फ जैसे कई विकल्प आपके पास होंगे।

वॉल माऊंटेड यानी दीवार पर टांगे जाने वाले और बिल्ट-इन बुकशैल्फ स्थान बचाते हैं। हालांकि, बिल्ट-इन बुकशैल्फ के लिए आपको पहले से योजना बना कर उपयुक्त ऊंचाई का ध्यान रखते हुए स्थान छोडना होगा ताकि बाद में समस्या पेश न आए। खुली शैल्फ से बुकशैल्फ पर किताबें रखने या उठाने में सरलता होगी। बुकशैल्फ का विशेष ध्यान रखें टिकाऊ तथा इस्तेमाल में सरल होने कैी वजह से लकड़ी की बुकशैल्फ ज्यादा लोकप्रिय हैं परंतु अब ग्लास की बुकशैल्फ भी सुंदरता की वजह से पसंद की जाने लगी है। लकड़ी जहां सादी लुक देती है वहीं ग्लास कुछ आधुनिक छवि प्रदान करता है। यदि आपको ग्लास की बुकशैल्फ पसंद है तो इस बात का ध्यान रखें कि भारी किताबें रखने के लिए इसमें मजबूत कांच का प्रयोग करना होगा। नियमित सफाई जरूरी बुकशैल्फ का उपयुक्त रखरखाव भी आवश्यक है। नियमित सफाई से किताबें तथा शैल्फें धूल से मुक्त रहेंगी। यदि आप वैक्यूम क्लीनर से सफाई करते हैं तो इसे साफ करने के लिए छोटे ब्रश वाले हिस्से का प्रयोग करें।