Breaking News

अमेठी मे ट्रिपलआईटी बंद करने का फैसला उचितः जावड़ेकर

javedakarनई दिल्ली,  उत्तर प्रदेश के अमेठी स्थित भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईआईटी) को बंद किए जाने को उचित ठहराते हुए मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कानून ऐसे ऑफ कैम्पस सेंटर को अनुमति नहीं देता और वहां की सुविधाओं से छात्र भी नाखुश थे। जावड़ेकर ने राज्यसभा की बैठक शुरू होने पर कहा कि कुछ सदस्यों ने गुरुवार को अमेठी स्थित आईआईआईटी को बंद किए जाने का मुद्दा उठाया था और वह इस पर प्रतिक्रिया देना चाहते हैं। मानव संसाधन विकास मंत्री ने कहा कि अमेठी स्थित आईआईआईटी की मंजूरी वर्ष 2005 में दी गई थी और यह वर्ष 2005-2006 में शुरू हुआ था। यह पूर्णकालिक आईआईआईटी था लेकिन इलाहाबाद में आईआईआईटी का ऑफ कैम्पस है। जावड़ेकर ने कहा कानून आईआईआईटी के ऑफ-कैम्पस केंद्रों की अनुमति नहीं देता। उन्होंने कहा कि अमेठी स्थित राजीव गांधी भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान तकनीकी रूप से अवैध था। इस संस्थान में केवल एक ही स्थायी अध्यापक थे और एक अध्यापक इलाहाबाद से रोज अमेठी आते थे। छात्र इससे नाखुश थे और चाहते थे कि सभी अध्यापक वहां रहें। उन्होंने कहा कि छात्रों ने आंदोलन किया और वह संस्थान का इलाहाबाद स्थानांतरण चाहते थे। जावड़ेकर ने कहा कि आईआईटी कानपुर की अगुवाई में एक समीक्षा की गई और निष्कर्ष निकाला गया कि छात्रों का आईआईआईटी इलाहाबाद स्थानांतरण कर दिया जाए। मानव संसाधन विकास मंत्री ने कहा राजनीतिक प्रतिशोध वाली कोई बात नहीं है। छात्र पढ़ना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि छात्रों ने 29 जुलाई को आईआईआईटी इलाहाबाद संकाय के अध्यापकों का घेराव कर समुचित शिक्षा की मांग की क्योंकि अमेठी परिसर में स्थायी संकाय नहीं है। उन्हें उस शिक्षक को जवाब देना होता था जो चार कक्षाओं को पढ़ाने के लिए आईआईआईटी इलाहाबाद से आता था। कांग्रेस के प्रमोद तिवारी ने कहा कि अगर कोई कानूनी खामी थी तो सरकार ने सत्ता में आने के बाद दो साल में इसे दुरूस्त क्यों नहीं किया। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार ने राजनीतिक प्रतिशोध के चलते कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी के निर्वाचन क्षेत्रों में छह संस्थानों और फैक्टरियों को बंद कर दिया है। तिवारी ने कहा कि आईआईआईटी अमेठी के छात्र संस्थान को बंद किए जाने के विरोध में हड़ताल कर रहे हैं। इस पर जावड़ेकर ने कहा कि अमेठी में लखनऊ स्थित डॉ. अंबेडकर विश्वविद्यालय का एक जनरल साइंस कालेज शुरू किया गया है और आईआईआईटी के कर्मचारियों को वहां समायोजित किया जाएगा। इसके अलावा एक कौशल विकास केंद्र भी वहां खोला जाएगा। उन्होंने कहा कि मानव संसाधन विकास मंत्री बनने के बाद उन्होंने जिन केंद्रीय विद्यालयों को स्वीकृत किया है उनमें से एक केंद्रीय विद्यालय रायबरेली के लिए भी है। जावड़ेकर ने कहा हम गुणवत्ता पर काम करते हैं। उप सभापति पीजे कुरियन ने मंत्री से कहा कि कांग्रेस सदस्य सरकार से कह रहे हैं कि अगर अमेठी परिसर में कोई कानूनी या तकनीकी खामी हो तो उसे देखा जाए। इससे पहले उच्च सदन में दिवंगत पूर्व सदस्य ओन्वर्ड एल नांग्त्डु के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। मेघालय निवासी नांग्त्डु का सात मई को संक्षिप्त बीमारी के बाद 78 वर्ष की उम्र में निधन हो गया था। उन्होंने वर्ष 1996 से 2002 तक उच्च सदन में मेघालय का प्रतिनिधित्व किया था।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com