Breaking News

प्रधानमंत्री के मन की बात ने लोगों की उड़ाई नींद

prime minister narendra modi_650x400_51465148224नई दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से 30 सितंबर तक अपनी अघोषित आय का खुलासा करने की अपील करते हुए कहा कि यह आखिरी मौका है और ऐसा नहीं करने पर तकलीफ का सामना करना पड़ सकता है। मोदी ने रविवार को अपनी 21वीं ‘मन की बात’ में कहा, ‘जिन लोगों के पास अघोषित आय है, उनके लिए भारत सरकार ने एक मौका दिया है कि आप अपनी अघोषित आय को घोषित कर दें। सरकार ने अघोषित आय को घोषित करने की विशेष सुविधा देश के सामने पेश की है। जुर्माना देकर अनेक प्रकार के बोझ से मुक्त हुआ जा सकता है।’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘मैं देशवासियों से कहना भी चाहता हूं कि 30 सितंबर तक की ये योजना है, इसको एक आखिरी मौका मान लीजिए। मैंने बीच में हमारे सांसदों को भी कहा था कि 30 सितंबर के बाद अगर किसी नागरिक को तकलीफ हो, जो सरकारी नियमों से जुड़ना नहीं चाहता है, तो उनकी कोई मदद नहीं हो सकेगी। 30 सितंबर के बाद ऐसा कुछ भी ना हो, जिससे आपको कोई तकलीफ हो। इसलिए भी मैं कहता हूं, अच्छा होगा कि 30 सितंबर के पहले आप इस व्यवस्था का लाभ उठाए और 30 सितंबर के बाद संभावित तकलीफों से अपने-आप को बचा लें।

पीएम मोदी ने कहा, ‘एक जमाना था, जब टैक्स इतने ज्यादा हुआ करते थे कि टैक्स की चोरी करना स्वभाव बन गया था। एक जमाना था, विदेश की चीजों को लाने के संबंध में कई बाधाएं थीं, तो तस्करी भी उतनी ही बढ़ जाती थी। पर धीरे-धीरे वक्त बदलता गया है। अब करदाता को सरकार की कर-व्यवस्था से जोड़ना अधिक मुश्किल काम नहीं है, लेकिन फिर भी पुरानी आदत नहीं जाती है… मैं आज आपसे आग्रह करना चाहता हूं कि हम स्वयं अपनी आय के संबंध में, अपनी संपत्ति के संबंध में, सरकार को अपना सही-सही ब्योरा दें।
उन्होंने कहा, ‘मैंने ये भी वादा किया है कि स्वेच्छा से जो अपनी मिल्कियत के संबंध में, अघोषित आय के संबंध में सरकार को अपनी जानकारी दे देंगे, सरकार उनकी किसी भी प्रकार की जांच नहीं करेगी। इतना धन कहां से आया, कैसे आया – एक बार भी पूछा नहीं जाएगा। इसलिए मैं कहता हूं कि अच्छा मौका है कि आप एक पारदर्शी व्यवस्था का हिस्सा बन जाइए।’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com