Breaking News

”न्यूज 85 डाट इन” समाचार बुलेटिन, रात्रि 8 बजे (21.01.2017)

news-buletanलखनऊ, ”न्यूज 85 डाट इन” की रात्रि 8 बजे की समाचार बुलेटिन मे पेश है आज दिन भर की प्रमुख खबरें- (21.01.2017)

ambika-chaudhry_1484983429सपा के वरिष्ठ नेता अंबिका चौधरी, बसपा मे शामिल, मायावती ने फेफना से दिया टिकट

नई दिल्ली, यूपी चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और अखिलेश सरकार में मंत्री रहे अंबिका चौधरी ने बहुजन समाज पार्टी का दामन थाम लिया है. अंबिका चौधरी, शिवपाल यादव के करीबी माने जाते रहे हैं. अंबिका चौधरी ने कहा कि मुलायम सिंह यादव के साथ अखिलेश यादव ने और उनके लोगों ने जिस तरह का व्यवहार किया है और अपने नेता-पिता को जिस तरह से उन्होंने खारिज करने का काम किया है. पूरे प्रदेश में इसको लेकर उनकी आलोचना और निंदा है और मैं स्वयं भी इससे दुखी हूं.सपा के पारिवारिक झगड़े में अखिलेश यादव ने उन्हें बर्खास्त कर दिया था. अंबिका चौधरी ने कहा है कि मैं बहनजी का धन्यवाद करता हूं. हम प्रदेश में सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ एकजुट हो लड़ेंगे. चौधरी ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा .आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

akhilesh-yadav-rahul-gandhi_650x400_81484636172पीके का प्लान हुआ फ्लाप, सपा और कांग्रेस के बीच नहीं हो सका गठबंधन

लखनऊ,  उत्तर प्रदेश में लम्बे समय से सपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन को लेकर चल रही बातों पर विराम लग चुका है। कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशान्त किशोर का प्लान उत्तर प्रदेश में फ्लाप हो चुका है। सपा और कांग्रेस ने अलग- अलग चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। गौरतलब हो कि समाजवादी पार्टी कांग्रेस से 100 सीटों की मांग की थी। इसके अलावा अमेठी और रायबरेली की अधिकांश विधानसभा सीटों पर कांग्रेस अपने प्रत्याशी उतारना चाह रही थी। कांग्रेस 100 सीटों से कम पर समझौता नहीं करना चाहती थी। वहीं सपा ने शुक्रवार को कांग्रेस के टिकट पर जीते 10 विधायकों की सीटों पर भी अपने प्रत्याशी घोषित करके एक प्रकार से गठबंधन से टूटने का संदेश दे दिया था। इसके बावजूद कांग्रेस का.आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें……………..

mayawatiआरक्षण समाप्त किया तो फिर भाजपा राजनीति करना ही भूल जाएगी- मायावती

लखनऊ, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विचारक मनमोहन वैद्य के आरक्षण को लेकर दिए बयान पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने पलटवार किया है।मायावती ने कहा है कि आरएसएस को संविधान व देशहित में अपनी गलत व जातिवादी मानसिकता बदलने की सख्त जरूरत है। उन्होने कहा कि आरएसएस आरक्षण को समाप्त करने में लगी है मगर यह समाप्त हो गया तो फिर भाजपा राजनीति ही भूल जाएगी। मायावती ने कहा कि अगर आरक्षण हटाना है तो इसके लिए कानून बनाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि आरएसएस-बीजेपी दलित और पिछड़े लोगों के अधिकारों नहीं छीन सकती है। बीजेपी का अब कोई दांव नहीं चलेगा, बिहार की तरह बीजेपी की यूपी में भी हार होगी। बसपा मुखिया ने कहा है कि आरएसएस को संविधान व देशहित में.आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

mayawatiकेंद्र की बीजेपी सरकार की नीतियों से जनता नाराज है-मायावती

लखनऊ, बीएसपी प्रमुख मायावती ने विरोधी दलों पर हमले करते हुए कहा कि केंद्र की नीतियों से जनता नाराज है. गरीब और पिछड़े पीएम मोदी से नाराज हैं. साथ ही उन्‍होंने सपा और कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि सपा के पांच और केंद्र सरकार में नरेंद्र मोदी की ढाई वर्षों की सरकार के दौरान प्रदेश में दलित, पिछलों और जनता में जो नाराजगी है वो किसी से छिपा नहीं है. सपा पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि यूपी में कानून-व्यवस्था ठप है.  मुलायम सिंह पुत्र मोह का नाटक कर रहे हैं. नाटक से वो अखिलेश के दाग धोना चाहते हैं. शिवपाल यादव को बली का बकरा बनाया गया. शिवपाल मुलायम के पुत्र.आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

lalu-prasad-yadavआरक्षण पर आरएसएस के विवादित बोल, बीजेपी को चुनाव मे पड़ेंगे महंगे

जयपुर/पटना,  आरएसएस के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य की आरक्षण नीति की समीक्षा का समर्थन करने संबंधी टिप्पणी से विवाद उत्पन्न हो गया है। वैद्य ने कहा कि यहां तक कि संविधान निर्माता बीआर अंबेडकर ने भी इसके हमेशा जारी रहने का समर्थन नहीं किया था। वैद्य की यह टिप्पणी पांच राज्य के विधानसभा चुनाव में भाजपा को संभावित रूप से नुकसान पहुंचा सकती है। वैद्य ने जयपुर साहित्य महोत्सव में शुक्रवार को एक परिचर्चा में कहा, अनुसूचित जातिः अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षण का विषय एक अलग संदर्भ में आया था। यह उनसे हुए ऐतिहासिक अन्याय को दूर करने के लिए संविधान में मुहैया कराया गया था। वह हमारी जिम्मेदारी थी। उन्होंने कहा, इसलिए उनके लिए आरक्षण का प्रावधान (संविधान में).आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

shivpal-mayawatiशिवपाल पर नरम हुईं मायावती, बोली गुजारिश करने पर देखेंगे

लखनऊ,  विधानसभा चुनाव से पहले सूबे में सियासत के हर रोज नए-नए रंग देखने को मिल रहे हैं। समाजवादी पार्टी  तख्ता पलट की लड़ाई के बाद अभी भी सुर्खियों में बनी हुई है। उसके असन्तुष्ट नेता जहां पाला बदलने में लगे हुए हैं, वहीं इस कड़ी में शिवपाल यादव भी शनिवार को चर्चाओं में आ गए। दरअसल बहुजन समाज पार्टी  की मुखिया मायावती ने जब अपनी प्रेस कान्फ्रेंस में अचानक सपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री अम्बिका चौधरी को पार्टी में शामिल करने की घोषणा की। तो मीडिया की ओर से सवाल उठे कि क्या वह शिवपाल यादव के आने पर.आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

supreme-courtसुप्रीम कोर्ट बजट टालने की याचिका पर 23 जनवरी को करेगी सुनवाई

नई दिल्ली, आम बजट को पांच राज्यों में चुनाव होने के बाद पेश करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई को 23 जनवरी तक के लिए टाल दी है। मामले की सुनवाई कर कर रहे चीफ जस्टिस जगदीश सिंह खेहर और जस्टिस डी.वाई.चंद्रचूड़ की खंडपीठ ने याचिकाकर्ता वकील एम.एल.शर्मा से कानून के उन प्रावधानों का उल्लेख करने को कहा था जिससे केंद्र सरकार को एक फरवरी को बजट पेश करने से रोका जा सके। दरअसल, 13 जनवरी को हुई पिछली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ता से पूछा था कि वह कानून में इस तरह का कोई प्रावधान बताएं जिसके चलते सरकार को बजट समय से पहले पेश करने से रोका जा सके। बता दें कि केंद्र सरकार ने इस बार आम बजट को एक फरवरी को पेश करने की बात कही है। जबकि विपक्षी दलों की मांग है कि पांच राज्यों में विधानसभा के चुनाव को देखते हुए आम बजट को.आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

17-uma-bharti-601आईएएस से काम रुकवाया जा सकता है, लेकिन पहल नहीं करवाई जा सकती-उमा भारती

रायपुर,  केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने नौकरशाहों पर टिप्पणी करते हुए उन्हे पिंजरे में बंद पक्षी कहा है। भारती ने  छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में खाद्य और आजीविका सुरक्षा के लिए जल और भूमि प्रबंधन विषय पर आयोजित तीन दिवसीय प्रथम एशियन सम्मेलन का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने नौकरशाहों के कामकाज के तरीकों पर टिप्पणी की। उन्होंने रायपुर में भूमि जल बोर्ड के कार्यालय को लेकर कहा, बहुत दिनों से जमीन पड़ी थी और पैसा लैप्स हो रहा था। अब चक्कर क्या होता है ब्यूरोक्रेटस के साथ..वह बेचारे पिंजरे में बंद चिड़िया होते हैं। और उससे बाहर नहीं निकलते। अच्छा उनको बाहर निकालो तो ऐसे आएंगे धीरे धीरे। उनसे कोई चीज कैंसिल करवाई जा सकती है, लेकिन पहल नहीं करवाई जा सकती। क्योंकि रद्द करवाना.आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

noteनोटबंदी के बाद रिजर्व बैंक की ओर से जारी आंकड़े, अर्थशास्त्रियों के गले नही उतर रहे

नई दिल्ली, नोटबंदी के बाद रिजर्व बैंक की ओर से जारी आंकड़ों का विश्लेषण कर पाना अर्थशास्त्रियों के लिए भी भारी पड़ रहा है। इस फैसले को लेकर उठ रहे सवालों के बीच अब एक नया आंकड़ा सामने आया है जो अखरने वाला है। केंद्रीय बैंक का कहना है कि 13 जनवरी तक सर्कुलेशन में करीब 9100 अरब रुपये थे। जबकि भारतीयों ने इससे करीब 600 अरब रुपये (9 अरब डॉलर)ज्यादा की निकासी की। आरबीआइ की ओर से संसदीय समिति को सौंपी गई रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। मुंबई की आनंद राठी सिक्योरिटीज में चीफ इकोनॉमिस्ट सुजान हजरा ने कहा कि सामान्य स्थिति में लोगों के हाथों में नकदी को सरकुलेशन में मौजूद करेंसी से कम होना चाहिए। हालांकि, यह भी एक सच है कि आमतौर पर नोटबंदी नहीं होती है। स्थितियां तब और साफ होंगी जब.आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

Raghuram-Rajan-2रघुराम राजन ने मोदी सरकार को दिया था, बड़े नोट जारी करने का सुझाव

नई दिल्ली,  पूर्व रिजर्व बैंक गवर्नर रघुराम राजन ने केंद्र सरकार को 5,000 और 10,000 रुपये के नोट जारी करने का सुझाव दिया था। राजन ने बढ़ती महंगाई के चलते 1,000 रुपये के नोट की कीमत कम होने के चलते यह सुझाव दिया था। आरबीआई की ओर से लोक लेखा समिति के द्वारा दी गई जानकारी में इस बात का खुलासा हुआ। राजन ने अक्टूबर, 2014 में मोदी सरकार को यह सुझाव दिया था। इसके करीब 18 महीने बाद केंद्र सरकार ने मई, 2016 में आरबीआई को बताया था कि.आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

trump-modi-620x400प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप को दी बधाई, कहा -मिलकर काम करने के लिये आशान्वित

नई दिल्ली,  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेने वाले डोनाल्ड ट्रंप को बधाई दी और कहा कि वह द्विपक्षीय संबंधों को प्रगाढ़ बनाने और सहयोग की पूरी क्षमता का दोहन करने के लिए उनके साथ मिलकर काम करने को लेकर आशावान हैं। ट्रंप के शपथ लेने के तत्काल बाद मोदी ने ट्वीट किया, डोनाल्ड ट्रंप, अमेरिका के राष्ट्रपति का पदभार संभालने पर आपको बधाई। आपको शुभकामनाएं कि आप आने वाले वर्षों में अमेरिका को पहले से बड़ी उपलब्धियों की ओर ले जाएं। उन्होंने कहा, भारत-अमेरिका संबंधों को प्रगाढ़ बनाने और सहयोग की पूरी क्षमता का दोहन करने के लिए राष्ट्रपति ट्रंप के साथ.आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें………………

 विस्तार से खबरें जानने के लिये news85.in पर जाकर पूरी खबर पढ़ें,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com