Breaking News

पांडेय के हल्ला बोल से राजस्थान ध्वस्त, हैदराबाद को मिली उम्मीदों वाली जीत

दुबई, आईपीएल इतिहास के पहले भारतीय शतकधारी मनीष पांडेय की नाबाद 83 रन की विस्फोटक पारी और उनकी आलराउंडर विजय शंकर (नाबाद 52) के साथ तीसरे विकेट के लिए 140 रन की अविजित शतकीय साझेदारी के दम पर सनराइजर्स हैदराबाद ने राजस्थान रॉयल्स को गुरूवार को आठ विकेट से हराकर आईपीएल-13 में उम्मीदें जगाने वाली जीत हासिल कर ली।

सनराइजर्स हैदराबाद ने जैसन होल्डर (33 रन पर तीन विकेट) की अगुवाई में अपने गेंदबाजों के सधे हुए प्रदर्शन से राजस्थान रॉयल्स को 20 ओवर में छह विकेट पर 154 रन के सामान्य स्कोर पर रोक लिया और फिर पांडेय तथा शंकर की शानदार बल्लेबाजी से 18.1ओवर में दो विकेट पर 156 रन बनाकर आसान जीत अपने नाम की।

प्लेयर ऑफ द मैच बने मनीष पांडेय ने मात्र 47 गेंदों पर नाबाद 83 रन में चार चौके और आठ छक्के लगाए जबकि शंकर ने उनका बखूबी साथ देते हुए 51 गेंदों पर नाबाद 52 रन में छह चौके लगाए।

हैदराबाद की 10 मैचों में यह चौथी जीत है और उसके आठ अंक हो गए हैं। हैदराबाद अब तालिका में पांचवें स्थान पर आ गया है। लगातार तीन मैच हारकर इस मैच में उतरी हैदराबाद की उम्मीदों को इस जीत ने नया जीवन दे दिया है।

दूसरी तरफ राजस्थान को 11 मैचों में सातवीं हार का सामना करना पड़ा जिससे उसकी उम्मीदों को गहरा झटका लगा है। राजस्थान अब सातवें स्थान पर खिसक गयी है। हालांकि दोनों टीमों को प्लेऑफ की होड़ में बने रहने के लिए अपने शेष सभी मैच जीतने की जरूरत है।

लक्ष्य का पीछा करते हुए हैदराबाद ने कप्तान डेविड वार्नर को पहले और जानी बेयरस्टो को तीसरे ओवर में गंवाया। दोनों विकेट तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने झटके। वार्नर ने चार और बेयरस्टो ने दस रन बनाये। लेकिन इसके बाद आर्चर को आक्रमण से हटाया गया और इसका फायदा उठाते हुए पांडेय ने राजस्थान पर हल्ला बोल दिया। पांडेय ने बेहतरीन छक्के उड़ाते हुए टीम पर छाया सारा दबाव हटा दिया।

पांडेय और शंकर ने तीसरे विकेट के लिए 140 रन की अविजित साझेदारी कर हैदराबाद को आसान जीत दिला दी। पांडेय के जहां छक्के दर्शनीय थे वहीं शंकर के आर्चर के आखिरी ओवर में मारे गए लगातार तीन चौके आकर्षक थे। शंकर ने विजयी चौका मारकर मैच समाप्त किया और अपना अर्धशतक भी पूरा किया।

इससे पहले वार्नर ने मुकाबले में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और उनका यह फैसला सही रहा। हैदराबाद के गेंदबाजों ने राजस्थान के बल्लेबाजों को कोई बड़ी साझेदारी नहीं करने दी। राजस्थान के कई बल्लेबाजों ने अच्छी शुरुआत की लेकिन उसे बड़े स्कोर में नहीं बदल पाए।

संजू सैमसन ने 26 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से सर्वाधिक 36 रन बनाये। सैमसन और बेन स्टोक्स ने दूसरे विकेट के लिए 50 गेंदों में 56 रन की साझेदारी की जो राजस्थान की पारी में सबसे बड़ी साझेदारी रही। सैमसन ने इससे पहले रोबिन उथप्पा के साथ ओपनिंग साझेदारी में 30 रन जोड़े थे।

उथप्पा 13 गेंदों में दो चौकों और एक छक्के की मदद से 19 रन बनाने के बाद जैसन होल्डर के नॉन स्ट्राइकर छोर पर सीधे थ्रो से रन आउट हो गए। सैमसन को होल्डर ने बोल्ड किया। सैमसन का विकेट 86 के स्कोर पर गिरा। इसी स्कोर पर स्टोक्स को खतरनाक लेग स्पिनर राशिद खान ने बोल्ड किया। स्टोक्स ने 32 गेंदों पर 30 रन में दो चौके लगाए।

जोस बटलर नौ रन बनाकर विजय शंकर का शिकार बन गए। होल्डर ने राजस्थान के कप्तान स्टीवन स्मिथ को मनीष पांडेय के हाथों कैच कराया। स्मिथ ने 15 गेंदों पर 19 रन में दो चौके लगाए।

रियान पराग 12 गेंदों में दो चौकों और एक छक्के के सहारे 20 रन बनाकर होल्डर की गेंद पर वार्नर को कैच दे बैठे। शानदार फॉर्म में खेल रहे राहुल तेवतिया 19वें ओवर में जब खेलने उतरे तब उनके पास ज्यादा मौका नहीं बचा था। जोफ्रा आर्चर ने टी नटराजन के पारी के आखिरी ओवर में पहली गेंद पर चौका और आखिरी गेंद पर छक्का मारकर टीम को 150 के पार पहुंचा दिया। आर्चर 16 और तेवतिया दो रन बनाकर नाबाद रहे।

इस आईपीएल में पहला मैच खेलने उतरे होल्डर ने चार ओवर में 33 रन देकर तीन विकेट लिए। शंकर और राशिद को एक-एक विकेट मिला जबकि नटराजन ने चार ओवर में 46 रन लुटाये।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com